What Is Collagen? आखिर क्यों है कोलेजन ज़रूरी

What Is Collagen? आखिर क्यों है कोलेजन ज़रूरी What Is Collagen? आखिर क्यों है कोलेजन ज़रूरी

Swati Bundela

21 May 2022

हमारे शरीर में पाए जाने वाला प्रोटीन का एक तिहाई हिस्सा कोलेजन ही होता है। यह हमारे स्वास्थ्य के लिए बेहद ही जरूरी और लाभदायक सिद्ध होता है। इसकी कमी होने से हमें कई प्रकार की समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। कॉलेजन भी 16 तरह के होते हैं। जिनमें से तीन तरह के कोलेजन सबसे ज़्यादा महत्वपूर्ण है।
-कोलेजन टाइप 1
-कोलेजन टाइप 2
-कोलेजन टाइप 3

कोलेजन कैसे हमें सुन्दर बनता है?

हमारे शरीर में मौजूद नए कोशिकाएं कोलेजन को बनाने का काम करती हैं। यह स्किन के अंदर एक जाल बना लेता है जिससे फाइब्रोब्लास्ट भी कहते हैं। यह हमारी त्वचा की खूबसूरती को निखारने में मदद करता है। समय के साथ उम्र बढ़ने पर कॉलेज इन थी कमी हुई लगती है जिसकी कारण वह सारी समस्याओं उत्पत्ति भी हो जाती है। महिलाओं में मेनोपॉज के बाद कॉलेजन की कमी होने लगती है और साथ ही ज्यादा शराब पीने या स्मोकिंग करने से भी इस समस्या का सामना करना पड़ सकता है।

कोलेजन से होने वाले फायदे- 

त्वचा रहे चमकती
कोलेजन हमारी त्वचा में निखार लाता है। यह हमारी त्वचा को स्वस्थ, चमकदार और लचीला बनाए रखता है। साथ ही इसके सही मात्रा में मोजूद होने से स्किन पर रिंकल्स, पिंपल्स जैसी परेशानी नहीं होती हैं। यह हमारी स्किन को ज़्यादा लंबे समय तक जवान रखता है।

बालों को बनाए घना और मजबूत
शरीर में कोलेजन की पर्याप्त मात्रा होने से बाल मजबूत और घने बने रहते हैं और साथ ही गंजापन भी कम होता है। इसमें कुछ एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं जो फ्री रेडिकल्स की संख्या को कम करने में मददगार साबित होते हैं जिससे हमारे बालों के रोम को नुकसान पहुंचता है। इससे बाल झड़ने की समस्या भी दूर होती है।

मांसपेशियों को मज़बूत बनाए
कोलेजन की पर्याप्त मात्रा होने से शरीर में मांसपेशियों और मसल्स को मजबूती मिलती है इसलिए जो लोग समय से एक्सरसाइज रोज करते हैं उनकी मांसपेशियां स्वस्थ रहती है। क्योंकि एक्सरसाइज करने से कोलेजन की मात्रा बढ़ती है। उम्र के साथ साथ शरीर में स्कॉर्पेनिया जैसे बीमारी हो सकती है जिसमे मांसपेशियों के द्रव्यमान में कमी होने लगती है इसकी बड़ी वजह शरीर में कोलोजन की कमी है।

पाचन तंत्र रहे मज़बूत
कोलोजन की सही मात्रा से पाचन तंत्र भी स्वस्थ रहता हैं। यह पाचन तंत्र को बिना रुकावट के स्मूथली चलने के लिए पर्याप्त तत्व उपलब्ध कराता है।

अनुशंसित लेख