हम अक्सर यह भूल जाते हैं कि हमारे आसपास जितने भी लोग हैं और सभी के साथ हमारी कोई न कोई रिश्ते जरूर है और इमोशनल बैलेंस होना जरूरी है। आइए जानते हैं रिश्तों में इमोशनल बैलेंस कैसे बनाएं ?

रिश्तों में इमोशनल बैलेंस क्यों ज़रूरी

  • बैलेंस के बिना रिश्ते एक तरफ़ा हो जाते हैं।
  • इमोशन बैलेंस होने से आपका स्वास्थ्य भी अच्छा रहता है।
  • अच्छे रिश्तो के कारण स्वास्थ्य लंबा अच्छा रहता है।
  •  बैलेंस के कारण आपकी मेंटल हेल्थ भी अच्छी बनी रहती है।

ऐसे और भी कारण है जिनके लिए इमोशनल बैलेंस जरूरी है पर आइए जानते हैं कि इस बैलेंस को रिश्तों में कैसे बनाए रखें  ?

1.  बातें करने की कोशिश करें

अगर आपको लगता है आपके रिश्ते में आपके पार्टनर के साथ थोड़े मनमुटाव हो गए हैं तो उनको और बढ़ाने की बजाय अपने पार्टनर से बातें करें।

2. बातों के लिए वजह ढूंढे

हमेशा पार्टनर से बात करने के लिए कोई ठोस वजह होना जरूरी नहीं है। आप घर की कोई इधर उधर की या फिर दुनिया में चल रहे किसी भी टॉपिक को उठा कर बात कर सकते हैं।

अपने पार्टनर को महसूस कराएं कि आप उनसे बात करना चाहते हैं।

3. पार्टनर पर धौंस न जमाएं

रिश्तो में कभी भी दो लोगों में ऊंच-नीच का भाग नहीं होना चाहिए। दोनों ही पार्टनर किसी भी रिश्ते में बराबर होते हैं इसलिए कोई भी अपने पार्टनर पर किसी भी तरीके से धौंस जमाने की कोशिश ना करें।

4. एक दूसरे के प्रति सम्मान की भावना रखें

अक्सर मनमुटाव होने पर लोग एक दूसरे से बात करना बंद कर देते हैं या फिर खुद को सही साबित करने के लिए कुछ गलत कर बैठते हैं।

लेकिन हमेशा याद रखें हर किसी का अपना विचार होता है इसलिए अपने पार्टनर के विचारों का सम्मान करें और उनकी चॉइस इस पर सवाल ना उठाएं।

रिश्तों में इमोशनल बैलेंस होने से आप खुश रहते हैं। इससे रिश्तें लंबे समय तक भी चलते हैं।

Email us at connect@shethepeople.tv