Foods For Irregular Periods : इन खाद्य पदार्थों से पीरियड होंगे रेगुलर

Foods For Irregular Periods : इन खाद्य पदार्थों से पीरियड होंगे रेगुलर Foods For Irregular Periods : इन खाद्य पदार्थों से पीरियड होंगे रेगुलर

Vaishali Garg

14 Jun 2022

प्रमुखता भारतीय समाज में पीरियड से जुड़ी बातों को खुलेआम या फिर सबके सामने नहीं किया जाता। इसे छुपाया जाता है या बताया नहीं जाता है। इसलिए इससे जुड़ी बीमारियों के बारे में भी अधिक जानकारियां आसानी से उपलब्ध नहीं हो पाती और ना ही हमारे आस पड़ोस में रहने वाली महिलाओं को इसके बारे में अत्यधिक ज्ञान होता है ।  

आज हम जानेंगे कि यदि आपको इररेगुलार पीरियड्स की समस्या है तो इसके क्या कारण हो सकते हैं।

पहले पीरियड से दूसरे पीरियड  के बीच के समय को पीरियड साइकिल के नाम से जाना जाता है जो औसतन 26 दिनों के होती है परंतु कभी ये बड़कर 29-30 दिनों के भी हो जाती है यह आम है पर लगातार ऐसा होना सही नहीं आपकी पीरियड डेट एक दो दिन आगे पीछे हो तो अधिक चिंतित ना हो परंतु ज्यादा गैप सही नहीं है। इसे औलिगोमेनोरिया कहा जाता है इस के प्रमुख कारण अत्यधिक तनाव लेना ,खराब दिनचर्या और अधिक मात्रा मै शराब का सेवन करना है।

तो आइए जानते हैं ऐसे कौन से खाद्य पदार्थ हैं जिन्हें अपने दैनिक जीवन में शामिल करना चाहिए-

1. दालचीनी

आमतौर पर आपने दालचीनी का उपयोग अपने घर के किचन में खाना बनाने में आदि में देखा होगा परंतु दालचीनी एक बहुत ही अच्छा उपाय है यदि आप अपने पीरियड्स को रेगुलर चाहती हैं तो आपको दालचीनी का आधा चम्मच पाउडर पानी में उबालकर इस का सेवन करना चाहिए इससे आपके पीरियड रेगुलर हो सकते हैं क्योंकि यह आपके पेल्विक में ब्लड फ्लो को उत्तेजित करता है। और शरीर में एस्ट्रोजन के लेवल को बढ़ाता है जो आपके पीरियड से मददगार साबित होता हैं।

2. अदरक 
मुख्यता अदरक का उपयोग सदियों से किया जाता है और चाय में अदरक तो सोने पर सुहागा है पर अदरक आपके पीरियड को रेगुलर करने मै सक्षम है। अदरक को उबल्पर इस का सेवन करें,चाय मै डालकर उपयोग करें यह अवश्य कम करेगा

3. पपीता

पपीता एक गरम फल है ।इसमें कैरोटीन पाया जाता है ।
पपीता एस्ट्रोजन के लेवल को काबू कर रेगुलेट करता है ।
ये हमारे यूटरस को स्वस्थ रखता है व सुचारू रूप से कम करने मै मदद करता है ।

4. कॉफी

अधिकतर लोगों को कॉफे पीना पसंद है इसमें केफीन होता है जो पल्विक मै ब्लड फ्लो को बढ़ाता है परंतु इस का अधिक सेवन भी फायदेमंद नहीं है ।

5. गुड

जब तक शक्कर के विषय में ज्ञात नहीं था तब तक चाय मै गुड का प्रयोग किया जाता था । गुड मै आयरन की मात्रा अधिक होती है और ये शरीर को गरम करता है । गुड का काढ़ा बनाकर पिया जाए तो इरेगुलर पीरियड्स की समस्या समाप्त हो सकती है।
भारतीय सभ्यता ऑसधियों की दृष्टि से परिपूर्ण है। सभी समस्याओं का इलाज हमारे आसपास मौजूद है । तो इस प्रकार आप इन घरेलू वस्तुओं का उपयोग कर इरेगुलर पीरियड की समस्या से आराम पा सकते हैं।

अनुशंसित लेख