Health Benefits of Eating Watermelon : जानिए, तरबूज़ खाने के 5 फ़ायदे

Swati Bundela
30 Jun 2021
Health Benefits of Eating Watermelon : जानिए, तरबूज़ खाने के 5 फ़ायदे

आम फलों का राजा है तो तरबूज़ प्रधानमंत्री। मैं तो यही मानती हूं। तरबूज़ मीठा और रसीला तो होता ही है साथ मे उसके कई फायदे भी हैं। आइये देखें राजा के प्रधानमंत्री क्या क्या काम करते हैं। क्या आप जानते है तरबूज़ खाने के फ़ायदे ।

तरबूज़ खाने के फ़ायदे :


‌दिल की दवा है


तरबूज़ विटामिन सी की खान होता है और ये साबित हो चुका है कि विटामिन सी से आर्टरीज जमती नहीं हैं, ब्लड वेसेल्स की फ्लेक्सिबिलिटी बनी रहतीं है और सूजन की शिकायत भी कम होती है। ज़्यादातर दिक्कत की वजहों को तरबूज़ कम करने की ताकत रखता है। ये हाई ब्लड प्रेशर और दिल की बीमारियों से रक्षा करता है।

‌प्रोस्ट्रेट कैंसर से बचाता है


तरबूज़ लायकोपीन में भी रिच होता है। लायकोपीन टमाटर में बहु मौजूद होता है। ये एक बहुत अच्छा एन्टी ऑक्सीडेंट है जो कि पुरुषों की प्रोस्टेट कैंसर से रक्षा करता है। तरबूज़ और बर्फ वाली ग्रीन टी को साथ मे लेने से और ज़्यादा मदद मिलती है क्योंकि ये दोनों एन्टी ऑक्सीडेंट मिल के बॉडी में कैंसर से लड़ने मे बहुत मददगार हैं।

‌विटामिन बी1 से भरपूर है


विटामिन बी1 नर्वस सिस्टम हैल्दी रखने में बहुत मदद करता है और इसकी कमी कंफ्यूज़न और मेमोरी लॉस जैसे परेशानियां खड़ी कर देता है। शराब जैसी ऐल्कोहॉल वाली चीजों का सेवन करने से विटामिन बी1 कम होता है। तरबूज़ इस कमी को पूरा करता है और विटामिन बी1 के अच्छे स्त्रोत की तरह तरबूज़ बहुत उपयोगी है।

‌ब्लड फ्लो में मदद करना है


तरबूज़ के पास एक यूनिक सिटरूल नामक एमिनो एसिड है जो हमारी बॉडी में आरजीनिन बनाता है। आरजीनिन ब्लड फ्लो में मदद करना है और ब्लड का वॉल्यूम भी बढाता है। इसे इरेक्टाइल डिसफंक्शन के इलाज के लिए भी रिसर्च किया जा रहा है।

‌एक्सरसाइज के बाद का बेस्ट एनर्जी फ़ूड है


92% पानी होने के साथ साथ इसमे ढेर सारा पोटैशियम और मैग्नीशियम भी होता है। ये दोनों मिनरल्स एक्सरसाइज के दौरान हमारी बॉडी से सोडियम के साथ पसीने में निकलते हैं। इनकी कमी तुरन्त पूरी करने की ज़रूरत होती है।

पोटैशियम और मैग्नीशियम एलेक्ट्रोलयट्स होते हैं जो हमारे बॉडी के सिग्नल दिमाग से लेके हर जगह पहुचाने में मदद करते हैं। इसे मसल्स कॉन्ट्रैक्शन और रिलैक्सेशन मे भी बॉडी के द्वारा काम मे लाया जाता है।

अनुशंसित लेख