Air Pollution Affect Your Pregnancy: प्रेग्नेंट महिलाओं के लिए कैसे हानिकारक साबित हो सकता है एयर पोल्लुशण

Air Pollution Affect Your Pregnancy: प्रेग्नेंट महिलाओं के लिए कैसे हानिकारक साबित हो सकता है एयर पोल्लुशण Air Pollution Affect Your Pregnancy: प्रेग्नेंट महिलाओं के लिए कैसे हानिकारक साबित हो सकता है एयर पोल्लुशण

SheThePeople Team

03 Dec 2021


Air Pollution Affect Your Pregnancy: प्रदूषण के लेवल के बढ़ने के कारण, जिस हवा में हम सांस लेते हैं, वह हमें बहुत परेशान कर सकती है, और हमारे परिवार को बढ़ाने की संभावना को बहुत जोखिम में डाल सकती है। कई स्टडीज में पाया गया है की वायु प्रदूषण महिलाओं और पुरुषों में फर्टिलिटी रेट को कम कर सकता है। वायु प्रदूषण मिसकैरेज का भी कारण हो सकता है। ऐसा इसलिए है, क्योंकि प्रदूषित हवा में सांस लेना प्रेगनेंसी के दौरान धूम्रपान जितना खतरनाक माना जाता है।

Air Pollution Affect Your Pregnancy: कैसे एयर पोल्लुशण प्रेग्नेंट महिलाओं के लिए हानिकारक साबित हो सकता है-


1. इन्फेंट डेथ सिंड्रोम


वायु प्रदूषण शिशुओं के लिए बड़ा खतरा पैदा करता है। कभी-कभी, यदि आप रेगुलर धुएं के संपर्क में आती हैं तो आप और आपके बच्चे का जीवन अत्यधिक खतरे में पड़ सकता है।


2. कम वजन की डिलीवरी


सामान्य प्रेग्नेन्सीज़ के दौरान, डिलीवरी 38 से 40 सप्ताह में होता है और बच्चे का वजन लगभग छह से नौ पाउंड होता है। यदि प्रेगनेंसी में बच्चे का वजन पांच पाउंड और आठ औंस से कम है, तो बच्चे को कमजोर और कम वजन वाला माना जाता है। कई कारणों से कम वजन की डिलीवरी हो सकती है। हालांकि, प्रेगनेंसी होने के दौरान खराब एयर क्वालिटी के संपर्क में आना एक प्रमुख कारण माना जाता है।


3. ऑटिज्म का विकास


प्रेग्नेंट महिलाएं, जब प्रेग्नेंसी के दौरान ज्यादा वायु प्रदूषण के संपर्क में आती हैं, तो उनके बच्चों में ऑटिज्म डेवेलोप होने का खतरा उन महिलाओं की तुलना में अधिक होता है, जो स्वच्छ हवा में सांस लेती हैं। वायु प्रदूषण में बड़ी संख्या में कंटामिनेंट्स होते हैं, जो बच्चे के दिमाग को डेवेलोप होने से रोकता है।


4. समय से पहले डिलीवरी


समय से पहले डिलीवरी के पीछे वायु प्रदूषण एक बड़ा कारण है। समय से पहले जन्म लेने वाले शिशुओं में परमानेंट फिजिकल डिसेबिलिटी और न्यूरोलॉजिकल डिसऑर्डर का जोखिम बढ़ सकता है। हालांकि शिशुओं का जन्म समय से पहले जन्म कई कारणों से हो सकता है, लेकिन वायु प्रदुषण इसका एक बड़ा कारण है इसलिए वायु प्रदूषण से बचने की कोशिश करनी चाहिए।


5. अस्थमा


वायु प्रदूषण अस्थमा को बढ़ाता है। प्रेग्नेंट महिलाओं में यह खतरनाक साबित हो सकता है। अस्थमा प्रीक्लेम्पसिया का कारण बन सकता है, एक ऐसी कंडीशन जो हाई ब्लड प्रेशर, लिवर और किडनी के कार्य में रुकावट का कारण बन सकती है। अस्थमा आपके बच्चे को ऑक्सीजन की कमी से पीड़ित कर सकता है, जिससे बच्चे में खराब डेवेलोपमेंट, समय से पहले जन्म और जन्म के समय कम वजन हो सकता है।


अनुशंसित लेख