जैसा कि हम सब जानते हैं कि वेलेंटाइन डे प्यार और एक्सेप्टेंस का दिन है। तो आइए इस दिन को खुले मन और दिल से इन क्वीर लीड कैरेक्टर्स (queer lead characters)वाली फिल्मों को देखकर मनाएं। इन फिल्मों ने हमारे समाज और समलैंगिकता (homosexuality)पर समाज के विचारों को काफी हद तक प्रभावित किया है। आइये जानते हैं ऐसे ही 5 queer lead characters वाली फिल्में  औऱ उनकी कहानी के बारे में ।

image

जानिएं 5 queer lead characters वाली फिल्में (5 queer lead characters wali filmein)

1. फायर (1996)

दीपा मेहता द्वारा लिखी और डायरेक्ट की गई फिल्म फायर एक रोमांटिक-ड्रामा है, जिसके नंदिता दास और शबाना आज़मी लीड रोल में थीं। यह पहली बॉलीवुड फिल्म थी जिसमे पहली बार दो क्वीर महिलाओं के बीच संबंध को बड़े पर्दे दिखाया गया। फिल्म राधा (आजमी) और सीता (दास) पर फोकस्ड है, जो अपने सांसारिक जीवन और शादी से काफी निराश रहती हैं। फिल्म में उनका एक-दूसरे के लिए लगाव बढ़ता है और वे प्रेमी बन जाते हैं। राधा और सीता एक साथ रहने के लिए आगे बढ़ते हैं और फिल्म एक खुशहाल नोट पर खत्म होती है।

फायर क्लासिक फिल्म है जिसे बहुत सारे बैकलैश और विवादों का सामना करना पड़ा। अटेकर्स ने कई सिनेमाघरों को बंद करने की कोशिश भी की और फिल्म की स्क्रीनिंग करने वाले कई सिनेमाघरों में आग लगा दी। बैकलैश के जवाब में लेस्बियन राइट्स (CALERI) के अधिकार समूह का गठन किया गया था।

2. माई ब्रदर… निखिल (2005)

माई ब्रदर… निखिल डोमिनिक डिसूजा के जीवन पर आधारित, ओनिर द्वारा डायरेक्टेड एक फिल्म है। यह queer lead character निखिल (संजय सूरी) के लाइफ को फॉलो करती फिल्म है। यह फिल्म 1986 और 1994 के बीच सेट की गई है, जब भारत में एड्स के बारे में जागरूकता कम थी। निखिल के अपने माता-पिता, बहन, दोस्त और लवर के साथ रिलेशन तनावपूर्ण हैं। जबकि निखिल के अपने माता-पिता के साथ संबंध तब बिगड़ते हैं उसे एचआईवी हो जाता है। वे उसकी मौत से पहले उसे खुश देखने के लिए निखिल के बॉयफ्रेंड को सपोर्ट करने लगते हैं।

इस फिल्म को दुनिया भर से सराहना मिली। जूही चावला, निखिल की बहन की भूमिका निभाने वाली अभिनेत्री ने अपने प्रदर्शन के लिए जी बेस्ट एक्ट्रेस क्रिटिक अवार्ड भी जीता था। (5 queer lead characters वाली फिल्में )

3. कपूर एंड संस (2016)

कपूर एंड संस एक फेमिली-सेंटरीक ड्रामा है जिसमें सिद्धार्थ मल्होत्रा, फवाद खान, आलिया भट्ट, रत्ना पाठक शाह, रजत कपूर और ऋषि कपूर जैसे कलाकार हैं। फिल्म दो भाइयों पर फोकस्ड है जो अपने दुखी परिवार में लौटते हैं।

फवाद खान का किरदार राहुल समलैंगिक (गे) है और उसका लंदन में एक सिक्रेट बॉयफ्रेंड है। रत्ना पाठक शाह (सुनीता फवाद की मां) को ये पता चलने के बाद वह काफी नेगेटिव रिएक्शन देती है। ऐसा रिएक्शन जिससे हर क्वीर डरता है।

4. एक लड़की को देखा ते ऐसा लगा (2019)

एक लड़की को देखा ते ऐसा लगा रोमांटिक कॉमेडी फिल्म है जिसे शेली चोपड़ा धर ने डायरेक्ट किया है। स्क्रिनप्ले राईटर धर और गजल धालीवाल है। यह फिल्म स्वीटी चौधरी (सोनम कपूर) पर फोकस्ड है, जो एक क्लोज्ड समलैंगिक है और वह अपने रूढ़िवादी परिवार से बाहर आने का प्रयास करती है।

5. शुभ मंगल ज्यादा सावधान (2020)

शुभ मंगल ज्यादा सावधान एक रोमांटिक कॉमेडी फिल्म है जिसमें आयुष्मान खुराना और जितेंद्र कुमार हैं। यह अमन त्रिपाठी (कुमार) और कार्तिक सिंह (खुराना) से इंस्पायर्ड है, जो एक गे कपल है और अपने रिश्ते को समर्थन देने के लिए अपने परिवार को मनाने की कोशिश कर रहे हैं। फिल्म के अंत तक, अमन और कार्तिक के परिवारों ने उन्हें स्वीकार लिया है और सुप्रीम कोर्ट ने समलैंगिकता को डिस्क्रिमिनलाइज्ड कर दिया है।

यह एक फील-गुड मूवी है जिसे लीड रोल एक्टर्स के एक्टिंग और सपोर्टिंग एक्टर्स के एक्टिंग के लिए तारीफ मिली।

Email us at connect@shethepeople.tv