फ़ीचर्ड

दिल्ली HC: इंटरनेट से आपत्तिजनक चीज़ें हटाने के लिए दिशानिर्देश

Published by
paschima

इंटरनेट से आपत्तिजनक चीज़ों को जल्दी से हटाने के लिए दिल्ली HC के दिशानिर्देशों का पालन अन्य अदालतों द्वारा किया जाना है।
दिल्ली हाई कोर्ट ने कुछ दिशा-निर्देशों को निर्धारित किया, जो इंटरनेट से भड़काऊ या आपत्तिजनक चीज़ों को हटाने के इरादे वाले मामलों से निपटने के लिए अन्य अदालतों में भी इसका पालन किया जायेगा । इन परिवर्तनों को यह सुनिश्चित करने के लिए किया गया है की उन चीज़ों को जल्द से जल्द इंटरनेट से हटाया जाये और किसी और के द्वारा दुबारा पोस्ट नहीं किया जाये।

दिल्ली HC के दिशा-निर्देश

न्यायमूर्ति ए.जे. भामभनी की अध्यक्षता वाली बेंच ने दिशानिर्देशों का नया सेट दिया। अदालत ने अपने बयान में कहा कि ऑनलाइन प्लेटफॉर्म या वेबसाइट पर एक निर्देश जारी किया जाना चाहिए, जिस पर कानून का उल्लंघन करने वाली सामग्री प्रकाशित हो। हालाँकि इस सामग्री को वेबसाइट से हटा लिया जाना चाहिए, लेकिन अधिकारियों द्वारा आगे की जांच के लिए इसे कम से कम 180 दिनों की अवधि के लिए इसे रखा जाना चाहिए। इस अवधि को केस के हिसाब से बढ़ाया भी जा सकता है।

तब न्यायाधीश ने पुलिस को निर्देश दिया कि ऐसे चीज़ों को Google, याहू, बिंग आदि जैसे सभी खोज इंजनों द्वारा सीमांकित और निष्क्रिय किया जाना चाहिए, अदालत ने कहा कि पुलिस को यह भी सुनिश्चित करना होगा कि जिन साइटों ने इसे प्रकाशित किया है वह इसे हटाएं। दिल्ली पुलिस को वेब URL और फोटो URL को हटाने के लिए भी कहा गया था।

भारत में साइबर अपराध

इंटरनेट आबादी के मामले में भारत दूसरे स्थान पर है। वर्तमान में, कर्नाटक साइबर अपराध मामलों की अधिकतम संख्या वाला राज्य है। धन्या मेनन पहली महिला साइबर क्राइम इन्वेस्टिगेटर हैं। SheThePeopleTV के साथ अपने इंटरव्यू में, मेनन ने कहा, “किसी भी उपयोगकर्ता के लिए इंटरनेट सुरक्षित नहीं है। साइबर क्राइम किसी एक लिंग के साथ नहीं होता यहाँ किसी के भी साथ हो सकता है। इससे बचने का केवल एक ही उपाय है और वह की हमें जानना होगा की इसका सही से उपयोग कैसे किया जाता है। जागरूकता ही एकमात्र उपाय है। ”

featured Picture Credits : NDTV

 

Recent Posts

रानी रामपाल: कार्ट पुलर की बेटी ने भारत को ओलंपिक में एक ऐतिहासिक जीत दिलाई

भारतीय महिला हॉकी टीम ने सोमवार (2 अगस्त) को तीन बार की चैंपियन ऑस्ट्रेलिया को…

7 hours ago

टोक्यो ओलंपिक: गुरजीत कौर कौन हैं ? यहां जानिए भारतीय महिला हॉकी टीम की इस पावर प्लेयर के बारे में

मैच के दूसरे क्वार्टर में गुरजीत कौर के एक गोल ने भारतीय महिला हॉकी टीम…

8 hours ago

मंदिरा बेदी ने कहा जब बेटी तारा हसने को बोले तो मना कैसे कर सकती हूँ?

मंदिरा ने वर्क आउट के बाद शॉर्ट्स और टॉप में फोटो शेयर की जिस में…

8 hours ago

क्रिस्टीना तिमानोव्सकाया कौन हैं? क्यों हैं यह न्यूज़ में?

एथलीट ने वीडियो बनाया और इसे सोशल मीडिया पर साझा करते हुए कहा कि उस…

9 hours ago

लखनऊ कैब ड्राइवर मारपीट वीडियो : DCW प्रमुख स्वाति मालीवाल ने UP पुलिस से जांच की मांग की

लखनऊ कैब ड्राइवर मारपीट वीडियो मामले में दिल्ली महिला आयोग (DCW) की प्रमुख स्वाति मालीवाल…

9 hours ago

स्टडी में सामने आया कोरोना पेशेंट के आंसू से भी हो सकता है कोरोना

कोरोना की दूसरी लहर फिल्हाल थमी ही है और तीसरी लहर के आने को लेकर…

10 hours ago

This website uses cookies.