Serials On Motherhood: टीवी पर डिनर के साथ देखें यह सीरियल

Serials On Motherhood: टीवी पर डिनर के साथ देखें यह सीरियल Serials On Motherhood: टीवी पर डिनर के साथ देखें यह सीरियल

Swati Bundela

31 Aug 2022

आजकल टीवी लगातार कोशिश कर रही है कि आजकल के लोगों की सोच के हिसाब से कंटेंट लेकर आये। क्योंकि ज्यादातर सीरियल में रोना धोना, ड्रामा, मारपीट और दबी हुई सेहमी सी महिलाएं दिखाई जाती हैं।  लेकिन अब यह बदल रहा है अब ऐसा कंटेंट लोग देखना पसंद कर रहे हैं जिससे वो खुद को जोड़ पर और घर के बच्चे कुछ सीख पाएं।  

आज हम ऐसे ही सीरियल के बारे में बात करेंगे जो आप अपने घर बैठे देख सकते हैं और यह मदरहुड यानि मातृत्व के ऊपर बनें हैं -

अनुपमा 

अनुपमा सीरियल जबसे रिलीज़ हुआ है यह काफी पॉपुलर रहा है।  इस सीरियल में एक ऐसी माँ की कहानी बताई गयी है जो कि अपना सब कुछ बलिदान कर देती है अपने परिवार के लिए।  अनुपमा का परिवार हमेशा इन्हें एक ग्रहणी होने के कारण कम आंकता है और इनके पति इनके साथ धोखा करते हैं। अनुपमा के तीन बच्चे होते हैं 2 बेटे और एक बेटी।  

इस शो में दिखाया गया है कि इतना धोखा और अनादर यह कैसे खुद के लिए खड़ी होती हैं।  यह खुद के दिन की सुनती हैं और खुद पर निर्भर होती हैं। यह श्वो आप स्टारप्लस पर रोज सोमवार से शनिवार को रात 10 बजे देख सकते हैं

अपनापन - बदलते रिश्तों का बंधन 

इस सीरियल में एक ऐसे कपल की कहानी दिखाई गयी है जो कि एक दूसरे से अलग अलग हो चुके होते हैं।  पल्लवी और निक, पल्लवी के तीन बच्चे होते हैं जिनके साथ यह रहती हैं बरखा, बादल और गगन। निक अपनी बहन के और बेटे हर्ष के साथ रहते हैं।  

इस सीरियल में दिखाया गया है कि सिंगल पैरेंट होना कितना मुश्किल होता है और कैसे एक दूसरे पैरेंट की कमी पूरी करने के लिए कोशिश की जाती है। पल्लवी अपना पूरा ज़ोर लगाकर बच्चों को खुश रखने की कोशिश करती हैं लेकिन इन्हें वो सम्मान नहीं मिलता जो कि मिलना चाहिए। वहीँ दूसरी ओर निक इतने ज्यादा काम में बिजी होते हैं कि बच्चों को समय नहीं दे पाते। इस सीरियल को आप सोमवार से शुक्रवार सोनी टीवी पर शाम साढे 6 बजे देख सकते हैं।  

सवर्ण घर

 इस सीरियल में एक फैमिली की कहानी दिखाई गयी है जिस में अदबूडे कपल होते हैं कँवल और स्वर्ण बेदी।  इनके तीन बच्चे होते हैं और इन्हें यह बहुत अच्छे से पाल पोस चुके होते हैं।  अब यह बच्चे अपने माता पिता के साथ बहुत बुरा व्यव्हार होते हैं।  

इस सीरियल में ट्विस्ट जब आता है जब स्वर्ण के पति की अचानक से मृत्यु हो जाती है और फिर वो अपने बच्चों से परेशान होने के बाद खुद के लिए खड़े होने का कदम उठाती हैं। स्वर्ण घर सीरियल आप सोमवार से शुक्रवार साढे 8 से 9 बजे रात को कलर्स टीवी पर देख सकते हैं।  

पुष्पा इम्पॉसिबल 

इस सीरियल में पुष्पा नाम की महिला की कहानी है जिसकी उम्र 44 साल होती है।  पुष्पा एक सिंगल मदर होती हैं और इन्होंने सिर्फ 9th क्लास तक पढ़ाई की होती है।  इस सीरियल में पुष्पा अपने बच्चों को साबित करने के लिए कि वो अनपढ़ गवार नहीं हैं फिर से पढ़ाई करने का सोचती हैं।  इस में यह दिखाती हैं कि कैसे बच्चों को अलग तरीके से हैंडल करने से समाधान हो सकता है।  पुष्पा इम्पॉसिबल को आप रोजाना सोमवार से शनिवार साढे 9 बजे सब टीवी पर देख सकते हैं ।   

अनुशंसित लेख