Omicron Variant: ओमिक्रोण बाकि कोरोना वैरिएंट के मुकाबले नहीं होगा ज्यादा खतरनाक

Swati Bundela
08 Dec 2021
Omicron Variant: ओमिक्रोण बाकि कोरोना वैरिएंट के मुकाबले नहीं होगा ज्यादा खतरनाक

Omicron Variant: इंडिया में और पूरे देश में कोरोना वैरिएंट के आने के बाद से सभी आगे क्या होगा इसको लेकर परेशान हैं। टॉप साइंटिस्ट और वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइज़शन का कहना है कि यह वैरिएंट बाकि वैरिएंट जैसे डेल्टा और बेटा से ज्यादा खतरनाक नहीं होगा और उनके जैसा ही होगा।

ओमिक्रोण के आने के कारण से सभी जगह इंटरनेशनल बॉर्डर पर सख्ती हो गयी थी। इंडिया में भी बाहर से आने वाले लोगों की सख्ती से जांचे हो रही हैं और क्वारंटाइन किया जा रहा है।

वैक्सीनेशन की जहाँ तक बात है तो ऐसा मुष्किल है कि यह पूरे तरीके से वैक्सीन का असर कम कर अटैक करे। ओमिक्रोण सबसे पहले साउथ अफ्रीका में मिला था और पिछले हफ्ते यह इंडिया में आया था और अब इसके केसेस 20 पार हो चुके हैं। कल संडे की रात 7 मामले अचानक से निकलने के कारण से मामले बढ़ गए हैं। अब महाराष्ट्र में 2 और मामले निकल आए हैं जिससे इंडिया में मामले अब 23 हो गए हैं।

Omicron Variant किन किन देशों में फैल चुका है?


इंडिया के अलावा भी यह कई और देशों में भी फैल चुका है। यह ओमिक्रोण वैरिएंट साउथ अफ्रीका से शुरू हुआ था और मॉरिशियस, न्यू ज़ीलैण्ड, साउथ अफ्रीका, बांग्लादेश, ब्राज़ील, चीन, ज़िम्बाब्वे, इजराइल, होन्ग कोंग, UK और सिंगापुर में फैल चुका है। एयरपोर्ट पर भी खास कर के उन लोगों पर गौर किया जा रहा है जो इन देशों से आ रहे हैं। इनको ऐरपोट पर रोककर ही इनके टेस्ट किये जा रहे हैं और जीनोम सेण्टर भेजा जा रहा है।

WHO ने अभी तक कोरोना के 4 वैरिएंट्स बताए हैं पहला है उल्फा / UK वैरिएंट, बेटा / साउथ अफ्रीका वैरिएंट, गामा / ब्राज़ील वैरिएंट और डेल्टा / इंडियन वैरिएंट। अब जो यह नया वैरिएंट आया है यह किस तरीके से फैलेगा इसको लेकर अभी कुछ भी नहीं कहा जा सकता है।

वैक्सीन ओमिक्रोण के खिलाफ कितनी असरदार होगी?


भारत बायोटेक का कहना है कि इनकी बनाई गयी कोवैक्सीन वुहान के ओरिजिनल कोरोना वायरस के खिलाफ बनाई गयी थी। इसका मतलब है कि यह इसके वैरिएंट पर भी जहाँ तक है असरदार होगी। इसके अलावा यह नई वैरिएंट के लिए लगातार रिसर्च कर रहे हैं। जॉनसन एंड जॉनसन वैक्सीन का कहना है कि यह इनकी वैक्सीन को नए वारेंट के लिए असरदार मानते हैं। यह एक अकेले ऐसे मैन्युफैक्चरर हैं जो अपनी वैक्सीन के लिए खिलाफ कॉंफिडेंट हैं।

Read The Next Article