जैसे ही एक महिला प्रेगनेंसी कंसीव करती है, उसके शरीर में बदलाव आने शुरू हो जाते हैं। ऐसे में उसे कई प्रकार के दर्द झेलने पड़ते हैं, जैसे कि पीठ दर्द, पेट में दर्द आदि। ऐसे में महिलाओं के दिमाग में केवल एक ही सवाल आता है कि क्या यह पेट दर्द नॉर्मल है या इसमें कोई चिंता वाली बात है?

क्या प्रेगनेंसी के दौरान पेट दर्द नॉर्मल है?

प्रेगनेंसी के तीनों ही ट्राइमेस्टर में पेट दर्द हो सकता है। परंतु हर ट्राइमेस्टर में पेट दर्द होने के अलग-अलग कारण होते हैं। पहली तिमाही में कब्ज और ब्लड सर्कुलेशन के बढ़ जाने से पेट में दर्द होता है। दूसरी और तीसरी तिमाही में पेट का आकार बढ़ने से, उसकी मांसपेशियों में खिंचाव आने से पेट दर्द हो सकता है। वैसे तो प्रेगनेंसी के दौरान पेट दर्द होना नॉर्मल है परंतु कई बार यह नॉर्मल नहीं होता है। तो महिलाओं को यह पहचानने आना चाहिए कि उनका पेट दर्द नॉर्मल है या इसमें कोई चिंता वाली बात है।

प्रेगनेंसी के दौरान पेट दर्द के क्या कारण होते हैं?

1) लिगामेंट में खिंचाव

प्रेगनेंसी के दौरान जैसे-जैसे आपके गर्भाशय का आकार बढ़ता है, वैसे ही आपके लिगामेंट में खिंचाव भी आता है। इस तरह का पेट दर्द अक्सर दूसरे ट्राइमेस्टर में ज्यादा होता है। थोड़ा-सा भी चलने फिरने से यह दर्द थोड़ा ज्यादा महसूस होता है। यदि आपको यह दर्द बहुत ज्यादा हो रहा है, तो अपने डॉक्टर से जाकर बात करें।

2) गैस व कब्ज

आपको गैस व कब्ज से भी पेट में दर्द हो सकता है। प्रेगनेंसी के दौरान प्रोजेस्टेरोन हार्मोन शरीर में बढ़ जाता है। इससे आपका पाचन तंत्र कमजोर हो जाता है और आपको गैस व कब्ज की समस्या हो जाती है। इस वजह से आपको पेट में दर्द होने लगता है। अगर आप इस समस्या से निजात पाना चाहती हैं, तो अपने आहार में फाइबर-रिच भोजन को शामिल करें और अपने पानी पीने की मात्रा को बढ़ाएं।

3) फॉल्स लेबर पेन पेट दर्द प्रेग्नेंट महिला

ज्यादातर दूसरे और तीसरे ट्राइमेस्टर में फॉल्स लेबर पेन की वजह से भी आपको पेट में दर्द हो सकता है। आपको पेट में कॉन्ट्रैक्शन महसूस हो सकता है। यह कॉन्ट्रैक्शन 30 सेकंड से 1 मिनट तक हो सकता है।

4) यूट्रस का बढ़ता आकार

जैसे-जैसे आपके गर्भाशय का आकार बढ़ता है, वैसे ही आपको जी मिचलाने जैसी समस्या भी हो सकती है और पेट में दर्द भी होता है।

5) प्रेगनेंसी में रिलेशन पेट दर्द प्रेग्नेंट महिला

यदि आप प्रेगनेंसी के दौरान रिलेशन बनाती हैं और जब आप उसके चरम सीमा पर पहुंचती हैं, तो आपको पेट में दर्द होता है। लेकिन इसमें कोई चिंता वाली बात नहीं है क्योंकि यह दर्द बहुत ही हल्का होता है। यदि आपको बहुत ज्यादा दर्द महसूस हो, तो आप अपने डॉक्टर से जाकर बात करें।

Disclaimer – यह सार्वजनिक रूप से एकत्रित की हुई जानकारी है। यदि आपको किसी विशिष्ट सलाह की आवश्यकता है, तो कृपया डॉक्टर से परामर्श करें।

Email us at connect@shethepeople.tv