Yashoda Movie Review: पढ़िए समांथा रूथ प्रभु की फिल्म यशोदा का रिव्यू

समांथा रूथ प्रभु की फिल्म यशोदा 11 नवंबर को रिलीज हो चुकी है, इस फिल्म को काफी सराहना मिल रही है लोगों से। आइए आज के इस फिल्म और रंगमंच बॉलीवुड ब्लॉग में जानते हैं फिल्म के रिव्यू के बारे में-

Vaishali Garg
11 Nov 2022
Yashoda Movie Review: पढ़िए समांथा रूथ प्रभु की फिल्म यशोदा का रिव्यू

Samantha Ruth Prabhu

Yashoda Movie Review: एक्ट्रेस समांथा रूथ प्रभु जब भी कोई विमेन सेंट्रिक प्रोजेक्ट लेती है तो काफी परक के वह प्रोजेक्ट को साइन करती हैं। उन्होंने एक ऐसा ही प्रोजेक्ट साइन किया था वह था यशोदा मूवी और उनकी यह चॉइस उनके लिए एक यू टर्न साबित हुआ है। उनकी फिल्म यशोदा में उनके किरदार को लोगों द्वारा बहुत ज्यादा पसंद किया जा रहा है। समांथा ने यशोदा में ऐसी भूमिका निभाई जो की बहुत ही गंभीर लड़की की भूमिका थी और फिल्म में उनका प्रदर्शन वाकई काबिलियत तारीफ था।

Yashoda Movie Review: यशोदा फिल्म की कहानी है बहुत यूनिक

यशोदा फिल्म में समांथा ने यशोदा की भूमिका निभाई है और इस फिल्म में उनकी जो भूमिका है वह यशोदा की छोटी बहन के चारों ओर घूमती है। फिल्म में जब समांथा यानी यशोदा को बहन के ऑपरेशन के लिए पैसों की बहुत जरूरत होती है तो वह सरोगेट मदर बनती हैं। सरोगेट मदर बनने के लिए वह एक कंपनी को ज्वाइन करती हैं। फिल्म में दिखाया गया है कि यशोदा के लिए यह डिसीजन काफी बड़ा कठिन था शुरू शुरू में तो सब कुछ ठीक चल रहा था लेकिन कुछ समय बाद उसका जीवन थोड़ा सा कठिन हो गया। आगे दिखाया जाता है कि स्थानीय पुलिस किसी मॉडल की सड़क दुर्घटना पर हुई मौत की जांच कर रही थी। जब इस मामले की जांच होती है तो पता चलता है इसमें जिस मॉडल की हत्या हुई थी उसके साथ समय यशोदा के संबंध थे। बाकी की कहानी है कि मॉडल ईवा वास्तव में सरोगेसी के नाम पर क्या कर रही है।

यशोदा को वास्तव में आगे बढ़ने और दर्शकों को निवेशित करने में समय लगता है। इसमें कुछ बहुत ही दिलचस्प सीन हैं क्योंकि यह सरोगेसी को मेन टॉपिक बनाने की बात करता है और इस प्रयास की प्रशंसा की जानी चाहिए। साथ ही यह फिल्म इस बारे में भी कि कैसे हम मनुष्य के रूप में अपने लालच के लिए चिकित्सा उन्नति का दुरुपयोग कर रहे हैं। कहीं न कहीं, यशोदा इस फैक्ट को स्थापित करने की कोशिश में एक कड़ी चलने की कोशिश करती है कि सरोगेसी वरदान और अभिशाप दोनों हो सकता है। फिल्म का आधार बहुत दिलचस्प है और इसे पहले शायद ही कभी खोजा गया हो कहीं। यही कारण यशोदा को सबसे अलग बनाता है, और शायद सामंथा ने भी इस प्रोजेक्ट में अच्छा अभिनय किया।

Yashoda Movie Review: हर बार की तरह इस बार भी समांथा का अभिनय रहा बेहतरीन

इसमें कोई डाउट नहीं है कि हर बार की तरह इस बार भी Samantha Ruth Prabhu का फिल्म में अभिनय रहा है बहुत ही गजब का जिस तरह से वे अपने इस कैरेक्टर को इस फिल्म में निभा रही हैं ऐसा लग रहा है कि वह बिल्कुल घुस चुकी थी उसका क्रैक्टर में। प्लेन में समानता नहीं यशोदा का कैरेक्टर निभाया है जो एक सरोगेट मदर है। प्रोडक्शन डिज़ाइन एक विशेष उल्लेख के योग्य है क्योंकि अधिकांश कहानी एक बड़ी सुविधा के अंदर सामने आती है और सेटवर्क सराहनीय है।

image widget
अनुशंसित लेख