उषा रानी बैडमिंटन चैंपियन साइना नेहवाल की माँ है। जो रिश्ता वे एक-दूसरे के साथ बांटती है वह तो साइना नेहवाल की आने वाली फिल्म ‘साइना’, जो उनकी जीवनी पर आधारित है, उसके ट्रेलर से हमें पता चल ही जाता है। यह फिल्म थिएटर में 26 मार्च को रिलीज होगी। ट्रेलर से हमें पता चलता है कि किस तरह उषा रानी अपनी बेटी साइना को लगातार इनकरेज करती है और उसकी ढांढस बांधती है ताकि वह और बेहतर तरीके से खेल पाए। हर बेटी को अपनी माँ से ऐसी ही उम्मीद होती है। यह कहना गलत नहीं होगा कि उषा रानी और साइना नेहवाल दोनों हमें मेजर मदर डॉटर गोल्स देते हैं।

जानिए ये बातें साइना नेहवाल की माँ उषा के बारे में

1) बॉन्ड इन रियल लाइफ

जब साइना नेहवाल 2018 के कॉमनवेल्थ गेम्स में स्वर्ण पदक विजेता बनी, तब उन्होंने बताया कि उनकी माँ उषा उन्हें उनके पिता से भी ज्यादा मोटिवेट और इनकरेज करती हैं। वे बताती हैं कि वे अपनी माँ को अपने सुख-दुःख की सारी बातें बताती हैं। साइना अपनी माँ के सबसे करीब है और वे अपनी सारी इमोशनल टॉक्स भी उन्ही से करती हैं।

2) प्रेरणा स्त्रोत

उषा रानी खुद एक बैडमिंटन खिलाड़ी रह चुकी हैं। वे अपने राज्य हरियाणा के लिए खेला करती थीं। साइना नेहवाल ने अपनी माँ का सपना; नेशनल लेवल बैडमिंटन चैंपियन बनाना पूरा करना चुना। उनकी माँ उन्हें कहती थी कि अगर दूसरे कर सकते हैं तो तुम क्यों नहीं। साइना का कहना है कि जो कॉन्फिडेंस और इनकरेजमेंट उनकी माँ उन्हें देती है, उसका कोई मुकाबला नहीं। इसी से उनमें अपने विपक्षी को हराने की क्षमता मिलती है।

3) साइना नेहवाल को स्ट्रॉन्ग बनाया

साइना की बड़ी बहन अबु चंद्रांशु एक वॉलीबॉल प्लेयर रह चुकी है।अपने अस्थमा की बीमारी के कारण वे लंबे समय तक इस खेल को कंटिन्यू नहीं कर पाई। इसलिए उषा रानी चाहती थी कि साइना नेहवाल स्ट्रॉन्ग बने। वे इस बात से खुश है कि साइना उनकी सारी उम्मीदों पर खरी उतरी।

4) हौसला बढ़ाया

साइना का कहना है कि हर बार सबकी उम्मीदों को पूरा कर पाना मुश्किल होता है। लेकिन ऐसे समय में उनकी माँ उषा उन्हें  शांत रखती थी। उषा रानी का मानना था कि उनकी बेटी और इंप्रूव कर सकती है, और बड़ी ऊंचाइयों को हासिल कर सकती है। यदि साइना अपना कोई मैच हार जाती थी तो उषा उनसे कहती थी कि कोई बात नहीं चलो हम तुम्हारे अगले मैच की तैयारी करते हैं।

5) छोटी-मोटी नोंक-झोंक

उषा कहती हैं कि उनका और साइना का भी रिश्ता वैसा ही है जैसा कि एक मां बेटी के बीच में होता है। उषा बताती हैं कि साइना को उनके हाथ की बनी छोले-पूरी, मेथी आलू और पराठे बहुत पसंद है। वे दोनों साथ बैठकर टीवी और फिल्में भी देखती हैं। कई बार उनके बीच ए.सी. को लेकर छोटी मोटी नोकझोंक भी होती है।

Email us at connect@shethepeople.tv