Assam Researcher Barnali Das: असम की रिसर्चर बरनाली दास ने एस्ट्रोनॉमर्स की टीम को लीड किया

Published by
Muskan Mahajan

Assam Researcher Barnali Das:  बरनाली दास के नाम से असम की एक रिसर्चर, अपने सुपरवाइजर प्रोफेसर पूनम चंद्रा और टीम के साथ, आठ रेडियो सितारों की खोज के लिए उन्हें बहुत प्रशंसा मिल रही है। हालाँकि, जो बात इन खोजों को और भी दिलचस्प बनाती है, वह यह है कि ये सभी आठ रेडियो स्टार्स हमारे अपने सूर्य से ज्यादा गर्म हैं और इनमें स्टेलर हवा और काफी मजबूत मैग्नेटिक फील्ड हैं। 

कौन है बरनाली दास?

रिसर्चर बरनाली दास, असम के बजली जिले के रहने वाली हैं और पहले उसने पुणे के नेशनल सेंटर फॉर रेडियो एस्ट्रोफिजिक्स में इंटर्न के रूप में भी काम किया था। प्रेजेंट समय में, बरनाली पुणे नेशनल सेंटर फॉर रेडियो एस्ट्रोफिजिक्स, टाटा इंस्टीट्यूट ऑफ फंडामेंटल रिसर्च में रिसर्च स्कॉलर है। 

बरनाली दास ने एनसीआरए में प्रोफेसर पूनम चंद्रा की देखरेख में पीएचडी थीसिस पूरी की है। बरनाली और उसकी प्रोफेसर दोनों वस्तुओं के एक क्लास कैरेक्टर के पर्पस से वेरियस प्रोजेक्ट्स में लगे हुए थे, जिसे उन्होंने एमआरपी या मेन सीक्वेंस रेडियो पल्स एमिटर नाम दिया था। उन्होंने इस रेयर कैटेगरी से संबंधित आठ सितारों की खोज के लिए अपग्रेडेड विशालकाय मीटरवेव रेडियो टेलीस्कोप (uGMRT) का उपयोग किया है। 

बरनाली की रिसर्च

बरनाली दास एक रिसर्चर ने, अपने सुपरवाइजर प्रोफेसर पूनम चंद्रा और टीम के साथ, आठ विदेशी रेडियो सितारों की खोज की है। एक रिसर्च पेपर में टीम द्वारा की गई खोज को हाल ही में एस्ट्रोफिजिकल जर्नल में पब्लिकेशन के लिए स्वीकारा गया है। बरनाली, प्रोफेसर चंद्रा और एनसीआरए टीम के अन्य सदस्यों द्वारा किए गए कार्यों ने पहली बार दिखाया है कि एमआरपी द्वारा एमिटेड रेडियो पल्स में स्टेलर मैग्नेटोस्फीयर के बारे में बड़ी मात्रा में जानकारी होती है। एनसीआरए ने बताया की, टीम ने पिछले कुछ समय में, तीन नए एमआरपी पहचाने हैं। अब तक मिले 15 ऐसे एमआरपी में से 11 को जीएमआरटी का उपयोग करके पहचान हुई है, जिनमें से 8 अकेले 2021 में खोजे गए हैं। 

बरनाली ने अपनी खुशी कैसे व्यक्त की?

“मुझे आपको हमारी खोज के बारे में बताते हुए बहुत खुशी हो रही है। सबसे पहले यह अकेले मेरा काम नहीं है, मेरे सुपरवाइजर प्रोफेसर पूनम चंद्रा ने टीम के साथ हमारे रिसर्च में एक्टिव भूमिका निभाई है। मैं आपको रिसर्च के बारे में समझाती हूं। जैसा कि आप जानते हैं कि ऊपर बहुत से तारे हैं जिनमें से कुछ ठंडे हैं और कुछ सूर्य से अधिक गर्म हैं। रिसर्च का ऐम सूर्य की तुलना में अधिक गर्म तारों को खोजना था। ये तारे नीले दिखते हैं। वे दस हजार से अधिक केल्विन हिट के होते हैं। उनमें से कुछ के पास मजबूत मैग्नेटिक फील्ड है और वे एक तरीके और स्पेसिफिक वातावरण में रिएक्ट कर सकते हैं। पहली एमआरपी 2000 में खोजी गई थी और उसके बाद यह धारणा थी कि इन सितारों को पहचानना मुश्किल है। 

जीएमआरटी प्रोग्राम की सफलता ने इस वर्ग के सितारों के बारे में धारणा बदल दी है। हालांकि जीएमआरटी की हाई सेंसटिविटी के कारण ही सितारों की खोज संभव हो सकी है। जीएमआरटी के साथ सर्वे की सफलता से पता चलता है कि रेयर ऑब्जेक्ट के रूप में एमआरपी की वर्तमान धारणा गलत भी हो सकती है। बल्कि वे शायद ऐसा भी हो सकता है की वह अधिक सामान्य हैं लेकिन इनका पता लगाना मुश्किल हो।” बरनाली ने कहा। 

Recent Posts

Tuberculosis Test In Covid: कोरोना में स्टेरॉइड्स देने के बाद भी खांसी न रुके तो (T.B.) टीबी का टेस्ट कराएं

कोरोना की दूसरी लहर के वक़्त जरुरत से ज्यादा स्टेरॉइड्स का इस्तेमाल किया गया था।…

8 hours ago

कौन है फाल्गुनी पाठक? संगीत की दुनिया में “इंडियन क्वीन” के नाम से जानी जाने वाली

संगीत की दुनिया में "इंडियन क्वीन" के नाम से जानी जाने वाली जिसका नाम लेते…

8 hours ago

Remedies For Dry & Chapped Lips: रूखे होंठो का कैसे करें इलाज?

सर्दियों में मन और तन दोनों में आलस भर जाता है, ठंड की वजह से…

8 hours ago

Who Is Soundarya Rajnikanth? ऐश्वर्या रजनीकांत की छोटी बहन ने दिल को छूने वाली फोटो शेयर की

रजनीकांत की बड़ी बेटी ऐश्वर्या रजनीकांत का अभी अभी तलाक हुआ है एक्टर धनुष के…

9 hours ago

Are You Ready For Marriage? क्या आप शादी के लिए तैयार हैं? इन बातों को ध्यान में रखकर करें फैसला

शादी सिर्फ लड़का और लड़की के बीच में नहीं होती, दो परिवार और कई नए…

9 hours ago

How To Do Career Planning? एक महिला अपने करियर की प्लानिंग कैसे करे? किन बातों का रखे ध्यान

अक्सर माँ-बाप दूसरों की करियर में सफलता को देखकर आप को वहीं चुनने को कहते…

9 hours ago

This website uses cookies.