Ageism In Bollywood: 40 के बाद अभिनेत्रियों को भी चाहिए अहम किरदार

Ageism In Bollywood: 40 के बाद अभिनेत्रियों को भी चाहिए अहम किरदार Ageism In Bollywood: 40 के बाद अभिनेत्रियों को भी चाहिए अहम किरदार

Sanjana

15 Jun 2022

बॉलीवुड में महिलाओं के एक्टिंग करियर को 30 के बाद खत्म ही मान लिया जाता है। हाल ही में दीया मिर्जा ने एक इंटरव्यू में बताया कि उन्हें 40 की उम्र के बाद भी उनके एक्टिंग करियर में ऐसे मौके मिले हैं जिन्होंने उनकी परेशानी को हल किया है। उनके हिसाब से ageism एक ऐसी चीज है जिससे महिलाओं को गुजरना पड़ता है। 

लेकिन अब धीरे-धीरे 40 के बाद भी महिलाओं को ऐसे मजबूत और दमदार किरदार मिल रहे हैं जो उनके करियर की ऊंचाइयों का संकेत देते हैं। दीया मिर्जा भी उन्हीं अभिनेत्रियों में से एक बन चुकी है जिन्हें अपने करियर की इस समय में और भी ज्यादा बड़े और दमदार रोल निभाने को मिले हैं। यह OTT प्लेटफार्म की वजह से ज्यादा मुमकिन हो पाया है।

Ageism पर दीया मिर्जा ने कहा -

दीया ने प्रेस ट्रस्ट ऑफ इंडिया (PTI) के साथ अपने इंटरव्यू में कहा कि ageism एक ऐसी समस्या है जिससे ज्यादातर फीमेल एक्टर्स का सामना होता है। लेकिन दीया को 40 के बाद भी ऐसे कुछ दमदार किरदार निभाने को मिले जिन्होंने दीया की परेशानी को हल कर दिया। 

दीया कहती है कि जब जब उन्हें अपने करियर की इस स्टेज में कोई दमदार किरदार निभाने को मिलता है तो यह इंडस्ट्री के चले आ रहे हैं ageism के आदर्श को चुनौती देता है। यह इंडस्ट्री के द्वारा बनाए गए 35 से ज़्यादा उम्र वाली महिलाओं और पुरुषों के बीच के इस गैप को कम करता है। 

वह बताती है कि वह अपनी जिंदगी के सबसे अच्छे किरदारों को निभा रही है। उनके लिए 40 की उम्र के बाद का यह सफर और भी ज्यादा रोमांचक और मजेदार हो गया है। जिस गति से महिलाओं को 40 के बाद भी ऐसे मजबूत किरदार निभाने को मिल रहे हैं, यह बताता है कि बॉलीवुड भी बदल रहा है।

मेल एक्टर्स कर सकते हैं रोमांस?

बॉलीवुड में 35 की उम्र के बाद फीमेल एक्टर्स को ज्यादातर मां के रोल निभाने को दे दिए जाते हैं। इस उम्र के बाद वे फिल्मों में लीड रोल में नजर नहीं आती। एक टि्वटर यूजर ने मैगजीन का फोटो डाला था जो 1984 की है। इस मैगजीन में रेखा के करियर को लेकर एक सवाल उठाया था कि 30 के बाद अब रेखा का कैरियर क्या होगा? 

बॉलीवुड में 30 के बाद महिलाओं के एक्टिंग करियर को खत्म मान लिया जाता है। लेकिन मेल एक्टर्स तो इसकी दुगनी उम्र में भी अपने से आधी उम्र की फीमेल एक्टर्स के साथ रोमांस करते नजर आते हैं। आखिर ऐसा क्यों? जीरो मूवी में 46 साल की शीबा चड्ढा ले शाहरुख खान की मां का किरदार निभाया जबकि शाहरुख खान खुद 53 साल के थे। 

रेखा अपने समय की बहुत ही प्रतिष्ठित और साहसी अभिनेत्री हैं। उन्होंने ageism के इस आदर्श से ऊपर उठकर 30 की उम्र के बाद भी खून भरी मांग जैसे सुपरहिट दिए। महिलाओं को 30 के बाद जवान फीमेल एक्टर्स के साथ बदल दिया जाता है।

अनुशंसित लेख