जनरलली हर 1-3 साल के बच्चों में दांत से काटने की आदत होती है। आप इसे देख उसे डांटते-फटकारते हैं | कभी कभार झापड़ भी देते हैं। आप अपनी जगह ठीक है| लेकिन मारना, डांटना-फटकारना ठीक नहीं हैं। आप के ऐसे स्ट्रोक बच्चे को दुखी कर सकते हैं| जो बच्चे और आपके लिए काफी नुकसानदायक होता हैै। जानते हैं कि बच्चे की काटने की आदत आप में परेशानी,पैदा करती है। पर आपने कभी सोचा है कि बच्चा ऐसा क्यों करता है।ज्यादातर 1-3 साल के बच्चों में दांत से काटने की आदत होती है।

image

इस ऐज केटेगरी के बच्चे बोलना सीखते हैं, लेकिन साफ-साफ बोलने में परफेक्ट नहीं होते। ऐसे में वे बहुत से एक्सप्रेशंस को दांत से काटकर बताते हैं। या यूं कह सकते हैं कि इस ऐज केटेगरी के बच्चों में खुशी, क्रोध या हताशा की भावनाओं को व्यक्त करने का तरीका है।वातावरण, एक्टिविटीज या लोगों के हाव-भाव बच्चे के मन को अट्रैक्ट करते हैं। बच्चा अपने हाव-भाव को दांत काटकर व्यक्त करता है।

अपनाये यह 6 आसान टिप्स बच्चों की दांत से काटने की आदत को छुड़ाएं के लिए

  1. बच्चे को करीब से देखिए–  बच्चा अधिक काटता है तो माता-पिता को अधिक सतर्क होना चाहिए। रोना, चिल्लाना, फुफ्फुस, पैर हिलाना जैसे लक्षण काटने से पहले के हो सकते है। कड़ी निगरानी रखने से पेरेंट्स को समय पर बच्चे को नियंत्रित करने में मदद मिल सकती है।
     
  2. बच्चे का ध्यान पलटाएं -आपने जान लिया कि बच्चा गुस्से में है, तो उसे प्यार करें। उसका ध्यान गुस्से वाली चीजों से दूर करें। यानी ध्यान हटाएं। बच्चे को उसकी पसंदीदा बातों, खिलौने या खाने की चीज में बिजी करें, ताकि बच्चा गुस्से वाली बात को भूल ही जाए।
     
  3. अल्टरनेटिव प्रैक्टिसेज पर चर्चा करें– बच्चा आमतौर पर किसी को काटने के बाद सभ से ज्यादा अंकमफरटेबल और कॉन्ससियस फील करता है। उन्हें शर्मिंदा करने के बजाय, यह समझाएं कि काटना नहीं चाहिए और रिस्पांस को बोलकर व्यक्त करना चाहिए।
     
  4. शेयरिंग करना सिखाएं – आमतौर पर बच्चा जिसके साथ खेलता है उसे ही काटता हैै | या जब बच्चे को दूसरे बच्चे को खिलौना चाहिए होता है तो वह काटता हैै। ऐसे में आप बच्चे को शेयरिंग करना सिखाएं। जब बच्चा सीखेगा कि चीजें दूसरे के साथ शेयर्ड करना सीखेगा तो वह काटेगा नहीं।
     
  5. स्टोरी से सिखाएं – कोई भी बात बच्चे कहानी के मेडियम से जल्द सीखते हैं। आप उन्हें कोई कहानी सुनाएं जिसमें काटना बुरी बात बताई गई हो। वो इसे समझेंगे और इम्प्लीमेंटेशन में लाएंगे। 
     
  6. जब आपके बच्चे को दूसरा बच्चा काटे -गुस्से में नहीं आएं कि दूसरे बच्चों ने आपके बच्चे को काट लिया हो तो। ऐसे में आप पेशेंस से काम लें। इससे निपटने के लिए अपने बच्चे को सुरक्षित माहौल दें। जिस बच्चे ने आपके बच्चे को काटा है |उससे अपने बच्चे को दूर रखें। बच्चे को डांटे नहीं कि फ्लांने तुम्हें क्यों काटा है, तुमने कुछ क्यों नहीं कहा, तुम्हें भी काटना चाहिए था। ऐसी बातों से आप बच्चे को बदला लेने की भावना सीखा रहे हैं। इसकी जगह आप बच्चे को प्यार करें। उसे समझाएं जब ऐसा हो तो दूर हो जाना चाहिए और दूसरों को काटना गंदी बात है।
Email us at connect@shethepeople.tv