Menstrual Hygiene Day: मेंस्ट्रुअल हाइजीन डे क्यों मनाया जाता है?

Menstrual Hygiene Day: मेंस्ट्रुअल हाइजीन डे क्यों मनाया जाता है? Menstrual Hygiene Day: मेंस्ट्रुअल हाइजीन डे क्यों मनाया जाता है?

Monika Pundir

27 May 2022

मेंस्ट्रुअल हाइजीन पर जानकारी फैलाने के उद्देश्य से मेंस्ट्रुअल हाइजीन डे मनाया जाता है। मेंस्ट्रुएशन को मैनेज करना डेवलपिंग देशों में महिलाओं के लिए विशेष रूप से चुनौतीपूर्ण हो सकता है, जहां स्वच्छ पानी और शौचालय की सुविधा अक्सर कम होती है। इसके अलावा, कुछ कल्चर में मेंस्ट्रुएशन या पीरियड्स पर खुलकर चर्चा करना टैबू माना जाता है। इसका सीधा असर उनके स्वास्थ्य, शिक्षा और सम्मान पर पड़ता है। 

मेंस्ट्रुएशन या पीरियड्स के बारे में बात करना टैबू मन जाने के कारण,  लोगों के पास महिला शरीर के नॉर्मल फंक्शन  के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी नहीं पहुंच पाती है। सूचना तक पहुंच को मानव अधिकार माना जा सकता है। मेंस्ट्रुएशन और मेंस्ट्रुअल हाइजीन पर जानकारी फैलाने के उद्देश्य से मेंस्ट्रुअल हाइजीन डे मनाया जाता है।

28th मई क्यों?
प्रति वर्ष मेंस्ट्रुअल हाइजीन डे 28 मई को मनाया जाता है क्योंकि मेंस्ट्रुअल साइकिल एवरेज में 28 दिन लंबा होता है और हर महीने लगभग पांच दिन ब्लीडिंग होता है। (मई वर्ष का पाँचवाँ महीना है।) 

यह पीरियड्स को एक बायोलॉजिकल प्रक्रिया के रूप में दर्शाने  के लिए है ताकि लोग बिना किसी डर या शर्म की भावना के पीरियड्स के बारे में बात कर पाए, प्रश्न कर पाए, असुविधा होने पर इलाज करने जा पाए। पीरियड्स के बारे में जागरूकता बढ़ाने और  पीरियड पावर्टी , यानी स्वास्थ्य और स्वच्छता के लिए आवश्यक पीरियड सप्पली की आपूर्ति करने में असमर्थ होना।

पीरियड्स से जुड़ी मुश्किलें -

कई कल्चर में पीरियड्स के समय महिला को गंदा या अपवित्र मन जाता है। भारत में भी कई गांव में पाया गया है की पीरियड्स के समय महिलाओं को किसी झोपडी में रहने भेज दिए जाता है। कई लड़किया 11-12 साल के उम्र से या जबसे उनका पीरियड्स शुरू हो, वे स्कूल जाना छोड़ देते हैं। 

इससे लड़कियों की पढाई अधूरी रह जातो है और फ्यूचर में उन्हें कठिनाई होती है। कुछ बच्चियों के पास पैड खरीदने के पैसे नहीं होते या उनका परिवार कुछ अफवाह मानते हैं जिसके कारण वे स्कूल नहीं पाते और उनकी पढ़ाई को नुकसान पहुँचता है। छोटे में कहे तो, मेंस्ट्रुएशन एक आम बायोलॉजिकल फंक्शन होने के बावजूद, महिलाओं को सामाजिक रूप से असमर्थ बना देता है। कुछ बच्चियां पीरियड्स को ईश्वर का श्राप मानते हैं, क्योंकि उन्हें समाज इसके कारण इतना परेशान करता है।

मेंस्ट्रुअल हाइजीन डे के ओब्जेक्टिवेस 

मेंस्ट्रुअल हाइजीन दिवस महिलाओं और लड़कियों के लिए एकजुट और मजबूत आवाज बनाने के लिए व्यक्तियों, आर्गेनाईजेशन, एन जी ओ  और मीडिया को एक साथ लाने के लिए है। यह पीरियड स्वच्छता प्रबंधन के बारे में चुप्पी तोड़ने के लिए बनाया गया है। 

मेंस्ट्रुअल हाइजीन डे के उद्देश्यों में शामिल हैं:

  • कई महिलाओं और लड़कियों को पीरियड्स के दौरान आने वाली चुनौतियों और कठिनाइयों का समाधान करने के लिए।
  • सरकारी स्कूल, अस्पताल और ऑफिस में फ्री पैड देने के लिए सरकार को प्रोत्साहन देना ताकि गरीब महिलाएं भी इसका इस्तेमाल कर सके। 
  • इन समस्याओं से निपटने के लिए उठाए जा रहे इनोवेटिव समाधानों की जानकारी विश्व में फैलाना।
  • लड़कियों और महिलाओं के अधिकारों को मान्यता और समर्थन देने के लिए जागरूकता बढ़ाना और देशों के सरकारों को भी सम्मिलित करना।
  • सोशल मीडिया और मास मीडिया (रेडियो, नेवसपपेर, टीवी, डिजिटल न्यूज़) के माध्यम से जागरूकता बढ़ाना।

मेंस्ट्रुअल स्वच्छता दिवस शारीरिक साक्षरता और ऑटोनोमी के साथ-साथ जेंडर इक्वालिटी को बढ़ावा देता है।

अनुशंसित लेख