इंडिया की Leena Nair बनी फैशन ब्रांड Chanel की ग्लोबल सीईओ, जानिए इनके मोटिवेशनल कोट्स

इंडिया की Leena Nair बनी फैशन ब्रांड Chanel की ग्लोबल सीईओ, जानिए इनके मोटिवेशनल कोट्स इंडिया की Leena Nair बनी फैशन ब्रांड Chanel की ग्लोबल सीईओ, जानिए इनके मोटिवेशनल कोट्स

SheThePeople Team

15 Dec 2021


Leena Nair's Motivation Quotes:  लीना नायर को फ्रेंच फैशन हाउस चैनल का सीईओ घोषित किया गया इस मंगलवार यानी दिसंबर 14 को। लीना नायर, चैनल के मालिक एलेन वर्थाइमर की जगह लेंगी, जो अब ग्लोबल एक्जीक्यूटिव चेयरमैन की भूमिका में आ गई हैं। चैनल अपने ट्वीड सूट, क्विलिटेड हैंडबैग और नंबर 5 परफ्यूम के लिए जाना जाता है। नायर ने अपने करियर की शुरुवात यूनिलीवर से की थी। 

लीना नायर बनी चैनल की सीईओ -

लीना नायर को फ्रेंच फैशन हाउस चॅनेल का नया सीईओ घोषित किया गया है। चॅनेल अपने ट्वीड सूट, क्विल्टेड हैंडबैग और नंबर 5 परफ्यूम के लिए जाना जाता है। नायर ने अपनी करियर के 30 साल यूनिलीवर में बिताए हैं। चॅनेल ग्रुप ने कहा, नायर, जिन्होंने यूनिलीवर में 150,000 लोगों की देखरेख की, नायर जनवरी के अंत में ज्वाइन करेंगी और लंदन में स्तिथ होंगी। इसके साथ ही, नई अपॉइंटमेंट्स एक प्राइवेट कंपनी के रूप में इसकी लॉन्ग टर्म सफलता को सुनिश्चित करेंगे।

यूनिलीवर की स्टेटमेंट -

लीना नायर, ने ग्लोबल चीफ एक्जीक्यूटिव ऑफिसर, चैनल लिमिटेड के रूप में एक नए कैरियर के लिए जनवरी 2022 में कंपनी छोड़ने का फैसला किया, यूनिलीवर ने कहा। 

पिछले तीन दशकों में आउटस्टैंडिंग योगदान के लिए लीना को धन्यवाद देते हुए, यूनिलीवर के सीईओ एलन जोप ने कहा कि, वह यूनिलीवर में अपने पूरे करियर में पायनियर रही हैं, लेकिन चीफ ह्यूमन रिसोर्स ऑफिसर के रूप में उनकी भूमिका से ज्यादा कुछ नहीं, जहां वह क्वालिटी, डायवर्सिटी और इंक्लूजन एजेंडा पर एक प्रेरक शक्ति रही हैं, हमारे लीडरशिप डेवलपमेंट के परिवर्तन पर, और भविष्य के काम के लिए आपकी तैयारियों पर। 

लीना नायर के फेमस मोटिवेशनल कोट्स -

1. लीडरशिप कहीं भी हो सकती है।

2. लीडरशिप केवल ऊर्जा देने के बारे में नहीं है, यह अन्य लोगों की ऊर्जा को उजागर करना है।

3. लीडर्स होने के नाते, हमें डिजिटलीकरण पर ध्यान देने की जरूरत है, लेकिन साथ ही हमें और अधिक ह्यूमन बनने की जरूरत है।

4. तूफ़ान के थमने का इंतज़ार न करें, बारिश में नाचना सीखें।

5. मुझे सेल्फ डाउट के मोमेंट होते थे और मेरे पास सेल्फ डाउट के क्षण अभी भी हैं। लेकिन केवल एक चीज जो मुझे कठिन अनुभवों से निकलने के लिए मोटिवेट करती थी, वह यह है कि मैं उन लोगों के लिए इसे कैसे आसान बना सकती हूं जो मेरे बाद आते हैं।


अनुशंसित लेख