Advertisment

Corona Third Wave? क्या इंडिया में कोरोना की तीसरी लहर आएगी? जानिए क्या कहते हैं फैक्ट्स

एक्सपर्ट्स ने कोरोना की तीसरी लहर को अगस्त के एंडिंग में आने का अंदेशा लगाया था और उसके बाद से यह लेट होती जा रही है। लेकिन अभी भी सरकार और एक्सपर्ट्स ने इसका न आने का कोई कन्फर्मेशन नहीं दिया है। सभी अपने स्तर पर सिचुएशन को कण्ट्रोल करने में लगे हुए हैं। अच्छी खबर यह भी है कि जिनको कोरोना हो रहा है भारत में उनकी रिकवरी रेट भी 97% से ज्यादा हो चुकी है। जिसका मतलब है कि बीमारी ज्यादा घातक नहीं हो रही है और कम से कम लोग मर रहे हैं और ज्यादा ठीक हो रहे हैं।

Advertisment

क्या इंडिया में कोरोना की तीसरी लहर आएगी? Corona Third Wave? 

1. वैक्सीन लेना इस समय बेहद जरुरी है क्योंकि उससे आपको कुछ हद तक कोरोना से प्रोटेक्शन मिलता है और केसेस के मुकाबले देखा जाए तो इससे तीसरी लहर भी टल सकती है।

2. हमें ये याद रखने की जरुरत है कि कोरोना की वैक्सीन हमें पूरी तरीके से बीमारी से नहीं बचती है बस बीमारी को गंभीर होने से बचाती है।

Advertisment

3. Pfizer वैक्सीन का पहला डोज़ कोरोना के खिलाफ 33 % इफेक्टिव है और दूसरा डोज़ 88 % इफेक्टिव।  कोरोना के के आज के केसेस 27,176 हैं जिसको मिलाकर हमारे टोटल केसेस अब तक के 33,316,755 होते हैं। 

4. इसके बाद AstraZeneca वैक्सीन पहले डोज़ के बाद 33 % और दूसरे के बाद 60 % तक इफेक्टिव है। अभी फिल्हाल जो वैक्सीन इंडिया में इस्तेमाल की जा रही है उनके खिलाफ भी ये इसी तरीके से असरदार होगा।

5. अगर परिस्तिथि ऐसी ही रहती है और केसेस कण्ट्रोल में रहते हैं तो यह बहुत ही अच्छी बात होगी और हम जल्द ही कोरोना के इस चंगुल से निकल जायेंगे।

Advertisment

6. इसके लिए लेकिन प्रीकॉशन्स फॉलो करते रहना और वैक्सीन लगवाना बहुत जरुरी है। 9 सितम्बर के नंबर्स अगर देखे जाएं तो सिर्फ केरल से 30,196 कोरोना के केस सामने आए जिससे पता लगता है कि 70 % केसेस केरल से ही आ रहे हैं।







#सेहत
Advertisment