वेजाइनल डिस्चार्ज क्या है? हमारा वजाइना एक सेल्फ-क्लीनिंग पार्ट है बॉडी का। वेजाइनल डिस्चार्ज एक ऐसा प्रोसेस है जो हमारे वजाइना को इंफेक्शन होने से बचाता है। ये कभी गाढ़ा, चिपचिपा तो कभी पानी जैसा पतला भी हो सकता है।

हमारे वजाइना में कुछ अच्छे और हेल्दी बैक्टीरिया होते हैं, जो इंफेक्शन करने वाले गंदे बैक्टीरिया से लड़ते हैं। तो सभी को थोड़ा-थोड़ा डिस्चार्ज तो होता ही है। किसी-किसी को ये हर रोज भी होता है और ये बिल्कुल नॉर्मल है।

नॉर्मल वेजाइनल डिस्चार्ज कैसा होता है?

आप अपने डिस्चार्ज को देखकर ये पता लगा सकते हो कि ये नॉर्मल है या नहीं। नॉर्मल वेजाइनल डिस्चार्ज थोड़ा गाढ़ा, चिपचिपा होता है और ये क्रीमी, सफेद या ट्रांसपेरेंट भी हो सकता है। ये काफी हद तक अंडे के सफेद भाग जैसा भी दिखाई देता है।

आपके पीरियड्स के दिनों में ये थोड़ा और भी गाढ़ा हो सकता है। अगर आपका डिस्चार्ज बिना किसी रंग का, क्रीमी सफेद या हल्का ग्रे रंग का है, तो भी यह नॉर्मल है।
इसके सिवा कोई भी और रंग का डिस्चार्ज एब्नॉर्मल है।

एब्नॉर्मल वेजाइनल डिस्चार्ज कैसा होता है?

1) लाल रंग का डिस्चार्ज – अगर आपका डिस्चार्ज लाल रंग का है, तो ये बताता है कि आपके पीरियड्स आने वाले है। पर यदि आपको रेड डिस्चार्ज नॉर्मली भी हो रहा है, जो आपके मेंस्ट्रुअल साइकिल के आसपास भी नहीं है, तो ये कोई इंफेक्शन या इंजरी हो सकती है। आपको अपने गाइनेकोलॉजिस्ट से बात करनी चाहिए।

2) भूरे रंग का डिस्चार्ज – यदि आपको भूरे रंग का डिस्चार्ज पीरियड्स से बिल्कुल पहले या बाद में हो रहा है, तो ये नॉर्मल है। क्योंकि आपका पीरियड ब्लड डिस्चार्ज के साथ मिल जाता है तो ये भूरे रंग का दिखाई देता है। यदि आपको
नॉर्मल दिनों में ऐसा डिस्चार्ज हो रहा है तो तुरंत अपने डॉक्टर से संपर्क करें।

इसके अलावा यदि कोई भी और रंग का डिस्चार्ज आपको हो रहा है, तो ये कोई गंभीर समस्या का संकेत है। जैसे यदि आपका डिस्चार्ज हरे या पीले रंग का है, तो आपको कोई सेक्शुअली ट्रांसमिटेड इंफेक्शन (STIs) भी हो सकता है।

अगर आपके डिस्चार्ज में से कोई फ्रूटी खुशबू आ रही है या ये दही जैसा सफेद है, तो आपको फंगल इंफेक्शन भी हो सकता है और आपको बहुत खुजली भी होगी। ऐसे केस में जल्द अपने डॉक्टर के पास जाएं।

वेजाइनल डिस्चार्ज की स्मेल कैसी होनी चाहिए?

अगर आपको अपने डिस्चार्ज में से कोई अलग स्मेल आ रही है या उसकी स्मेल अमोनिया या रॉ मछली जैसी है, तो अपने डॉक्टर को तुरंत बताएं क्योंकि इसका मतलब है कि आपके वजाइना का pH लेवल बदल गया है।

अपने गाइनेकोलॉजिस्ट से इन स्थितियों में संपर्क करें जब,

• वजाइना में खुजली आए
• बर्निंग हो रही है
• वजाइना से अजीब सी बदबू आ रही है
• बहुत ज्यादा डिस्चार्ज होने पर
• डिस्चार्ज बिल्कुल नहीं होने पर

Disclaimer – यदि आपको किसी विशिष्ट सलाह की आवश्यकता है, तो कृपया डॉक्टर से परामर्श करें ।

Email us at connect@shethepeople.tv