National Youth Day: हर क्षेत्र में आगे महिला युवा-शाक्ति

भारत युवा शक्ति के लिया हमेशा पहचाना गया है। यहाँ के युवा हमेशा समाज और देश सेवा में आगे रहे हैं। आइए, आज के इस इंस्पिरेशन ब्लॉग में जाने वो क्षेत्र जिनकी पहचान ही अब महिला युवा-शक्ति से है।

Prabha Joshi
12 Jan 2023
National Youth Day: हर क्षेत्र में आगे महिला युवा-शाक्ति

National youth day

National Youth Day: भारत युवा शक्ति के लिया हमेशा पहचाना गया है। यहाँ के युवा हमेशा समाज और देश सेवा में आगे रहे हैं। आइए, आज के इस इंस्पिरेशन ब्लॉग में जाने वो क्षेत्र जिनकी पहचान ही अब महिला युवा-शक्ति से है।

कैसी है ये महिला युवा-शक्ति 

भारत में पुरुष ही नहीं महिला युवा-शाक्ति भी हमेशा से अपना लोहा मनवाती आई है। हमने कुंती, द्रौपदी, रानी लक्ष्मीबाई, अहिल्याबाई जैसी महान हस्तियों को पढ़ा, आज जानेंगे 21वीं सदी में वो महिला युवा-शक्ति जो आज हर क्षेत्र में अपना लोहा मनवा रही है।

आइए जानें संबंधित क्षेत्र: 

1. खेल 

सानिया मिर्ज़ा, साइना नेहवाल, गीता फोगट, हरमनप्रीत कौर जैसी अनेक युवा महिलाओं ने खेलों में अपना योगदान देकर भारत की पहचान विदेशों तक पहुंचाई है। इन महिलाओं ने भारत को मेडल्स दिलाए और ये साबित कर दिया भारत किसी से पीछे नहीं है।

2. रक्षा 

आज रक्षा के क्षेत्र में महिला युवा शक्ति आगे आ रही है। आज तीनों क्षेत्रो में वो चाहें जल हो, थल हो या वायु हो, महिलाएं हिस्सा ले रहीं हैं। राष्ट्रीय त्योहारों में गार्ड ऑफ़ ऑनर देती हुई ये युवा शक्ति एक पल को समां बांध देती हैं। हाल ही के मिनिस्ट्री के डाटा की माने तो भारतीय नौसेना में कुल अधिकारियों में से 6% और वायु सेना में 13.69% महिलाएँ हैं। वहीं आर्मी मेडिकल कोर और आर्मी डेंटल कॉर्प्स की महिला अधिकारी भारतीय सेना में लगभग 21.25% हैं।

3. चिकित्सा

आज देश के पास फीमेल डॉक्टर्स की कमी नहीं है। ऐलोपैथिक, यूनानी, आयुर्वेदिक, होम्योपैथिक, बॉयोकेमिक आदि क्षेत्रों में फीमेल युवा डॉक्टर्स पीछे नहीं हैं।

4. राजनीति 

महिलाएं राजनीति में भी आगे हैं। शुरू छात्र राजनीति से होती है और आगे देश को लीड करने की। राजनीतिक क्षेत्र में सबसे अच्छा उदाहरण पूर्व स्वर्गीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज का है।

5. कला और सिनेमा 

महिलाएं कला में पुरुषों से भी बढ़कर होती हैं। दीपिका पादुकोण, कंगना रनौत, प्रियंका, आलिया जैसे फीमेल यूथ आर्टिस्ट हमारे पास हमेशा से रहे। इस तरह हम देख सकते हैं कि महिला युवाशक्ति किसी भी क्षेत्र में अब पीछे नहीं रही, वह निरंतर आगे बढ़ रही है।

Read The Next Article