सरसों का तेल आपको हर घर में मिलेगा। सरसों के तेल के तड़के के बिना भारतीय घरों की सब्जियों में स्वाद नहीं आता है। इस तेल में मोनोअनसैचुरेटेड फैटी एसिड होता है इसकी वजह से कई दिल से जुडी बीमारियाँ नहीं होती हैं। कई बार जब हमारे सर में दर्द हो रहा होता है तो सरसों के तेल को गरम कर के उस में लेसन डालकर चम्पी करने से तुर्रंत आराम मिल जाता हैं। इस से त्वचा और बाल अच्छे रहते हैं और इम्युनिटी बढ़ती है इस के साथ साथ इस तेल से दर्द से भी जल्दी आराम मिल जाता है। आज हम बताएंगे सरसों के तेल के चमत्कारी फायदे –

1. अस्थमा

सरसों का तेल हमेशा से ही अस्थमा और साइनोसाइटिस के मरीजों के लिए फायदेमंद रहा है। जब अस्थमा के मरीज को अर्जेंट में इलाज की जरुरत हो उस वक़्त में सरसों का तेल घर में मिलने वाली सबसे अच्छी औषधि होती है।

2. त्वचा और बाल के लिए

सरसों के तेल में एंटी – बैक्टीरियल और एंटी- फंगल गुण होते हैं जिस से ये त्वचा के लिए बहुत अच्छे से काम करता है। सरसों का तेल बालों में लगाने से बालों की जड़ों तक पोषण पहुंच ता हैं और बाल उगने लगते है।

3. दिल का स्वास्थ्य

सरसों के तेल में MUFA , PUFA और ओमेगा 3 & 6 होता है। ये सभी मिलकर गुड़ कोलेस्ट्रॉल को बढ़ावा देता है और गंदे कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मदद करते हैं। इस से दिल की बीमारियाँ दूर रहती हैं।

4. सर्दी खांसी में आराम

सरसों का तेल गरम होता है इसलिए ये सर्दी जुखाम में बहुत असरदार होता है। इस से हमारी श्वासनलिका गरम रहती है। इस से शरीर के अंदर गर्मी बानी रहती है और सब कचरा निकलता जाता है और जमा नहीं हो पाता है।

5. दर्द से आराम

सरसों का सालों से जोड़ों के दर्द और सूजन के लिए इस्तेमाल होता आया है। इस में सूजन कम करने वाले गुण होते हैं और इस में सेलेनियम होता हैं जिस के कारण जोड़ों के दर्द से तुरंत आराम मिल जाता है। इस तेल से मालिस करने के लिए इस में लेसन डालकर इस को गरम करें और फिर ठंडा होने पर अच्छे से मालिश करें।

Email us at connect@shethepeople.tv