किरण मजूमदार शॉ कौन है ?

किरण मजूमदार शॉ एक इंट्रप्रेनेउर हैं। 25 साल की उम्र में इन्होंने खुद का स्टार्ट अप शुरू किया था। और आज यह इंडिया की बिल्लिनैर इंट्रप्रेनेउर में से एक हैं। शॉ कड़ी मेहनत, समर्पण और ईमानदार की एक सफल उदाहरण है । यह बायोकॉन लिमिटिड की चेयरपर्सन और मैनेजिंग डिरेक्टर है। साथ ही साथ इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ मैनेजमेंट (IIM), बंगलोर की चेयरपर्सन भी हैं ।

image

उनकी यात्रा और चुनौतियाँ :

” मैं 25 साल की थी जब मैंने शुरुआत की । मेरी यात्रा 40 साल पहले जेंडर बायस की वजह से शुरू हुई। ” बायोकॉन के बारे में बताते हुए शॉ ने बोला। ” मैंने अपना सफर गार्बेज की कंपनी से शुरू किया। मुझे पता था कि ये एक चैलेंज होने वाला है पर मैंने सफल होने का संकल्प ले रखा था। में यंग थी और कोई एक्सपीरियंस या कोलैटरल नहीं था। मुझे लोगों को भर्ती करने में समस्याओं का सामना करना पड़ा। लोग महिला के लिए काम करने के लिए तैयार नहीं थे।” उन्होंने कही।

लेकिन, वह जल्द ही ऐसे लोगो से मिली जिन्हीने उनके मिशन पे भरोसा किया, उनका साथ दिया और बायोकॉन को आज के मुकाम तक पहुँचाया।

पोलिटिकल पार्टीज को इंट्रेप्रेनेउर्शिप के लिए लोगों को प्रोत्साहित करना चाहिए क्यूंकि उससे नौकरियां बढ़ती हैं। मैंने बायोकॉन के ज़रिये 20,000 नौकरियां बनाई। – किरण मजूमदार शॉ

किरण के कुछ इंट्रेप्रेनेउर्शिप लेसंस :

1. यदि आप द्रढ हैं , तो लोग आपकी मदद करेंगे ।

किरण ने बताया जी जब उन्होंने शुरुआत की तो उन्हें लोगो की काम पर रखने में बहुत कठिनाई का सामना करना पड़ा क्यूंकि वह युवा थी, कोई अनुभव नहीं था और वह विश्वसनीय नहीं थी। समय के साथ, वह उन लोगों का सही सेट ढूढंने में कामयाब रही, जिन्होंने उनके बिज़नस को बनाने और उससे बढ़ने में मदद की।

2. महिलाएं स्वभाव से ही इंट्रेप्रेंयूरियाल होती हैं ।

शॉ ने इस फैक्ट पर ज़ोर दिया की महिलाओं के डीएनए (DNA) में इंट्रेप्रेनेउर्शिप है। उन्हें इससे आगे बढ़ने के लिए साहस की ज़रुरत होती है। वह इस फैक्ट पर द्रढ विश्वास है की अगर महिलाएं अपने इंट्रेप्रेंयूरियाल सपनों को पूरा करती हैं, तो वे देश की जीडीपी ( GDP) दोगुना कर सकती हैं।

3. अपने बिज़नस के साथ एक मिशन रखें।

वह बहुत गर्व के साथ बोलती हैं कि उनका बिज़नस 10,000 नौकरियों का निर्माण करने में कामताब रहा क्यूंकि वह मानती हैं कि रोज़गार बनाना इंट्रेप्रेनेउर्शिप का एक महत्त्वपूर्ण हिस्सा है।

4. प्रयोग करते रहे ।

उन्होंने यह भी कहा कि हर इंट्रप्रेनेउर को प्रासंगिक बने रहने के लिए नए प्रयोग करते रहने चाहिए।

उन्हीने कहा “अपने आप से पूछें – मैं इस बिज़नस के साथ क्या करना चाहती हूँ ? मुझे किसलिए याद किया जाएगा ? मेरा मिशन क्या है ? ”

5. धीरज रखें ।

उन्होंने कही की धीरज बड़ी चीज़ है। यह हमें कम चंचल बनाता है। आने धीरज और पैमाने को जाने।

Email us at connect@shethepeople.tv