बच्चों की परीक्षा का समय चल रहा है, ऐसे में बहुत ज़रूरी है की वह अपने डाइट का ध्यान रखें। साथ ही साथ बच्चों के माता-पिता भी इस बात का ध्यान रखें की बच्चे अपना नुट्रिशन ठीक से लें और कुछ भी जंक-फ़ूड ज़्यादा न खाएं।

image

इसी विषय को लेके हमारी आउटरीच सम्पादक, कावेरी ने चीफ- डायटीशियन मेघना ओज़ा से बात की जिन्हें इसी क्षेत्र में आठ साल का एक्सपीरियंस है और फिलहाल यह अहमदबाद के एक फेमस अस्पताल के साथ काम करती हैं।

प्र१- परीक्षा का समय जब नज़दीक आता है तो बच्चे थोड़ा नर्वस होने लगते है, उनको नर्वसनैस दूर करने के लिए क्या खाना चहिए ?

ऊ- ड्राई-फ्रूट्स खाना चाहिए । इनमे जो नुट्रिएंट्स है इस से दिमाग की कोशिकाएं खुलती हैं। बच्चा एनर्जेटिक फील करता है, रोग प्रतिकारक शक्ति बढ़ती है। बच्चे ज़्यादा कॉन्सेंट्रेटे कर सकतें हैं।

मेघना ओज़ा

प्र२- 2। स्टूडेंट्स अपना “कम्फर्ट फ़ूड खाएं या फिर हेअल्थी फ़ूड ?

स्टूडेंट्स को उनके पसंद का पर हेअल्थी फ़ूड खाना चाहिए जैसे के होम-मेड भाखरी आटे का पिज़्ज़ा खाना चाहिए और घर का बना हुआ वेज रैप अच्छा होता है और जितना मैदा कम हो उतना अच्छा।

“और सबसे ज़रूरी बात जो पेरेंट्स को समझनी चाहिए वो यह है आपका बच्चा सबसे अलग है किसी दूसरे बच्चे के साथ कम्पैर न करें। मॉरल सपोर्ट दें। मैडिटेशन स्ट्रेस को मैनेज करने में काफी मदद करता है। सभी बच्चों को उनके एक्साम्स के लिए “आल द बेस्ट” ।- मेघना ओज़ा

प्र३ – स्टूडेंट्स खुद को स्ट्रेस में हाइड्रेटेड कैसे रखें ?

ऊ- निम्बू पानी या फिर नारियल का पानी और छांछ पियें। होम-मेड फ्रूट जूसेस भी काफी लाभदायक हैं।

प्र४- कुछ हेअल्थी टिप्स आप देना चाहेंगी प्री और पोस्ट एग्जाम?

ऊ- एग्जाम के पहले-बच्चे ७-८ घंटे प्रॉपर नींद लें। फिर सुबह एक कप हल्का गरम दूध, बॉर्न्विटा या फिर बूस्ट या कोई भी फ्लेवर के साथ लें। उसके साथ केला या फिर मिक्स फ्रूट बाउल और ड्राई फ्रूट्स या फिर कॉर्नफ़्लेक्स हनी और दूध के साथ लें सकतें हैं। स्प्राउट्स भी लें सकतें हैं, जो कंसंट्रेशन बनाने में मदद करता है।

एक्साम्स के बाद स्टूडेंट्स ,पनीर, परांठा, सब्ज़ी दाल राइस लें सकतें हैं। फ्राइड खाने का सेवन न करें और कोल्ड-ड्रिंक्स एवॉइड करें। प्रीज़र्व्ड खाना न खाएं। हर दो घंटे में खाएं, दही का सेवन अवश्य करें।

Email us at connect@shethepeople.tv