फ़ीचर्ड

बजट और महिलाएं : महिलाओं के लिए बजट 2020 में क्या है ?

Published by
Mahima

भारत की फाइनेंस मिनिस्टर निर्मला सीतारमण कहती हैं कि बजट 2020 एक ऐसा बजट है जो लोगों की पर्चेसिंग पॉवर को बढ़ाएगा और हमारे बिज़नस ज़्यादा हेल्थी रहेंगे। महिलाओं और छोटे बिज़नस और इंट्रेप्रेनेउर्शिप के बारे में स्पेसिफिकॉली बजट क्या कहता है, यहाँ जानिए ।

टैक्सेज
इंडिविजुअल टैक्सपेयर्स को  रिलीफ। नए टैक्स ब्रैकेट्स इस तरह हैं और उनपे एप्लीकेबल हैं जो अन्य छूटों को छोड़ना चाहते हैं।

● ₹5-7.5 लाख – पहले के 20% टैक्स से अब 10%
● ₹7.5 -10 लाख – पहले के 20% टैक्स से अब 15%
● ₹10-12.5 लाख – पहले के 30% टैक्स से अब 20%
● ₹12.5 – 15 लाख – पहले के 30% टैक्स से 25 %
● ₹15 लाख से ऊपर 30% टैक्स

यू एंड योर मनी 

● डिविडेंड डिस्ट्रिब्यूशम टैक्स को समाप्त कर दिया ।
● बैंक डिपोसिटर्स के लिए बीमा कवर 1 लाख रुपये से 5 लाख रुपये तक बढ़ाया जा सकता है
● नॉन रेसीडेंट्स कुछ निश्चित गवर्नमेंट सिक्योरिटीज में इन्वेस्ट क्र सकते हैं।

बूस्ट फ़ॉर स्टार्टअप्स 

● ESPOPs पर 5 साल के लिए टैक्स ताल दिया
● ऑडिट के लिए टर्नओवर सीमा ओवर 1 करोड़ से 5 करोड़ बढ़ दिया गया

बजट एंड हर

● बैंक जमाकर्ताओं के लिए बीमा कवर 1 लाख रुपये से 5 लाख रुपये तक बढ़ाया जा सकता है।
● स्वास्थ्य, एग्रीकल्चर, डिजिटल इंडिया के लिए एक स्पेशल अप्प्रोच यह पक्का करेगा कि महिलाएं विकास की कहानी का हिस्सा हो
● महिला SHG कृषि में MUDRA और NABARD सहायता प्राप्त कर सकती हैं
● बीकीपिंग में महिलाओं के लिए इंसेंटिव्स की घोषणा है
● 2022 तक किसानों की इनकम दुगुनी करने के लिए कमिटेड हैं
● FM नए डिस्ट्रिक्स में अधिकअस्पतालों, स्वास्थ्य इंफ्रास्ट्रक्चर कि घोषणा की है
● टीबी हारेगा, देश जीतेगा 2025 तक पूरे देश में ट्यूबरक्लोसिस को समाप्त करने का प्रयास है
● स्किल डेवलपमेंट के लिए बजट अल्लोटेड
● ‘ वेल्थ क्रिएटर्स का सम्मान करें , टैक्स हर्रासेमेन्ट टॉलरेट नहीं करेंगे’ : गवर्नमेंट
● पैन कार्ड का ऑनलाइन इंस्टेंट अलॉटमेंट आधार के बेसिस पे

वीमेन एंड चाइल्ड वेलफेयर :
● BBBP ने परिणाम दिए हैं। शिक्षा के सभी स्तरों पर लड़कियों का सकल नामांकन रेश्यो लड़को की तुलना में अधिक है। एलीमेंट्री लेवल पर यह लड़कों के लिए 89.28%, लड़कियों के लिए 94.32% है। हायर सेकंडरी में लडकिया 59% और लड़के 57% हैं।

● माँ और बच्चे का स्वस्थ्य, जो कॉरेलटेड है, सीतारमण ने कहा कि गर्भवती महिलाओं, स्तनपान कराने वाली माताओं और अन्य लोगों को पोषण अभियान (2017 – 18) से लाभ हो रहा है। निगरानी के क्षेत्रों में स्वस्थ्य की स्थिति साझा करने के लिए 6,000,000 से अधिक आंगनवाड़ी कार्यकर्ता अब स्मार्ट फ़ोन से एक्विप हैं।

● जैसे जैसे भारत आगे बढ़ रहा है, वीमेन के लिए ऑप्पोर्तुनिटीस भी बढ़ रही हैं.

● सीतारमण ने विवाह की आयु बढाने के लिए एक टास्क फोर्स रखा है ताकि MMR कम हो सके। “पुर्व में शारदा एक्ट में अमेंड करके 1978 में महिलाओं की शादी की उम्र 15 साल से बढ़कर 18 साल कर दी गई थी। भारत उच्च शैक्षिक करियर बनाने के लिए महिलाओं के लिए आगे के अवसरों को बढ़ाता है। न्युट्रिशन के दर में सुधार के साथ साथ मैटरनल मोर्टेलिटी रेट कम करने की ज़रुरत है।

स्वच्छ हवा :
सरकार उन राज्यों को प्रोत्साहित करने का प्रस्ताव करती है जो अपने प्रदूषण स्तर को कम रखने के प्रयासों को इम्पलीमेंट और तैयार कर रहे हैं। प्रदुषण से निपटने के लिए 4000 करोड़ रुपए का अल्लोत्मेंट।

नई अर्थव्यवस्था 
● अब यह एक क्लिच है कि डाटा नया तेल है AI, एनालिटिक्स जीवन के अनुभव का तरीका बदल रही हकन। सीतारमण ने कहा ,”मैं प्राइवेट सेक्टर को देश भर में डाटा सेंटर पार्क बनाने के लिए प्रोत्साहित करती हूं।” नॉलेज वाले बिज़नस के साथ काम करने वाली महिलाओं के लिए, यह एक अवसर होगा।

● इंटेलेक्चुअल प्रॉपर्टी पर कब्ज़ा करने में मदद के लिए एक डिजिटल प्लेटफार्म को बढ़ावा दिया जाएगा।

● नॉलेज ट्रांसफर क्लस्टर स्थापित किये जाएंगे।

● भारत के जेनेटिक लैंडस्केप की मैपिंग ज़रूरी है। दो नेशनल लेवल की विज्ञान योजनाएं शुरू की जाएंगी

एमएसएमई

बैंको द्वारा सुबोर्डिनेट डेब्ट प्रदान करने की योजना। एमएसएमई के लिए ट्रस्ट द्वारा पूरी तरह से गारंटी दी जाएगी। MSMEs के लिए ऐप आधारित इनवॉइस फाइनेंसिंग।

एजुकेशन 
● 2030 तक भारत में दुनिया की सबसे बड़ी लिटरेट पापुलेशन होगी । हमारे पास नौकरियों की तुलना में अधिक संख्या में ग्रेजुएट्स उपलब्ध हैं। सीतारमण ने शिक्षा क्षेत्र में फाइनेंसियल सपोर्ट में सुधार करने की बात की कही, लेकिन इस बात पे विचार किया की कैसे हो।

● एक शिक्षा पालिसी की घिषणा की जाएगी। मौजूदा शिक्षा सिस्टम के अंदर अप्रेंटिसशिप पाठ्यक्रम स्थापित किये जाने की उम्मीद है।

व्यापार करने में आसानी :
● एक्सपोर्टर्स के लिए ड्यूटीज का डिजिटल रिफंड

● हर जिले को एक्सपोर्ट हब बनाने के लिए कदम बढ़ाएं

● सेंट्रल, स्टेट में इन्वेस्टमेंट क्लीयरेंस सेल की स्थापना

● राष्टीय लोजिस्टिक्स पालिसी शुरू की जाएगी।

इंट्रेप्रेनेउर्शिप :

इंट्रेप्रेनेउर्शिप हमेशा इस देश की ताकत रही है। वो रिस्क लेते हैं और नए चैलेंज के साथ आते हैं। हम एक पोर्टल के मध्यान से इन्वेस्टमेंट क्लीयरेंस सेल बनाकर बाधाओं को दूर करना चाहते हैं। ” पहले हमने इंट्रेप्रेनेर्स से उनकी बजट से एक्सपेक्टशन्स की बात की थी। निम्मी चेरियन, जिन्होंने डेलीरोड्स की स्थापना की, चाहती है कि गवर्नमेंट इकॉनमी के मूल रूप से तकोटे हुए टुकड़ों को ठीक करे। ” मार्किट में ज़्यादा कैश फ्लो लाने, लोगों को अधिक प्रोडक्ट खरीदने के लिए सक्षम बनाने से हमारी इकॉनमी को मदद मिलेगी। दूसरे, शिक्षा और स्वस्थ्य के क्षेत्र में, उदाहरण के लिए मेरे स्टार्टअप में, यह मददगार रहेगा अगर जीएसटी स्लैब और कम हो जाये। “

Recent Posts

शालिनी तलवार कौन है? हनी सिंह की पत्नी जिन्होंने उनके खिलाफ घरेलू हिंसा का मामला दर्ज कराया है

यो यो हनी सिंह की पत्नी शालिनी तलवार ने उनके खिलाफ 3 अगस्त को दिल्ली…

6 hours ago

हनी सिंह की पत्नी ने दर्ज कराया उनके खिलाफ घरेलू हिंसा का केस, जाने क्या है पूरा मामला

बॉलीवुड के मशहूर सिंगर और अभिनेता 'यो यो हनी सिंह' (Honey Singh) पर उनकी पत्नी…

6 hours ago

यो यो हनी सिंह पर हुआ पुलिस केस : पत्नी ने लगाया घरेलू हिंसा का आरोप

बॉलीवुड सिंगर और एक्टर यो यो हनी सिंह की पत्नी शालिनी तलवार ने उनके खिलाफ…

6 hours ago

ओलंपिक मैडल विजेता मीराबाई चानू पर बनेगी बायोपिक : जाने बायोपिक से जुड़ी ये ज़रूरी बातें

वे किसी ऐसे व्यक्ति की तलाश में हैं जो ओलंपिक मैडल विजेता की उम्र, ऊंचाई…

7 hours ago

मुंबई सेशन्स कोर्ट ने गहना वशिष्ठ को अंतरिम राहत देने से किया इनकार

मुंबई की एक सत्र अदालत ने अभिनेत्री गहना वशिष्ठ को उनके खिलाफ दायर एक पोर्नोग्राफी…

7 hours ago

ओलंपिक मैडल विजेता मीराबाई चानू पर बायोपिक बनने की हुई घोषणा

लंपिक सिल्वर मैडल विजेता वेटलिफ्टर सैखोम मीराबाई चानू की बायोपिक की घोषणा हाल ही में…

8 hours ago

This website uses cookies.