फ़ीचर्ड

पर्यावरण को बचाने के 5 उपाए

Published by
Ayushi Jain

हम सब का यह फ़र्ज़ बनता है की हम भी प्रकृति और पर्यावरण का ध्यान रखे । उसे अपने फायदे के लिए नुक्सान न पहुँचाएँ। कल विश्व पर्यावरण दिवस के उपलक्ष्य में आइये जानते है ऐसे 5 कारण जिनसे हम पर्यावरण को बर्बाद होने से बचा सकते है :

  1. पॉलिथीन का इस्तेमाल करें

पॉलिथीन हमारे पर्यावरण के लिए बहुत ज़्यादा हानिकारक होती है । यह हमारे पर्यावरण में कही भी संतुलित नहीं होती । केमिकल जिनसे यह बनता है बहुत ही ज़्यादा हानिकारक होते है । न तो इसे ज़मीन के अंदर के बैक्टीरिया खा सकते है  इसलिए इसे बस जलाना पड़ता है जिससे इसके अंदर के केमिकल हवा में जाकर गर्मी का स्तर बढ़ाते है और ग्लोबल वार्मिंग होती है ।

  1. जितना हो सके पेड़ लगाओ

अपने जीवन में एक संकल्प लें की आप जितना संभव होगा उतने पेड़ लगाएंगे, पेड़ हमारे जीवन के लिए बहुत ज़रूरी है वह हमे साँस , खाने के लिए फल , ठंडी हवा इत्यादि बहुत कुछ देते है । पर आजकल की बढ़ती आबादी के कारण हम अपनी ज़रूरतों के लिए पेड़ काटते जा रहे है । 1 कटे हुए पेड़ की जगह 10 पेड़ उगाने का संकल्प लें ।

  1. बिजली बर्बाद न करें

आजकल के आधुनिक रहन- सहन में जहाँ हर चीज़ बिजली पर निर्भर करती है , हम इंसान अपने आस -पास किसी भी चीज़ की कदर नहीं करते । बिजली कितने क्विंटल पानी का इस्तेमाल करने के बाद बनती है और अभी के समय में भी जहाँ ऐसे -ऐसे गाँव है जहाँ अभी भी बिजली  नहीं पहुंची है ।हमे यह सब साधन उपलब्ध है फिर भी हम इनकी कीमत नहीं समझ पा रहे  है । हमे अपने घरो में बिजली को बर्बाद होने से बचाना चाहिए । जब हम किसी कमरे में न बैठे हो तो  पंखा , ट्यूबलाइट और ऐसी बंद कर देना चाहिए । चार्जर लगाकर भूलना नहीं चाहिए, उसका स्विच बंद कर देना चाहिए ।

  1. अपने जीवन में 3 र का  इस्तेमाल करें

3 र मतलब रिड्यूस, रीयूज और रीसायकल ! अगर हम  इनको गहराई से समझे तो  जितना हो सके उतना कम समान वेस्ट करें । जितना हो सके उतना हर चीज़ को बार -बार इस्तेमाल करें और अंत में हो सके तो उसे किसी और तरीके से रीसायकल करने की भी कोशिश करें ।

  1. पब्लिक ट्रांसपोर्ट ज़्यादा से ज़्यादा उसे करें

हर घर में जितने लोग होते है उतनी गाड़ियां भी होती है पर जहाँ भारत जैसे देश की आबादी दिन भर दिन बढ़ती जा रही है वहाँ अगर सड़को पर इतनी गाड़ियां चलेंगी तो उतना ही वायु प्रदुषण बढ़ेगा और पर्यावरण को नुकसान पहुँचेगा  इसलिए हमे इसे कम करने के लिए ज़्यादा से ज़्यादा हो सके तो पब्लिक ट्रांसपोर्ट का इस्तेमाल करना चाहिए ।

पर्यावरण हमारे जीने के लिए कितना ज़रूरी है हम सब इससे अनजान नहीं है । तो इसको बचाने की ज़िम्मेदारी भी हमारी बनती है । हमे समय रहते ही पर्यावरण की देखभाल करनी चाहिए ताकि हम अपने आपको और इस धरती को बचा सके । आइये इस विश्व पर्यावरण दिवस पर ये शपथ लेते है की हम हर वो कोशिश करेंगे जिससे पर्यावरण को नुकसान न पहुँचे ।

 

Recent Posts

कौन है अशनूर कौर ? इस एक्ट्रेस ने लाए 12वी में 94%

अशनूर कौर एक भारतीय एक्ट्रेस और इन्फ्लुएंसर हैं जिनका जन्म 3 मई 2004 में हुआ…

30 mins ago

कमलप्रीत कौर कौन हैं? टोक्यो ओलंपिक के फाइनल में पहुंची ये भारतीय डिस्कस थ्रोअर

वह युनाइटेड स्टेट्स वेलेरिया ऑलमैन के एथलीट के साथ फाइनल में प्रवेश पाने वाली दो…

2 hours ago

टोक्यो ओलंपिक 2020: भारतीय डिस्कस थ्रोअर कमलप्रीत कौर फ़ाइनल में पहुंची

भारत टोक्यो ओलंपिक में डिस्कस थ्रोअर कमलप्रीत कौर की बदौलत आज फाइनल में पहुचा है।…

2 hours ago

क्यों ज़रूरी होते हैं ज़िंदगी में फ्रेंड्स? जानिए ये 5 एहम कारण

ज़िंदगी में फ्रेंड्स आपके लाइफ को कई तरह से समृद्ध बना सकते हैं। ज़िन्दगी में…

14 hours ago

This website uses cookies.