कंगना रनौत ने एक बार फिर से सोशल मीडिया पर चल रहे किसान विरोध बारे में भावनाएं व्यक्त की हैं। उन्होंने विरोध को ‘पॉलिटिकली मोटिवेटेड’ कहा और जानना चाहा कि वह हमेशा अपने आप को साबित करने के लिए क्यों मजबूर हैं। रनौत ने यह जानने की भी मांग की कि लोग दिलजीत दोसांझ और प्रियंका चोपड़ा के इरादों पर सवाल क्यों नहीं उठा रहे हैं।

image

कंगना रनौत ने किसान विरोध के बारे में बात की, शाहीन बाग दाड़ी को क्रिटिसाइज़ (criticize ) किया ।

कंगना ने इंस्टाग्राम पर एक वीडियो शेयर किया जहां उन्होंने किसान विरोध के बारे में बात की और ऑनलाइन धमकी जो उन्हें मिली। उन्होंने कहा कि विरोध प्रदर्शनों के वास्तविक स्वरूप के सामने आने के बाद वह बोलने के लिए मजबूर है। कंगना ने उन पंजाबियों के बारे में भी बताया, जो, खालिस्तान ’नहीं चाहते है, और खुद भारत का हिस्सा बनना चाहते है। उसने नागरिकता कानून का विरोध करने के लिए शाहीन बाग दादी को क्रिटिसाइज़ किया और उसे अनपढ़ कहा।

“Like the Shaheen Bagh dadi couldn’t read but was protesting to save her citizenship, the dadi from Punjab has been hurling abuses at me and trying to save her land from the government, what is happening in this country? Friends, how do we allow ourselves to be so vulnerable before these terrorists and foreign powers?” यह कंगना रनौत के शब्द हैं जो उनके विचारो को प्रकट करते है।

रनौत ने यह जानने की भी मांग की कि लोग दिलजीत दोसांझ और प्रियंका चोपड़ा के इरादों पर सवाल क्यों नहीं उठा रहे हैं।

रानौत बहुत समय से विवादों का हिस्सा रही हैं। वह किसान विरोध को लेकर दिलजीत दोसांझ के साथ ट्विटर पर लड़ाई कर रही थी। तापसी पन्नू, ऋचा चड्ढा, स्वरा भास्कर ने किसानों को समर्थन देने के लिए दोसांझ की प्रशंसा की।

पढ़िए: पांच बॉलीवुड अभिनेत्रियों के छिपे हुए शौंक

Email us at connect@shethepeople.tv