क्या आपके भी दिमाग में कभी ये सवाल आया है कि मेंस्ट्रुअल कप और टेम्पोन से वर्जिनिटी खत्म हो सकती है?  लेकिन पहले ये बात करते हैं कि ये सवाल ज़रूरी भी क्यों है? हम सब जानते हैं कि पीरियड के अराउंड कोई बात भी नही करना चाहता है। ना घर पर, ना किसी और ज़गह। सब अलग-अलग तरीके से या इस टॉपिक पर बात करने से बचते हैं। तो फिर मेंस्ट्रुअल कप तो बहोत बड़ी चीज़ हो गई। क्योंकि ये कुछ ऐसा है जो हमारे वेजाइना के अंदर जाता है और हमारी सोसायटी में किसी भी तरह का, कोई भी चीज़ वेजाइना के अंदर डालना सेक्स से जुड़ा होता है। हां, थोड़ा अजीब है लेकिन ऐसा ही है। (मेंस्ट्रुअल कप और वर्जिनिटी)

इन सब के बावजूद आजकल बहोत लोग इसे यूज़ कर रहे हैं (menstrual cup aur virginity ), क्योंकि-

  1. वातावरण फ्रेंडली है।
  2. ये पैसा भी बचाता है। मेंस्ट्रुअल कप्स को महिलाएं 6 महिनें से 10 साल तक यूज़ कर सकती है।
  3. ये डिस्पोज़ेबल कप्स है।
  4. इससे रेशेज़ या इचिंग नही होती।

फिर भी तुम्हारी मम्मी या रिश्तेदार बोल ही देते होंगे कभी कि ये मत यूज़ करो, तुम्हारी वर्जिनिटी खत्म हो जाएगी। पर क्या ऐसा होगा? इस सवाल के जवाब से पहले जानते है कि आखिर वर्जिनिटी क्या है?

क्या है वर्जिनिटी? (मेंस्ट्रुअल कप और वर्जिनिटी)

हिस्टोरिकली, ये वर्जिन शब्द उन लोगों के लिए यूज़ होता है जिन्होनें कभी सेक्स नही किया। यहां तक कि आज भी कुछ लोग ऐसे हैं जो हाइमन देखकर बता सकते हैं कि लड़की वर्जिन है या नही। पर, क्या वो सही में ऐसा कर सकते हैं? नही, बिल्कुल नही।

बहुत-सी लड़कियां बिना हाइमन के भी पैदा होती हैं और हाइमन कभी-कभी दूसरी चीज़ो से भी टूट सकता है जैसे, साइकलिंग, हेवी एक्सरसाइज और टेम्पोन यूज़ करने से भी। लेकिन क्या इससे आपकी वर्जिनिटी खत्म हो गई? जवाब है- नही। वर्जिनिटी जैसा कोई शब्द मेडिकल ने भी अभी तक डिफाइन नही किया है। ये केवल एक मिथ है।

मेंस्ट्रुअल कप यूज़ करने से आपकी वेजाइना पर कोई असर नही पड़ेगा क्योंकि आपकी वजाइना में खुलने और सिकुड़ने की टेडेंसी है। कप को बाहर निकालने से वो अपने पुरानें शेप में वापिस लौट आएगा। आप कुछ भी यूज़ किजिए चाहे पैड, टेम्पोन या मेंस्ट्रुअल कप इससे आपकी वेजाइना पर कोई असर नही पड़ेगा।(मेंस्ट्रुअल कप और वर्जिनिटी)           

Email us at connect@shethepeople.tv