क्या आप की भी जेनिटल स्किन आपकी बॉडी के दूसरे भागों से थोड़ी डार्क है? तो इसमें चिंता करने वाली कोई बात नहीं है। हमारी जेनिटल स्किन बहुत ज्यादा पतली और उससे भी ज्यादा सेंसिटिव होती है। उस एरिया में ज्यादा बर्न या इरिटेशन से हम उसे पहले से भी ज्यादा डार्क बना सकते हैं।

हमारे जेनिटल्स डार्क क्यों होते हैं?

आपके मन में भी यह सवाल कई बार आता होगा कि क्यों मेरे जेनिटल्स डार्क हैं? क्या डार्क जेनिटल्स होना नॉर्मल भी है? डॉक्टर की मानें तो, हमारे जेनिटल्स नॉर्मली डार्क ही होते हैं। केवल नवजात शिशु जिसने अभी तक न चलना सीखा है और न ही उसके जेनिटल एरिया अभी तक रगड़ाए/ रब्ड हुए हैं, उसकी जेनिटल एरिया आपको पिंक और अनटच्ड नजर आएगी।

हम जैसे-जैसे बड़े होते हैं, चलना सीखते हैं और उसकी वजह से जब हमारे जांघों के बीच और जेनिटल एरिया के बीच या फिर हमारे टांगों और जांघों के बीच जो फ्रिक्शन क्रिएट होता है, उससे समय के साथ हमारा जेनिटल एरिया डार्क हो जाता है। यह थोड़ी डार्क होना या बहुत ज्यादा डार्क होना बिल्कुल ही नॉर्मल है। यह सभी के साथ होता है।

जेनिटल एरिया में ब्लीच करने के साइड इफेक्ट्स

आपके मन में अब ये सवाल आता होगा कि मुझे इसका क्या करना चाहिए? तो जवाब सीधा-सा है कुछ भी नहीं। मार्केट में कई सारे ब्लीचिंग प्रोडक्ट्स या लाइटनिंग प्रोडक्ट्स मौजूद होते हैं, परंतु आपको इनका इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।

हमारी जेनिटल स्किन बहुत ज्यादा पतली और उससे भी ज्यादा सेंसिटिव होती है। शरीर के अन्य भागों के मुकाबले यहां पर स्किन बर्नस जल्दी होते हैं। केमिकल्स और अन्य कई चीजें भी ये जल्दी एब्जॉर्ब करती है। आप ही सोचिए की ब्लीच या केमिकल के प्रयोग से आप किस हद तक वहां बर्न कर रही हैं।

अगर आपकी जेनिटल एरिया आपके शरीर के दूसरे भागों से थोड़ी डार्क है, तो कुछ भी मत करिए। अपने जेनिटल एरिया को रब, स्क्रैच, स्क्रब या ब्लीच बिल्कुल न करें क्योंकि ये स्किन के लिए और भी ज्यादा खतरनाक साबित हो सकता है।

Email us at connect@shethepeople.tv