ब्लॉग

प्यूबिक हेयर होने के फायदे

Published by
Garima Singh

जब हम प्युबर्टी हिट करते हैं तो गुप्तांगों पर बाल आने लगते हैं जो मोटे, घुमावदार और छोटे होते हैं जिसे प्यूबिक हेयर कहते हैं। सिर के बालों की ही तरह इनका रंग, वॉल्यूम और आकार अलग अलग हो सकता है। प्यूबिक के बाल लड़के और लड़कियों दोनों में होते हैं। इनका अपना अलग ही महत्‍व है क्‍योंकि यह STI (Sexually Transmitted Infection) और बैक्‍टीरियल इंफेक्‍शन से सेफ़ रखते हैं। बहुत सी महिलाओं और पुरुषों का मानना है कि प्‍यूबिक हेयर (Pubic Hair in Hindi) को शेव नहीं करना चाहिये क्‍योंकि इससे उन्‍हें कई बीमारियों से सुरक्षा मिलती है। वहीं कुछ लोग मानते हैं कि शेव करने से उन्‍हें साफ-सुथरा होने का एहसास मिलता है।  तो आइए जानते हैं कि प्यूबिक हेयर का हमारी बॉडी में क्या महत्व है और इसे शेव करना चाहिये या नहीं? प्यूबिक हेयर के फायदे

प्‍यूबिक हेयर कितने महत्‍वपूर्ण हैं? Pubic Hair ke fayde

प्‍यूबिक हेयर (Pubic Hair in Hindi) किसी भी बाहरी बैक्‍टीरिया या वायरस को वजाइना के अंदर घुसने से बचाते हैं जिससे किसी भी प्रकार का इन्फेक्शन या बीमारी से हम बचे रहते हैं। यह प्राइवेट पार्टस में प्रॉपर तापमान (temperature) बनाए रखने का काम करते हैं, जिससे कि वह ठीक ढंग से काम कर पाए। कई लोगों को नहीं पता लेकिन प्‍यूबिक हेयर पर वैक्‍सिंग करवाना काफी रिस्की हो सकता है। इससे वह जगह लाल हो कर जलन पैदा कर सकती है। और अगर वहाँ पर नमी पैदा होने लगे तो बैक्‍टीरिया पैदा होने का ज्‍यादा खतरा हो सकता है। इसलिये अगर प्‍यूबिक हेयर नहीं होंगे तो STI और बैक्‍टीरिया का डर बना रहेगा।

प्‍यूबिक हेयर के होने के फायदे (Pubic hair benefits in Hindi)

कई लोग आजकल प्‍यूबिक एरिया के बालों को हटाने के बहुत से तरीके अपनाते हैं, लेकिन यह समझना चाहिये की प्‍यूबिक एरिया के बाल किसी खास कारण की वजह से वहाँ हैं। यह हमारे प्राइवेट पार्टस जो की असल में काफी सेंसिटिव होते हैं, उन्हें कई तरह से सेफ रखने में मदद करते हैं, जैसे – 

  • प्यूबिक के बाल अंडरवियर की रगड़ से वजाइना और सेंसिटिव एरिया की रक्षा में मदद करते हैं
  • प्‍यूबिक हेयर (Pubic Hair in Hindi) को हटाने के दौरान स्किन में जलन, कट, या घाव की समस्याएं हो सकती हैं।
  • शेविंग के दौरान ब्लेड से सकता है जिससे ब्लीडिंग हो सकती है और इन्फेक्शन का खतरा बढ़ सकता है।
  • बार बार बाल हटाने से वजाइना का पी एच लेवल बदल सकता है जिससे यीस्ट इन्फेक्शन का डर बना रहता है, इससे बचने में प्युबिक हेयर मदद करते है।
  • यह बाल प्युबिक एरिया के तापमान (temperature) को बैलेंस करते है।
  • प्‍यूबिक हेयर गंदगी और अन्य फ्लोटिंग बैक्‍टीरिया को वजाइना में प्रवेश करने से रोकते है।
  • प्‍यूबिक के बाल सेक्स, साइकिलिंग और अन्य एक्सरसाइज़ और व्यायाम के दौरान वजाइना को बचाते हैं।

प्‍यूबिक हेयर (Pubic Hair in Hindi) को रखना या हटाना हम सबकी पर्सनल चॉइस है, लेकिन इसे हटाने वक़्त इन बातों का जरूर ध्यान रखें ताकि आप इन्फेक्शन से बचे रहें।

पढ़िए : इनर केयर: क्यों जरूरी है अपनी वजाइना को साफ़ रखना?

Recent Posts

शालिनी तलवार कौन है? हनी सिंह की पत्नी जिन्होंने उनके खिलाफ घरेलू हिंसा का मामला दर्ज कराया है

यो यो हनी सिंह की पत्नी शालिनी तलवार ने उनके खिलाफ 3 अगस्त को दिल्ली…

7 hours ago

हनी सिंह की पत्नी ने दर्ज कराया उनके खिलाफ घरेलू हिंसा का केस, जाने क्या है पूरा मामला

बॉलीवुड के मशहूर सिंगर और अभिनेता 'यो यो हनी सिंह' (Honey Singh) पर उनकी पत्नी…

8 hours ago

यो यो हनी सिंह पर हुआ पुलिस केस : पत्नी ने लगाया घरेलू हिंसा का आरोप

बॉलीवुड सिंगर और एक्टर यो यो हनी सिंह की पत्नी शालिनी तलवार ने उनके खिलाफ…

8 hours ago

ओलंपिक मैडल विजेता मीराबाई चानू पर बनेगी बायोपिक : जाने बायोपिक से जुड़ी ये ज़रूरी बातें

वे किसी ऐसे व्यक्ति की तलाश में हैं जो ओलंपिक मैडल विजेता की उम्र, ऊंचाई…

9 hours ago

मुंबई सेशन्स कोर्ट ने गहना वशिष्ठ को अंतरिम राहत देने से किया इनकार

मुंबई की एक सत्र अदालत ने अभिनेत्री गहना वशिष्ठ को उनके खिलाफ दायर एक पोर्नोग्राफी…

9 hours ago

ओलंपिक मैडल विजेता मीराबाई चानू पर बायोपिक बनने की हुई घोषणा

लंपिक सिल्वर मैडल विजेता वेटलिफ्टर सैखोम मीराबाई चानू की बायोपिक की घोषणा हाल ही में…

9 hours ago

This website uses cookies.