शाहाना गोस्वामी एक जानी – मानी एक्ट्रेस हैं। उन्होंने कई इंडियन और इंटरनेशनल फिल्में व वेब सीरीज में काम किया है। वे कुछ म्यूजिक विडियोज में भी फीचर हो चुकी हैं। निमरत कौर अहलूवालिया एक मॉडल और टीवी कलाकार है। वे फेमिना मिस इंडिया मणिपुर 2018 का खिताब भी जीत चुकी हैं। वे इसी के साथ थिएटर आर्टिस्ट, ट्रेंड जैज़ डांसर, सोशल सर्विसेज में भी इंवॉल्व हैं। वे अभी टीवी सीरियल छोटी सरदारनी में लीड रोल कर रही हैं।

शीदपीपल के साथ एक एक्सक्लूसिव बातचीत के दौरान निमरत कौर और शाहाना गोस्वामी ने ये बातें कहीं

प्रश्न 1) निमरत आप क्या सोचती हैं एक ब्राइड के लिए हमेशा एक प्रिस्क्रिप्शन क्यों होता है?शाहाना गोस्वामी – निमरत कौर

निमरत कहती हैं कि मेट्रिमोनियल एड्स में हमेशा एक गोरी, पतली, सुंदर लड़की की मांग पहले होती है और फिर बाद में उसके क्वालिफिकेशंस जो की गलत है। वे बताती हैं की ब्यूटी एक सब्जेक्टिव मैटर है। आपको ये अक्सर देखने को मिलेगा की कुछ लोग तो आपकी तारीफ़ करेंगे लेकिन कुछ फिर भी ऐसे होंगे जो आप में कोई और खोट निकालेंगे। आप सबको प्लीज़ नहीं कर सकते और करना भी नहीं चाहिए।

प्रश्न 2) शाहाना आप जब फिल्म इंडस्ट्री में आई थी तब आपको किन स्टीरियोटाइप्स का सामना करना पड़ा था?

शाहाना बताती हैं कि उन्हें पर्सनली उनके स्किन कलर को लेकर कभी कोई डिस्क्रिमिनेशन नहीं फेस करना पड़ा। परंतु उन्हें तुम अच्छी एक्टर हो लेकिन ग्लैमरस नहीं हो ये हर कोई कहता था। उन्हें उनके बॉडी वेट के लिए भी कहा जाता था। वे बताती हैं कि फिल्म इंडस्ट्री में आप कितने भी टैलेंटेड हों पर आपके फिजिकल आपीयरेंस की वजह से आपको कई बार नकारा जाता है। लोगों की इमेजिनेशन आपको लेकर बहुत छोटी होती है। वे आपको बदलते हुए नहीं देखना चाहते।

प्रश्न 3) निमरत आपने कैसे सोसाइटी के प्रेशर ऑफ़ सर्टेन टाइप ऑफ़ बॉडी से ऊपर उठकर आपने आप को अपनाया?

निमरत कहती हैं कि पहले उन्हें इन बातों से काफ़ी फ़र्क पड़ता था। जब मिस इंडिया के टाइम भी उनका कंपेरिजन किसी से किया जाता था तो उन्हें लगता था की शायद वे सच में सुंदर नहीं हैं। पर जब से उन्होंने टीवी सीरियल में काम करना शुरू किया, उनका कॉन्फिडेंस लेवल बढ़ गया है। वे बोली कि अब अगर उन्हें एक ऐसे रूम में खड़ा कर दिया जाए जहां शायद उनसे सुंदर लड़कियां हैं, तो उन्हें इस बात से अब कोई फ़र्क नहीं पड़ेगा।

प्रश्न 4) शाहाना अक्सर कहा जाता है कि अगर आप एक बॉलीवुड अभिनेत्री हैं तो आप स्लिम, फेयर होनी चाहिए। आपने ऐसी सिचुएशन से कैसे डील किया?

शाहाना कहती हैं कि लोग सिर्फ़ आप जो कैरेक्टर प्ले करते हैं उसे देखते हैं। वे उसके पीछे छुपे इंसान को नहीं देखते। ये बात वे अपनी फिल्म रॉक ऑन के रोल को लेकर करती हैं। वे बताती हैं कि उनके करीबी लोग भी अब उन्हें वेट लूज करने को बोलते हैं। वे उन्हें काउंटर करती हुई कहती हैं कि वे जैसी हैं वैसा ही रहना चाहती हैं और वो इतनी दूर तक अपने बलबूते पर आई हैं। अंत में वे कहती हैं कि यदि उनके किसी कैरेक्टर के रोल के लिए वे वेट कम या ज्यादा करने को तैयार होंगी क्योंकि वे अपने काम के प्रति

डेडीकेटेड हैं।

Email us at connect@shethepeople.tv