औरतों में अक्सर पीरियड्स देर से आने की समस्या देखी जाती है। पर यह समस्या कई महिलाएं नज़रंदाज़ कर देती हैं जिसके कारण शरीर में कई सारी समस्याएं हो सकती हैं। तो आइये जानते हैं पीरियड्स लेट आने के कारण क्या होते हैं  ?

पीरियड्स लेट आने के कारण

1. स्ट्रेस लेना

ड्रेस लेने से आपके शरीर में हार्मोन में बदलाव आ सकता है जो कि आपके डेली रूटीन को बदल सकते हैं।

डेली रूटीन बदलने से आपके दिमागी हिस्से पर भी प्रभाव पड़ेगा जो पीरियड्स को मैनेज करता है।

2. वज़न कम या बढ़ने से

अक्सर कई महिलाएं अपने वज़न पर इतना ध्यान देती हैं कि उन्हें ईटिंग डिसऑर्डर्स होने लगते हैं जोकि पीरियड्स लेट आने या उनके मिस होने के लिए ज़िम्मेदार हो सकते हैं।

वजन बढ़ने से भी पीरियड्स इर्रेगुलर हो जाते हैं। इसलिए आप अपने वजन को नियमित बनाए रखें।

3. PCOS (polycystic ovary syndrome)

पीसीओएस एक ऐसी समस्या है विदेश में महिलाओं के शरीर में मेल हार्मोन एंड्रोजन ज्यादा प्रोड्यूस होता है। इनके कारण ओवरी में सिस्ट बनने लगते हैं जोगी हार्मोन इन बैलेंस का कारण हो सकते हैं।

इसकी वजह से ही पीरियड्स इर्रेगुलर या लेट हो सकते हैं।

4. बर्थ कंट्रोल पिल्स

अगर आप लगातार बर्थ कंट्रोल पिल्स लेती हैं तो यह आपकी ओवरी से एग रिलीज़ होने से रोक सकते हैं क्योंकि इन पिल्स में एस्ट्रोजन और प्रोजेस्टिन जैसे काफी ज्यादा हार्मोन होते हैं।

इनफील्ड के लेने के 6 महीने बाद जाकर आप की पीरियड साइकिल वापस सही हो पाएगी।

5. अर्ली पेरी मेनोपॉज

कई सारी महिलाओं में मेनोपॉज 45 से 55 की उम्र में ही शुरू होने लगता है। इसके कारण ही उन्हें लेट पीरियड्स का सामना करना पड़ सकता है।

अगर आप ज्यादा दर्द, बुखार, उल्टी या ज्यादा ब्लीडिंग देखने को मिल रही है तो अपने डॉक्टर को जरूर दिखाएं।

तो ये थे पीरियड्स लेट होने के कारण।

Email us at connect@shethepeople.tv