लेमनग्रास को सिट्रोनेल भी कहा जाता है और यह लम्बा सा डंठल वाला पौधा होता है। यह बहुत ताज़गी भरा और नींबू की खुशबू जैसा होता है। इसको थाई खाना पकाने में खूब इस्तेमाल किया जाता है। यह ट्रडीशनली अच्छी नींद के लिए उपयोग होता है। इसलिए आज हम आपको बताएंगे लेमनग्रास क्या है और इस के फायदे क्या हैं ?

लेमनग्रास का इस्तेमाल कैसे करते हैं ?

आप सूखा या फिर ताज़ा दोनों लेमनग्रास इस्तेमाल में ले सकते हैं। इसकी पिसी हुई पत्तिया चाय में इस्तेमाल की जाती हैं। इसको एशियाई देशों में कई सूप में फ्लेवर के लिए इस्तेमाल किया जाता है। यह खट्टा और नींबू जैसी खुशबू का होता है। इसको आप मीठा और खट्टा दोनों खाने में इस्तेमाल कर सकते हैं।

लेमनग्रास और हेल्थ का रिलेशन क्या है ?

लेमनग्रास को शरीर और दिमाग के लिए आयुर्वेदा में एक दवाई की तरह इस्तेमाल किया जाता है। इस में एंटी- इन्फ्लैमटॉरी और एंटीऑक्सीडेंट होते हैं। इसको सर्दी कम करने के लिए भी इस्तेमाल किया जाता है।

लेमनग्रास की चाय कैसे पी सकते हैं ?

आजकल मार्किट में कई तरीके की लेमनग्रास चाय मिलने लगी है। अगर आपके पास इसका पेड़ हैं तो आप सीधा ताजी पट्टियां तोड़कर उबलते पानी में 5 मिनट के लिए डालकर चाय बना सकते हैं। इस को आप पुदीना, अदरक और सिनेमन के साथ मिलाकर भी खा सकते हैं। इसको लेने से पहले आप ये जरूर चेक कर लें की इसका कोई साइड इफ़ेक्ट तो नहीं हो रहा है आपके ऊपर।

लेमनग्रास के फायदे क्या हैं ?

1. लेमनग्रास खाने से आपको दांत में कवीटीएस वगेरा नहीं होती है और आप किसी भी तरीके के ओरल इन्फेक्शन से बचे रहते हैं।

2. ऐसा कहते हैं की लेमनग्रास में जो सिट्रल मौजूद होता है उस से कैंसर में आराम मिलता है।

3. एक कप लेमनग्रास चाय आपकी बॉडी को शांत करती है और अगर आपको पेट में दर्द या पाचन सम्बंधित दिक्कत हो तो उसे ठीक करती है।

4. लेमनग्रास को पीरियड्स के दर्द के दौरान कई लोग इस्तेमाल करते हैं।

5. एक कप लेमनग्रास से आपकी टेंशन कम होती है और आप रिलैक्स होते हैं।

 

Email us at connect@shethepeople.tv