बाराती को बंधक  बनाया – एक 22 साल की लड़की ने खुद की ही शादी तोड़ी जब दूल्हा और बाराती दारू पीकर शादी में पहुंचे। ये मामला प्रायगराज के प्रतापगढ़ का है। शादी के दौरान इस लड़की का दूल्हा पीकर आया और फिर उसे डांस करने के लिए फाॅर्स करने लगा।

लड़की को इन सब से बहुत बेज़त्ती भरा महसूस हुआ और उसने शादी को तोड़ दिया। लड़की के घर वालों ने बाराती और दूल्हे दोनों को बंधक बनाया और फिर उनसे सभी दहेज़ की चीज़ें और तोहफे वापस मांगे । लड़की के पिता जो एक फारमर यानि कि किसान हैं इन्होंने कुटीलिया गांव में अपनी बेटी की शादी करने का सोचा था क्योंकि सभी जगह लॉकडाउन था।

पुलिस ने मामले को कैसे निपटाया ?

दूल्हे की तरफ वालों ने भी पुलिस को बुलाया लेकिन लड़की नहीं मानी और पुलिस से विनती की कि वो भी इसका समाधान निकलवाएं। आखिर में पुलिस ने सभी चीज़ें फिक्स कर दीं जब दूल्हे के परिवार वालों ने सभी गिफ्ट्स वापस कर दिए। सभी जगह ये न्यूज़ कवर की गयी कि कैसे लड़की अपने हक़ के लिए कड़ी हुईं और दूल्हे साइड वालों को सही लेसन दिया। हमारे समाज में लड़की वाले हमेशा लड़के तरफ वालों से डरते हैं और उनकी हर एक गलत चीज़ को भी सहते हैं। लेकिन ऐसा करना सरासर गलत है ।

क्या लड़कियों का हमेशा से दबना गलत है ? इस में हमारे समाज की क्या गलती है ?

समाज में ऐसी ही लड़कियों की जरुरत है जो अपने हक़ के लिए खड़ी हों और और कुछ भी गलत न सहें। शादी को एक बिज़नेस डील की जगह इंसानियत का रिश्ता बनाकर रखें। समाज में जिस तरीके से लड़कियों के साथ वर्ताव होता आया है वो अब धीरे धीरे बदलता जा रहा है क्योंकि लडकियां अपने लिए खड़ी हो रही हैं और गलत नहीं सेह रही हैं। दारू पीना या ज़ोर जबरजस्ती करना हर किसी के लिए गलत होता है और किसी को भी यह नहीं सहना चाहिए।

Email us at connect@shethepeople.tv