पहली बार मां बनने वाली महिला का भी बच्चे के साथ ही जन्म होता है |क्योंकि पहली बार बच्चे को जन्म देने तक उसे बेबी केयर का कोई अनुभव नहीं होता है | नूबोर्न की देखभाल करना बहुत सावधानी भरा काम होता है |बेबी केयर टिप्स  के बारे में जानकारी उनके लिए जरूरी होती है, जो पहली बार मां बनती हैं| बेबी हेल्थ केयर टिप्स की जानकारी हर मां को होनी चाहिए| न्यू बोर्न की देखभाल के लिए उसके खान-पान, पोषण और साफ-सफाई पर विशेष ध्यान देना होता है|

आइए न्यू बोर्न की देखभाल के लिए जरूरी 8 बेबी केयर टिप्स के बारे में जानते हैं|

1.सफाई का ध्यान रखें

बेबी हेल्थ केयर टिप्स में सबसे पहला स्टेप होता है खुद को साफ रखना क्योंकि मां की स्वच्छता ही बच्चे को हेल्दी बनाती है |न्यू बोर्न बच्चे को अपनी गोद में लेने से पहले हाथों की सफाई के साथ अपने कपड़े भी साफ ही पहनें |अगर आप बाथरूम या बाहर से आ रही हैं, तो अपने कपड़े जरूर बदलें|

2. न्यू बोर्न को गोद में लेने का तरीका

पहली बार मां बनने पर आपको यह भी सीखना होता है |कि बच्चे को गोद में कैसे लिया जाए?क्योंकि न्यू बोर्न बच्चे को अगर ठीक से गोद में नहीं लेते हैं, तो उसकी रीढ़ और गर्दन की हड्डियों में दबाव बन सकता है |ऐसे में न्यू बोर्न शिशु को गोद लेने का सही तरीका जरूर जान लें |

3.बच्चे को झटके और हिलाने से बचें

हम अक्सर देखते हैं कि जब बच्चा रोने लगता है|तो लोग उसे गोद में लेकर हिलाने लगते हैं| बेबी केयर टिप्स में यह मना किया जाता है| बच्चे को झटका या हिलाने से ब्रेन चोट का खतरा रहता है|ऐसे मे बच्चे के ब्रेन हेल्थ पर इफेक्ट पड़ता है|

छोटे बच्चों को गोद में लेकर हिलाने के बजाए धीरे-धीरे चलें और उसे हल्की थपकी के साथ सहलाएं| मां उसे कुछ गाने या लोरी भी सुना सकती है|

4.हवा में उछालने से बचें

कुछ लोगों को आप भी देखते ही हैं |कि बच्चे को हवा में फेंक कर कैच करते हैं| कुछ लोग घुटनों में रखकर पालने जैसा झुलाते हैं| ये दोनों ही तरीके न्यू बोर्न बच्चे के लिए ठीक नहीं है |

5.बच्चे से बात करें

यह सुनने में अजीब लग सकता है| लेकिन बच्चे की मां को अपने शिशु से बात करनी चाहिए |न्यू बोर्न के ब्रेन विकास के लिए यह जरूरी होता है| नवजात शिशु का ब्रेन विकास के क्रम में रहता है ऐसे में उसे ध्वनि और शब्दों की आवाज सक्रिय करती है|

6.डायपर बदलने के टिप्स

नवजात बच्चे के अंडर गारमेंट्स और डायपर को बार-बार चेक करते रहें| हेल्दी बच्चा जल्दी-जल्दी पेशाब करता रहता है| ज्यादा समय तक गंदे डायपर के साथ रहने पर बच्चे में इंफेक्शन और एलर्जी का खतरा बढ़ जाता है| कई बार नवजात शिशु के स्किन पर रशेस पड़ जाते हैं|

7.बेबी फीडिंग बोतल की सफाई जरूरी

अगर आप ब्रैस्ट फीडिंग नहीं कराती हैं, तो बेबी फीडिंग बोतल की सफाई पर विशेष ध्यान दें| नियमित तौर पर फीडिंग बोतल को स्टरलाइज़ करें| दूध पिलाने से पहले बोतल को अच्छी तरह से धो लें|निप्पल की सफाई ठीक तरह से करें| यह बच्चे को बीमार कर सकता है|

8.न्यू बोर्न बेबी को कैसे नहलाएं

वैसे तो जब तक बच्चे की गर्भनाल (umbilical cord) रहती है तब तक बच्चे को नहीं नहलाना चाहिए |जब गर्भनाल गिर जाए तब स्पंज स्नान से शुरुआत करनी चाहिए| बच्चे को नहलाते समय हमेशा सावधानी और सफाई का ध्यान रखें|

Email us at connect@shethepeople.tv