Women Welfare In India: नरेंद्र मोदी ने देश के महिलाओं के लिए उठाए कदम

Swati Bundela
21 Sep 2022
Women Welfare In India: नरेंद्र मोदी ने देश के महिलाओं के लिए उठाए कदम

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश में महिलाओं के लिए हर वो मुमकिन कोशिश की है जिससे महिलाएं मर्दों से कंधे से कन्धा मिलाकर चल सके हैं। इस आर्टिकल में हम मोदी द्वारा महिलाओं के हित में किए गए कामों की बात करेंगे।

Women Welfare In India: नरेंद्र मोदी ने देश के महिलाओं के लिए उठाए कदम 

प्रधानमंत्री ने ना केवल वर्किंग वुमन की सुरक्षा का ख्याल रखा है बल्कि घर में बैठी गृहणियों का भी। छोटी बच्चियों के पढ़ाई का भी। वो हर वो संभव कोशिश कर रहे हैं जो देश की महिलाओं को सेल्फ कॉन्फिडेंट होने में मददगार हो।

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना

अब तक की महिलाओं के हित में की गई सबसे सफल योजनाओं में से एक उज्ज्वला योजना साल 2016 में 1 मई को रिलीज़ की गई।उत्तर प्रदेश के बलिया से इस योजना की शुरुआत की गई थी। इस योजना के तहत आर्थिक रूप से कमजोर गृहणियों को रसोई गैस सिलेंडर उपलब्ध कराई जाती है। बता दें की अब तक देश के 8.3 करोड़ परिवारों को इस योजना का लाभ मिल चुका है। 

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ

इस योजना की शुरुआत 22 जनवरी 2015 को हरियाणा के पानीपत में की गई थी।इस योजना का उद्देश्य बालिका लिंग अनुपात में गिरावट को रोकना साथ ही महिला सशक्तिकरण को आगे बढ़ाना है। जिसके लिए महिलाओं के लिए इमरजेंसी कॉलिंग नंबर 181 भी मुहैया करवाया गया हैं।

सुरक्षित मातृत्व आश्वासन सुमन योजना 

इस योजना की शुरुआत 10 अक्टूबर 2019 को गई थी. इस योजना के अनुसार गर्भवती महिलाओं और नवजात शिशुओं की जीवन सुरक्षा के लिए निशुल्क स्वास्थ्य सेवाएं सरकार द्वारा प्रदान की जा रही है।

 फ्री सिलाई मशीन योजना

जो महिलाएं सिलाई-कढ़ाई करना चाहती हैं। उनके लिए सरकार ने फ्री सिलाई मशीन योजना चलाई  है। इस योजना का लाभ देश के ग्रामीण और शहरी दोनों इलाके की आर्थिक रूप से कमजोर महिलाएं उठा सकती हैं। सरकार की ओर  से हर राज्य में 50,000 से अधिक महिलाओं को निशुल्क सिलाई मशीन प्रदान की जाती हैं। इस योजना के मुताबिक केवल केवल 20 से 40 वर्ष की आयु की महिलाएं ही इस योजना का लाभ उठा सकती हैं।

अनुशंसित लेख