Navratri 2022: जानिए नवरात्रि में किस दिन कौन सा भोग लगाना चाहिए

Navratri 2022: जानिए नवरात्रि में किस दिन कौन सा भोग लगाना चाहिए Navratri 2022: जानिए नवरात्रि में किस दिन कौन सा भोग लगाना चाहिए

Vaishali Garg

19 Sep 2022

Navratri 2022: नवरात्रि के त्यौहर को अत्यंत श्रद्धा के साथ मनाया जाता है और यह प्राचीन काल के सबसे पुराने त्योहारों में से एक है। यह भारत और दुनिया के अन्य हिस्सों में लगातार नौ दिनों और रातों में व्यापक रूप से मनाया जाता है। हालाँकि, नवरात्रि पूरे भारत में अलग-अलग महत्व रखती है और चंद्र कैलेंडर का अनुसरण करती है, यही वजह है कि इसे मार्च - अप्रैल में चैत्र नवरात्रि और सितंबर - अक्टूबर में शरद नवरात्रि के रूप में मनाया जाता है। शारदीय नवरात्रि में जगह-जगह मां देवी दुर्गा की प्रतिमाएं स्थापित की जाती है और 9 दिन खूब धूमधाम से उनकी पूजा की जाती है रोज अलग-अलग कार्यक्रम का आयोजन किया जाता है जैसे गरबा, भजन कीर्तन और महाआरती। इस ब्लॉग में हम जानते हैं कि 9 दिन मा देवी को कौन से नौ अलग-अलग प्रकार के भोग लगाएं। इस साल शरद नवरात्रि की शुरुआत 26 सितंबर से हो रही है और यह 5 अक्टूबर तक चलेगी।

Navratri 2022: जानिए नवरात्रि में किस दिन कौन सा भोग लगाना चाहिए

9 दिन के 9 भोग 
प्रसाद प्रतिपदा : गाय का घी 
द्वितीया : मिश्री और पंचामृत 
तृतीया : दूध की खीर 
चतुर्थी : मालपूवा 
पंचमी : केला 
षष्ठी : शहद 
सप्तमी : गुड़ 
अष्टमी : नारियल 
नवमी : हलवा, चना- पूरी, खीर


Navratri 2022: जानिए किस दिन कौन सी देवी की पूजा होती है

26 सितंबर 2022 
नवरात्रि दिन 1  प्रतिपदा    
माँ शैलपुत्री

27 सितंबर 2022   
नवरात्रि दिन 2 द्वितीया    
माँ ब्रह्मचारिणी

28 सितंबर 2022   
नवरात्रि दिन 3 तृतीया    
माँ चंद्रघंटा

29 सितंबर 2022  
नवरात्रि दिन 4  चतुर्थी    
माँ कुष्मांडा

30 सितंबर 2022   
नवरात्रि दिन 5 पंचमी   
माँ स्कंदमाता

01 अक्तूबर 2022  
नवरात्रि दिन 6 षष्ठी    
माँ कात्यायनी

02 अक्तूबर 2022  
नवरात्रि दिन 7 सप्तमी    
माँ कालरात्रि

03 अक्तूबर 2022   
नवरात्रि दिन 8 अष्टमी   
माँ महागौरी दुर्गा महा अष्टमी

04 अक्तूबर 2022 
नवरात्रि दिन 9 नवमी     
माँ सिद्धिदात्री दुर्गा महा नवमी

05 अक्तूबर 2022 
नवरात्रि दिन 10 दशमी     
नवरात्रि दुर्गा विसर्जन, विजय दशमी 

Navratri 2022: इसके पीछे क्या मान्यता है?

शरद नवरात्रि हिंदू धर्म के सबसे दिव्य और शक्तिशाली त्योहारों में से एक माना जाता है। ऐसा माना जाता है कि नवरात्रि के पहले दिन देवी दुर्गा धरती पर अवतरित होती हैं और नौ दिनों तक अपने भक्तों के साथ रहती हैं। भक्तों के साथ देवता के ठहरने की तुलना उनके पैतृक घर की एक छोटी यात्रा से भी की जाती है।  

अनुशंसित लेख