पीरियड्स के दौरान हमारे शरीर से बाहर  निकलने वाले खून का रंग हमेशा हिलाल हो यह जरूरी नहीं है। अक्सर महिलाओं को पीरियड्स के दौरान ब्राउन, ब्लैक इत्यादि रंगों के खून भी देखने को मिलते हैं। यह रंग हमारी हेल्थ के बारे में बहुत कुछ बताता है। तो आइए जानते हैं पीरियड कलर आपकी हेल्थ के बारे में क्या बताता है  ?

पीरियड कलर और हेल्थ

1. ब्राउन या भूरा पीरियड कलर

  • ब्राउन पीरियड अक्सर पुराने ब्लड को दर्शाता है।
  • फ्लोर धीरे होने के कारण खून यूट्रस में ज्यादा समय के लिए रहता है जिसके कारण वह ब्राउन बन सकता है।
  • डिलीवरी के बाद कई औरतें ब्राउन ब्लीडिंग कलर की समस्या देखती हैं जिसे लोच्या कहां जाता है।
  • मिसकैरेज के कारण भी कुछ औरतों को ब्राउन पीरियड कलर देखने को मिलता है।

2. काला पीरियड कलर

  • ब्लैक पीरियड कलर भी बिल्कुल ब्राउन ब्लड की तरह होता है जो कि पुराने ब्लड को दर्शाता है।
  • जिस खून को यूट्रस से निकलने में ज्यादा समय लग गया है वह ब्राउन या ब्लैक कलर में बदल सकता है।

3. डार्क रेड

  • कुछ समय लेटने के बाद आपके पीरियड का रंग डार्क रेड हो जाता है। हालांकि यह ब्राउन होने से रुक जाता है क्योंकि यह ऑक्सिडाइज नहीं हो पाता है।
  • पीरियड के आखिर में आपको डार्क रेड  ब्लड देखने को मिल सकता है।

4. हल्का लाल पीरियड कलर

  • हल्का लाल पीरियड ब्लीडिंग की शुरुआत को दर्शाता है।
  • यह बताता है कि आपका ब्लड एकदम फ्रेश है और जल्दी-जल्दी बह रहा है।

5. गुलाबी रंग

  • गुलाबी रंग का पीरियड के शुरुआत व अंत में देखने को मिलेगा। यह आपको बताता है कि आप के खून में कुछ सरविकल फ्लूइड भी मिल चुका है।
  • यह आपके शरीर में एस्ट्रोजन की कमी को दर्शाता है।

पीरियड्स के रंग इसी तरह बदलते रहते हैं जिनके पीछे काफी सारे अन्य समस्याएं हो सकती हैं इसलिए जब भी आप अपने पीरियड में कोई भी बदलाव देखती हैं तो अपने डॉक्टर को जरूर दिखाएं।

Email us at connect@shethepeople.tv