अपने साथी को लेकर पोस्सेसिव होना, आपके रिलेशनशिप को डैमेज कर सकता है। ऐसे कई कारण हैं जिनकी वजह से आप पोस्सेसिव हो सकते हैं, जिनमें भरोसा ना कर पाना, जलन होना या कम आत्मसम्मान होना शामिल है लेकिन आपको इन चीज़ों से ऊपर उठ कर ख़ुद पर काम करने की ज़रूरत है। हद से ज़्यादा पोस्सेसिवनेस आपको नकारात्मक भी बनाता है इसलिए अपने बर्ताव का दोष साथी के सर पर डालने से बेहतर है अपनी कमियों को पहचानिये। possessive partner banne se bachne ke tarike.

जानिए पोस्सेसिव पार्टनर बनने से बचने के कुछ तरीके –

1. पास्ट से बाहर आइये

हो सकता है आपके पास्ट रिलेशनशिप एक्सपीरिएंसेस अच्छे ना रहे हों, शायद आपके पिछले पार्टनर ने आप पर चीट किया हो, लेकिन आप जो कुछ भी पहले अनुभव कर चुके हैं, उसके बेसिस पर इस रिलेशनशिप को मत ख़राब करिए। यह एक नया रिलेशनशिप है, एक नये इंसान के साथ। जब तक आप पास्ट में अटके रहेंगे, आपका प्रेसेंट बुरी तरह से एफेक्ट होता रहेगा और आपकी पोस्सेसिवनेस आपके पार्टनर का दम घोटने लगेगी। इसलिए पिछली बातों को भुला कर नई शुरुआत करिए।

2. परेशान होना छोड़ दीजिए

इस बात की चिंता करना कि आपका साथी सच में आपसे प्यार करता/करती है या नहीं, आधारहीन(baseless) है।उन्हें अपने डर से परेशान करना बंद कर दीजिये। जब वो आपके साथ हैं, तो उन पर विश्वास करें। वो आपसे प्यार करते हैं इसीलिए आपके साथ हैं, आपने उन्हें फ़ोर्स नहीं किया था। उनके प्यार पर सवाल मत उठाइये।

3. पार्टनर पर नज़र मत रखिये

किसी पर नज़र रखना बहुत बुरी आदत है। अगर आप पार्टनर के मेल्स, सोशल मीडिया इत्यादि चेक करते रहते हैं या किसी का फ़ोन आने पर कान लगा कर सुनने की कोशिश करते हैं तो आप एक बुरे पार्टनर साबित हो रहे हैं। रिलेशनशिप का मतलब ये नहीं है कि आप उनकी प्राइवेसी का हनन करने लगें। उनकी निजता का सम्मान करना सीखिए। अगर नहीं कर सकते तो इस रिलेशनशिप का कोई मतलब नहीं है क्योंकि ऐसे में दिन प्रतिदिन आपका शक बढ़ता ही जाएगा और इससे आप दोनों को ही नुकसान पँहुचेगा।

4. अपनी इंसेक्योरिटीज़ पर काम करिए

कोई भी पर्फेक्ट नहीं होता है। यदि आपको लगता है कि आपके पास कुछ ऐसी कमियाँ हैं जिन्हें आप आसानी से दूर कर सकते हैं, तो उन पर काम करें। अगर आप पोस्सेसिव हैं तो इसमें आपके पार्टनर की कोई गलती नहीं है इसलिए उन पर दोष डाल कर अपनी हरकतों को जस्टिफ़ाय ना करें। जो किया जा सकता है, किया जाना चाहिए। अपनी इंसेक्योरिटीज़ पर काम करना सिर्फ रिलेशनशिप के लिए नहीं, बल्कि आपके लिए भी अच्छा है। आपकी इंसेक्योरिटीज़ आपको परेशान करती रहेंगी, चाहे आप किसी के भी साथ हो इसलिए खुद पर वर्क करिए।

5. अपनी लाइफ़ बिल्ड करने पर फोकस कीजिए

यदि आपके पास अपनी जॉब, अपने खुद के शौक और अपनी सोशल लाइफ़ होगी, तो आप अपने साथी के लिए ज़्यादा दिलचस्प व्यक्ति होंगे। एक साथ समय बिताना ज़रूरी है, लेकिन इसके अलावा अपने साथ समय बिताना भी उतना ही ज़रूरी और मज़ेदार है। जब आप अपनी लाइफ़ बिल्ड करने पर फोकस करेंगे तो आपका ध्यान बँटेगा, आप मैच्योर होंगे और आपका पोस्सेसिव बिहेवियर ख़ुद ही ठीक होने लगेगा।

6. पार्टनर को बदलने की कोशिश मत करिए

आपके पार्टनर जैसे थे आपने उसी रूप में उन्हें पसंद किया था ना तो फ़िर अब उन्हें बदलने की चाह क्यों है आपके मन में? वो एक इंसान हैं, उनका अपना जीने का ढंग है। आपको इसे बदलने की कोशिश नहीं करनी चाहिए। किसी को अपने अनुसार ढालने की कोशिश करना, प्यार नहीं होता। प्यार का मतलब एक्सेपटेंस है।

ये थे possessive partner banne se bachne ke tarike.

Email us at connect@shethepeople.tv