इश्यूज

पीरियड रैशेज या पैड रैशेज से कैसे छुटकारा पाएं? अपनाएं ये 6 टिप्स

Published by
Hetal Jain

पैड रैशेज या पीरियड रैशेज क्यों होते हैं? कभी-कभार आप जो सैनिटरी पैड इस्तेमाल कर रही होती हैं, उससे अनवांटेड रैशेज हो जाते हैं। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि अधिकतर कमर्शियल पैड्स प्लास्टिक से बने होते हैं। इसकी वजह से आपको खुजली, सूजन, रेडनेस या जलन हो सकती है। कभी-कभी हीट और मॉइश्चर मिलकर भी बैक्टीरिया को पैदा करते हैं, जिसकी वजह से भी आपको रैश हो सकते हैं।

पैड रैशेज से कैसे छुटकारा पाएं?

1) अपने इनर थाईज वाली जगह को मॉइश्चराइज रखें

इसका सबसे बेस्ट तरीका है कि आप अपनी नीचे की जगह को मॉइश्चराइज रखें। अगर आपकी ड्राई स्किन है, तो ये और भी ज्यादा जरूरी है क्योंकि ड्राई स्किन से पैड अगर बार-बार रब होगा, तो आपको रैश और खुजली हो सकती है। आप चाहे तो कोई माइल्ड एंटीसेप्टिक मॉइश्चराइजर या नारियल तेल या फिर बेबी वाली डायपर रैश क्रीम का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। इस बात का खास ख्याल रखें कि आप इसे अपने इनर थाईज पर लगा रहे हैं और ना ही अपने वल्वा के अंदर।

2) लूज और कॉटन की अंडरवियर

आप लूज और कॉटन फैब्रिक से बनी अंडरवियर पहने क्योंकि इससे कम फ्रिक्शन क्रिएट होता है, जिससे रैश होने की संभावनाएं कम है।

3) पैड को बार-बार बदलते रहो

आप अपने पैड को समय से बार-बार बदलती रहें। इससे पैड मोइस्ट नहीं होगा और स्किन पर इरिटेशन भी नहीं होगा। आमतौर पर, जब आपके पीरियड्स खत्म हो जाते हैं, तो आपके रैशेज भी कुछ समय में चले जाते हैं। परंतु यदि ऐसा नहीं हो रहा है, तो आप अपने डॉक्टर से बात करें।
यदि आपको उस जगह पर फोड़ा, फुंसी या दाने कुछ भी हो गए हैं, तो ऐसे केस में वो आपको सिट्ज़ बाथ की सलाह दे सकते हैं।

4) सिट्ज़ बाथ क्या होती है और इसे कैसे ले सकते हैं?

सिट्ज़ मूल रूप से एक प्रोसीजरल बाथ होती है जो आपके पेरिनियम को साफ रखती है। आप सिट्ज़ बाथ किसी भी ड्रग स्टोर से खरीद सकती हैं।
इसे इस्तेमाल करने का तरीका – जब भी आप नहाने जाएं, तब एक टब में गर्म पानी भर लें। उसमें सिट्ज़ बाथ डालें और 5 से 10 मिनट उसमें बैठी रहें। इसके बाद उस जगह को पेट ड्राई करें। आपको फर्क जरूर नजर आएगा।

5) बिना खुशबू वाला पैड यूज करें पीरियड रैशेज

आप इस बात का जरूर ख्याल रखें कि आप किसी भी प्रकार का सेंटेड पैड का इस्तेमाल न करें क्योंकि खुशबू वाले पैड्स में थोड़े बहुत केमिकल्स तो होते ही हैं, जिसकी वजह से आपकी स्क्रीन पर इरिटेशन हो सकता है।

6) टैम्पॉन या मैंस्ट्रुअल कप का इस्तेमाल

यदि अभी भी आपको इरिटेशन हो रही है वहां पर, तो आप जिस ब्रांड का पैड इस्तेमाल कर रही हैं, उसे बदलकर भी देख सकती हैं या फिर इसके बजाए आप टैम्पॉन या मैंस्ट्रुअल कप का इस्तेमाल भी कर सकती हैं।

इस बात का ध्यान रखें कि आपको जब भी कोई रैश हो, तो उसे तुरंत ट्रीट करें क्योंकि अनट्रीटेड रैश यीस्ट इन्फेक्शन में बदल जाता है। यीस्ट आपकी बॉडी में पहले से ही नेचुरली मौजूद होता है और वह इरिटेटेड जगह को तुरंत अफेक्ट करता है।

** Disclaimer – यह सार्वजनिक रूप से एकत्रित की हुई जानकारी है। यदि आपको किसी विशिष्ट सलाह की आवश्यकता है, तो कृपया डॉक्टर से परामर्श करें।

Recent Posts

Ananya Pandey Denies Drug Allegations: अनन्या पांडेय ने आर्यन खान को ड्रग देने की बात न मंजूर की

कल NCB ने एक ही समय पर दो टीम बनाकर मन्नत और अनन्या के घर…

17 mins ago

Karwa Chauth 2021: करवा चौथ की सरगी और पूजा की थाली तैयार करने का सही तरीका

करवा चौथ का त्यौहार इस साल 24 अक्टूबर को देशभर में रखा जाएगा। इस त्यौहार…

38 mins ago

Afternoon Nap? दोपहर में सोने के फायदे और नुकसान

 मानव शरीर के लिए जितना जरूरी पौष्टिक आहार होता है उतनी ही जरूरी 8-9 घंटे…

48 mins ago

How to Manage Periods On Wedding Day: कैसे हैंडल करें पीरियड्स को शादी के दिन?

पीरियड्स कभी भी बता कर नहीं आते इसलिए कुछ लड़कियों की शादी और पीरियड्स की…

49 mins ago

Benefits Of Sitafal: किन बीमारियों के लिए सीताफल एक औषधि की तरह काम करता है?

सीताफल को कस्टर्ड एप्पल और शरीफा भी कहते हैं। सीताफल में उच्च मात्रा में न्यूट्रिएंट्स…

54 mins ago

Kareena Kapoor On Gender Equality: करीना ने कैसे सिखाया अपने बच्चे तैमूर और जेह को जेंडर इक्वलिटी

करीना का मन्ना है कि जब बच्चे को लगता है कि माँ बाहर जाती है,…

1 hour ago

This website uses cookies.