पीरियड्स हमारी लाइफ का एक इंपॉर्टेंट पार्ट है, जिसे हम हर महीने एक्सपीरिएंस करते हैं। पीरियड्स के समय ये काफ़ी ज़रूरी है कि आप हाइजीन और साफ सफाई का पूरा ध्यान रखें, नहीं तो ये बहुत सी बीमारियों का कारण भी बन सकते हैं। आइए पढ़ते हैं पीरियड हाइजीन टिप्स के बारे में-

 1- पैड्स या टैम्पोन को ज़्यादा लंबे टाइम तक इस्तेमाल ना करें-

एक ही पैड या टैम्पोन को 4-6 घंटेसे ज़्यादा इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। मेंस्ट्रुअल ब्लड जब हमारी बॉडी से बाहर निकलता है, तो वो डिकंपोज होना शुरू कर देता है। ऐसे में अगर हम पैड नहीं बदलेंगे, तो बहुत से बैक्टीरिया की ग्रोथ की वजह से इंफेक्शन, खुजली वगेरह होने का खतरा बना रहता है।

2- वेजाईनल क्लींज़र या साबुन का इस्तेमाल बिल्कुल ना करें-

अपने वेजाईना को वॉश और साफ करने के लिए कभी भी किसी तरह के क्लींज़र या साबुन का इस्तेमाल करने से बचें। इनका Ph हमारी वैजाइना के ph से काफी अलग होता है, इसलिए ये फ़ायदेमंद नहीं होता। हमेशा नॉर्मल पानी से ही अच्छी तरह से वैजाइना को धोना और साफ करना चाहिए।

4- सैनिटेशन के लिए एक ही तरह के तरीके का इस्तेमाल करें-

महिलाएं पीरियड्स के टाइम पे अलग अलग सैनिटेशन के तरीकों का इस्तेमाल करती हैं, जैसे दो पैड्स,साथ ही टैम्पोन भी। इस तरह की प्रैक्टिस से दूर रहना ज़्यादा अच्छा है। इससे हमें बहुत सी तरह कि परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है।

4- सैनिटरी पैड्स को अच्छी तरह से डिस्पोज़ करें-

पैड्स या टैम्पोन को अच्छे से लपेट के ही डिस्पोज़ करें। ऐसा ना करने पर इनमें जो बैक्टीरिया होते हैं उनके फैलने का खतरा रहता है। इनको फ्लश भी ना करें,क्योंकि ये टॉयलेट को क्लॉग कर सकता है,और उसमें भी बैक्टीरिया को पैदा कर सकता है।

5- रैशेज होने पर खास ध्यान दें-

सैनिटरी पैड्स पहनने से बहुत बार दिन भर चलने या पसीने के वजह से रैशेज होना एक आम परेशानी है। ऐसे में एक एंटीसेप्टिक क्रीम हमेशा अपने पास रखें, पर ध्यान रहे कि उसका ph हमारी वैजाइना से मिलता हो। रैशेज से बचने के लिए हमेशा कॉटन के बन हुए सैनिटरी पैड्स ही इस्तेमाल करें। पीरियड हाइजीन टिप्स 

Email us at connect@shethepeople.tv