कुछ महिलाओं के बीच बैठते वक़्त ब्रैस्ट कैंसर पर चर्चा चल रही थी और तब हमने सोचा कि हम सब को अपने ब्रैस्ट का ख्याल रखना चाहिए। हमे अपने ब्रैस्ट के बारें में उतना ही सोच न चाहिए जितना हम काम, खाना , बाल और शॉपिंग के बारे में सोचते हैं। ब्रैस्ट को टच और महसूस करें वो भी शरीर का ही हिस्सा है –

हमे किसी का इंतज़ार नहीं करना चाहिए कि कोई आकर हमे हॉस्पिटल ले जाएगा और डॉक्टर हमारे ब्रैस्ट का चेक अप करेंगे। ये हम खुद भी कर सकते है। खुद अपने आप को चेक करो अपने ब्रैस्ट को फील करो। 

फैशन ब्लोगर आइना जैन – हम खुद के लिए बहुत मतलबी होते हैं

हम हमेशा खुद को कोसते रहते और कहते रहते है कि मैं अच्छी लगती मैं बुरी लगती हूँ। जब हम किसी से मिलते हैं तो हम सामने वाले को कभी ऐसा नहीं कहते कि तुम कितने गन्दे दिखते हो तम्हारी बॉडी कितनी ख़राब है तुम्हे कितने पिम्पल्स हैं फिर हम खुद के साथ इतना मतलबी क्यों बर्ताव करते हैं। हमे अपने साथ अच्छे से बर्ताव करने की जरुरत है।

आइना कहती है की हम सब ब्रैस्ट कैंसर को इतना ज्यादा इग्नोर क्यों करते हैं ? ” मेरी एक फ्रेंड को जाहिर तौर पर ब्रेस्ट कैंसर के लक्षण थे पर उसने उसे 6 महीने तक इग्नोर करा और कैंसर स्टेज 3 तक पहुच गया ।

नीलाक्षी सिंह एक बॉडी-पोसिटिविटी इन्फ़्लुएन्सर हैं

नीलाक्षी सिंह कहती हैं कि अपना चेक अप कराएँ और इसकी आदत दालें ये कोइ इतना मुश्किल काम नहीं है कोशिश करें कि साल में एक बार आप अपने ब्रैस्ट का चेक अप कराएँ और खुद भी कर्तें रहें

मेघा आर इस्रानी एक फोटोग्राफर हैं

मेघा आर इस्रानी  कहती हैं कि हर सुबह अपने आप को अच्छा महसूस करवाएं। हर सुबह उठकर सबसे पहले अपने आपसे कहें कि आप बेस्ट है आप बहुत सुन्दर हें और अच्चा महसूस करें।

Email us at connect@shethepeople.tv