डिप्रेस्ड व्यक्ति से बात करते समय हमें बहुत ध्यान से उनकी बात सुननी चाहिए व उनका ख़्याल रखना चाहिए । डिप्रेस्ड व्यक्ति अपने आप को बहुत अकेला समझता है वो यह सोचता है कि कोई उसे नहीं समझता है इसलिए कभी भी उसे अकेला न छोड़ें ये कोशिश करें कि कोई न कोई हमेशा उसके साथ रहे । अब डिप्रेशन किसी एक खास उम्र तक नहीं रह गया है वो हर उम्र के लोगों को हो रहा है भले ही वो बच्चे हों, युवा हों या फिर वो बुजुर्ग हों । डिप्रेशन हमें मानसिक रूप से ही नहीं बल्कि शारीरिक रूप से भी बहुत बीमार बना देता है। डिप्रेशन में व्यक्ति अपने आपको अकेला, बेकार व यूजलेस समझने लगता है ।

1. तुम तो जागते ही रहते हो

जो व्यक्ति डिप्रेशन में होता है या तो वो बहुत अधिक सोता है या फिर बहुत कम सोता है । आप विशेष रूप से यह ध्यान दें कि वह कितना सो रहा है हमारे शरीर को 8 घंटे की नींद पर्याप्त होती है । तो यह पक्का कर लें की डिप्रेस्ड व्यक्ति कम से कम 8 घंटे की नींद ले । उनको आप यह बता बोल बोल कर कि तुम सोते नहीं हो और निराश न करें।

2. उनकी बात को अनसुनी न करें

डिप्रेस्ड इंसान खुद को बहुत बेकार व यूजलेस समझने लगता है ऐसे समय पर उसे किसी की बहुत जरूरत होती है । एक सच्चे व अच्छे दोस्त के नाते आपको हमेशा उसका साथ देना चाहिए। उन्हे उनकी अचीवमेंट के बारे में बताएं और उन्हें उनकी वैल्यू बताएं। उन्हे स्पेशल फील करवाएं ।

3. इस तरीके से करें बात

डिप्रेस्ड व्यक्ति अपने आप को बहुत अकेला समझता है तो आप उनके लिए अलग से टाइम निकालें और उनकी बातों को सुनें । इस बात का ध्यान रखें कि आप उनकी बातों को महत्वपूर्ण समझें । उन्हे ऐसा न लगने दें कि आप उनकी बातों को सुनकर बोर हो रहे हैं ।

4. उनकी मनपसंद चीज़ों का ध्यान रखें

डिप्रेस्ड व्यक्ति अंदर से बहुत दुखी हो जाता है । उसे अच्छा फील कराने के लिए उनके पसंद की चीज़ें करें जैसे कि उनके पसंद की चीज़ें खिलाएं, उनके पसंद की पिक्चर देखें, उनके पसंद का स्पोर्ट्स देखें, उनकी पसंद की जगह पर घूमने जाएं ।

Email us at connect@shethepeople.tv