टी एंड सी | गोपनीयता पालिसी

संचालित द्वारा Publive

Evergreen Feel Good Films: मूड अच्छी करने वाले कुछ फिल्म

Evergreen Feel Good Films: मूड अच्छी करने वाले कुछ फिल्म
Nikita Mohanty

22 Jun 2022

जब हमारी मूड ख़राब होती है, हम सब अलग अलग तरह के चीज़ों से अपनी मूड को ठीक करने की कोशिश करते हैं। कोई गाने सुनता है, कोई डांस करता है, कोई वॉक पर जाता है, तो कोई अपनी पसंदीदा इंस्ट्रूमेंट बजता है। कुछ लोग टीवी और फिल्मों का भी सहारा लेते हैं। कुछ ऐसी फिल्में है जो या तो हमें हँसा हँसा कर पेट दर्द कर देती है, या कोई इतनी अछि मैसेज देती है, जिससे हमारा मूड ठीक हो जाता है और हमें मोटिवेटेड फील होता है। ऐसे कुछ फिल्मों के बारे में पढ़िए, जिन्हें हम जितनी बार देखें हमारी मूड अच्छी हो जाएगी।

फील गुड फिल्में: 

1. ज़िन्दगी न मिलेगी दोबारा 

इस फिल्म में कॉमेडी, रोमांस, रोमांच और अच्छे मेसेज का अच्छा संतुलन बना है। फिल्म के गाने भी बहुत ही मधुर है। कहानी 3 दोस्तों के बारे में है जो अचानक एक ट्रिप पर जाने का निर्णय लेते हैं। हर दोस्त की अलग कहानी है, और उनका चरित्र भी अलग है। एक मस्तीखोर है, तो दूसरा सीरियस, तो तीसरा फिलोसोफिकल। इस ट्रिप के दौरान उनकी एडवेंचर के साथ महत्वपूर्ण संदेश भी दर्शाया गया है। 

2. 3 इडियट्स 

यह फिल्म भी 3 दोस्तों की है, जो इंजीनियरिंग कॉलेज में मिलते हैं। यह फिल्म हर उम्र के लोगों के लिए फनी होगी और महत्वपूर्ण भी, चाहे वो स्कूल-कॉलेज का छात्र हो, नौकरी के उम्र का हो या किसी का पैरेंट हो। इस फिल्म में कॉमेडी कूट कूट कर भरी है, पर फिल्म गरीबी, रैगिंग, कॉलेज में घुसने की कॉम्पिटिशन, समझना vs रट्टा मरना, जैसे ज़रूरी मुद्दों पर टच करता है। इस फिल्म को आप जितनी बार देखेंगे उतनी बार कुछ नया सीखेंगे और उतना ही हंसेंगे भी।

3. डियर ज़िन्दगी 

यह फिल्म एक लाइट फिल्म है। इसमें ज़्यादा मर पीट या ऐसा कुछ नहीं है। फिल्म में काइरा (आलिया भट्ट) अपने करियर और रिलेशनशिप्स के गलतियों को संभालने का कोशिश कर रही है। इस फिल्म में मेंटल हेल्थ के ज़रूरी मुद्दे पर भी चर्चा की गयी है। काइरा अपनी थेरेपिस्ट (शाह रुख खान) के मदद से अपनी ज़िंदगी समेटती है। 

4. जब वी मेट 

यह करीना कपूर और शाहिद कपूर की एक बहुत ही फेमस फिल्म है। यह एक रॉम-कॉम है, यानि रोमांस और कॉमेडी का अच्छा मिश्रण पाया जायेगा। रोमांटिक फिल्में पसंद करने वालों के लिए यह बेस्ट फिल्मों में से एक है। इसमें आदित्य, जो की एक गंभीर किस्म का व्यक्ति है, चुलबुली गीत से ट्रेन पर पलते हैं, और मज़ेदार स्थितियों से गुज़रते हुए उन्हें प्यार हो जाता है।

5. पीकू  

अमिताभ बच्चन, दीपिका पादुकोण और इरफ़ान खान की यह फिल्म मज़ेदार भी है और इसकी एक फील-गुड फैक्टर भी है। फिल्म में कॉन्स्टिपेशन जैसे शर्मिंदगी से जोड़ी जाने वाले टॉपिक का भी ज़िक्र है। इस फिल्म में कोई रोमांटिक एंगल नहीं है, मगर एक बहुत ही मज़ेदार फिल्म है।

ऐसे कुछ और फिल्म है: यह जवानी है दीवानी, अंगूर, बधाई हो, अंदाज़ अपना अपना, डीएम लगा के हाइशह।

अनुशंसित लेख