Advertisment

Writing As Hobby: लेखक के साथ पाठक का भी दिमाग बढ़ाता है लिखने का शौक

ब्लॉग | शौक़: लिखने को शौक बनाने से बेहतर और क्या होगा। लिखने से न केवल समय का सदुपयोग होता है बल्कि ये अन्य फायदे भी पहुंचाता है। लिखने से यादें ताजा होती हैं।ो

author-image
Prabha Joshi
New Update
लिखने का शौक

लिखने को बनाएं शौक

Writing As Hobby: लिखना हर किसी के बस की बात नहीं होती। आज तो और भी लिखना धीरे-धीरे कम होता जा रहा है। तकनीक के इस युग में लिखना कम होता जा रहा है। टेक्नोलॉजी इतनी आगे बढ़ गई है कि मशीन ही अब सब लिख रही है। वॉइस से लिखा जा रहा है। 

Advertisment

लेखन का शौक लेकिन हमारे मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य के लिए बहुत अच्छा होता है। लेखन करने से बहुत से फायदे होते हैं। पहले सफल लोगों का शौक लेखन जरूर हुआ करता था। लेखन के शौक में डायरी लिखना सबसे ज्यादा पहले के समय किया जाता था।

writing

लिखने के शौक से क्या फायदा होता है

Advertisment

लेखन को शौक बनाने से निम्नलिखित फायदे होते हैं। आइए जानें :-

  • दिमाग तेज करता है :  लिखने से लिखने वाले का दिमाग तेज होता है। लिखने के दौरान हम सोचते हैं यानि अपने दिमाग का प्रयोग करते हैं। हम दिमाग चलाते हैं इससे दिमाग तेज होता है। 
  • अपने को समझते हैं : लिखने से लिखने वाला अपने आप को ज्यादा समझता है। ऐसा इसलिए कि लिखने के दौरान लेखक अपना दिमाग चलाता है, सोचता है, विचार करता है। इसी से वह अपने आप को ज्यादा समझ पाता है। 
  • बोर नहीं करता : लिखना एक बार शौक बना देने से समय का सदुपयोग भी करता है। लिखने का शौक एक बार आने से फिर बोरियत दूर होती है। जब कभी कुछ करने को न हो किसी भी रूप में लिखना शुरू करना बोरियत से रोकता है।
  • क्रिएटिव बनाता है : लिखने के दौरान हम कई परिस्थितियों से गुजर रहे होते हैं। ऐसे में हमारे दिमाग में नए-नए विचार आते हैं। ये ही नए विचार हमें क्रिएटिव बनने की ओर अग्रसर करते हैं। 
  • प्रॉबलम सॉल्विंग आती है : जो लिखता है उसकी एनॉलिटिकल स्किल्स ज्यादा अच्छी होती हैं। लिखने से हम समस्याओं पर जल्दी विजय प्राप्त कर लेते हैं। ये ही कारण है लिखना हमें शौक में शामिल करना चाहिए। 
  • यादें ताजा होती हैं : डायरी को लिखने के रूप में शामिल करने से यादें ताजा होती हैं। यादों का ताजा होना मानसिक स्वास्थ्य के लिए बहुत अच्छा होता है।
  • खुशी मिलती है : लिखने से क्योंकि भूली-भटकी चीज याद आ जाती है ऐसे में इससे खुशी मिलती है। लिखने से कुछ अच्छा लिखने पर लोगों द्वारा सराहना मिलने से भी खुशी मिलती है। 

इस तरह लिखने के शौक को अपने जीवन में शामिल करने से हम अपने जीवन को आगे बढ़ा सकते हैं। जो हम लिखेंगे उसको और पढ़ेंगे, इससे हम एक नहीं दो लोगों के दिमाग के लिए अच्छा कर रहे होंगे। इससे अच्छी सेवा और क्या होगी।

लिखना लिखने का शौक Writing As Hobby
Advertisment