सेक्स आम जिंदगी की बाकी प्रक्रियाओं की तरह ही एक आम जीवन प्रक्रिया है पर लोग इसे आज भी एक हौआ मानते हैं। लोग अक्सर सेक्स के बारे में खुल कर बात नहीं करते क्योंकि उनके हिसाब से ये काफी निजी मामला है। पर फिर भी क्स से जुड़े मिथ्स हैं जिन पर हमें विश्वास नहीं करना चाहिए क्योंकि ये कई बार हमारे लिए खतरनाक भी हो सकते हैं। जानिए ये 5 मिथ्स

1. पेनिस का साइज बड़ा होना चाहिए

ऐसे तो लोग सेक्स के बारे में खुल कर बात करने से कतराते हैं पर फिर भी उनकी अनेकों धारणायो में से एक धारणा है कि पेनिस का साइज जितना बड़ा हो उतना अच्छा जबकि ऐसा कुछ नहीं होता। सेक्स के दौरान पेनिस का साइज नहीं, लोगों के दिल और उनकी understanding अच्छी होनी चाहिए।

2. पहली बार सेक्स में ब्लीड करना

समाज में ये माना जाता है कि अगर पहली बार सेक्स करते वक़्त लड़की ब्लीड करे तो वह virgin और पवित्र है। ये समाज में औरतों को एक नीचे तबके में रखने के लिए इस्तेमाल किये जाने वाले सभी मिथ्स में से सबसे दकियानुसी है।

3. नियमित सेक्स से vagina का साइज बढ़ जाता है

ऐसा मानना है कि नियमित सेक्स करने से vagina का साइज बड़ा हो जाता है या ढीला हो जाता है जबकि ऐसा विज्ञान नहीं कहता। सेक्स के दौरान vagina का साइज कुछ समय के लिए बढा हो जाता है पर वो कुछ देर में वापस नॉर्मल हो जाता है। तो चिंता की कोई बात नहीं है।

4. सेक्स में दर्द देता है

सेक्स के दौरान दर्द का सिर्फ एक कारण होता है वो ये कि आपके muscles कंट्रास्ट होते हैं और आपको अपने पार्टनर को धीरे धीरे चीजें करने को बोलना चाहिए। साथ ही lubricant का भी इस्तेमाल करना चाहिए जिससे Sex drive अच्छी हो और दर्द भी ना हो।

5. पीरियड्स के दौरान प्रेग्नेंट नहीं होते

कई लोग प्रेग्नैंसी से बचने के लिए पीरियड्स के दौरान सेक्स करते हैं क्योंकि उन्हें ऐसा लगता है कि पीरियड्स के दौरान प्रेग्नेंट नहीं होते जबकि ऐसा कुछ नहीं होता। प्रेग्नेंट होने के लिए एग का सिर्फ एक स्पर्म से मिलना ज़रूरी होता है इसलिए पीरियड्स के दौरान भी आपको contraception लेना ज़रूरी हैं।

हमें Sex से जुड़े myths पर बिलकुल विश्वास नहीं करना चाहिए | अपने आस पास सुनी जाने वाली सारी जानकारियों को फैक्ट चेक करिये फिर मानिये वरना मिथ्स से आपके आस पास चीज़ें खराब हो सकती हैं।

 

Email us at connect@shethepeople.tv