न्यूज़

केरल की पहली महिला शिकारी थ्रेस्या थॉमस ने 87 वर्ष की उम्र में अंतिम सांस ली

Published by
Ayushi Jain

केरल की पहली महिला शिकारी थ्रेस्या थॉमस, जिन्हें शिकारी कुट्टीम्मा भी कहा जाता है, का सोमवार,19 अगस्त को बढ़ती उम्र से संबंधित बीमारी के कारण उनका  निधन हो गया। वह 87  वर्ष की थीं।

अंतिम संस्कार मंगलवार को दोपहर 3 बजे कोट्टायम के सेंट एंटनी चर्च कब्रिस्तान में होगा। राज्य में वन अधिनियम लागू होने से पहले उन्होंने केरल के इडुक्की जिले में अंचुनद वन पर अपनी बंदूक से बहुत जानवरो का शिकार किया।

कुटियम्मा कर्नाटक में एक कान्वेंट में एक नन बनने के लिए शामिल हुई थीं, लेकिन उस समय केरल में एक जानवर ने उनके भाई पर हमला किया। वह गंभीर रूप से घायल हो गया और उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया।

यह खबर सुनकर कुट्टीम्मा अपने भाई से मिलने अस्पताल पहुंची। उनका परिवार आर्थिक रूप से स्थिर नहीं था, वे अस्पताल में बिलों का भुगतान करने में असफल रहे। हालांकि, अस्पताल के अधिकारियों ने कहा कि पैसे के बजाय, जंगली जानवरों का मांस बिल के रूप में पर्याप्त काफी होगा।

यह सुनकर, कुट्टीम्मा ने जंगल में जाकर एक बाइसन को गोली मार दी, जिसका वजन 800 किलोग्राम था। बाद में उसने बाइसन को टुकड़ों में काट लिया और उन्हें अस्पताल के अधिकारियों को दे दिया। तभी से कुट्टीम्मा की शिकारी की नौकरी शुरू हुई। उसके बाद उनकी शादी थॉमस से हुई, जो श्रीलंका के हैं। तब से, यह कपल एक साथ शिकार यात्रा पर जाते थे।

जल्द ही, जंगली जानवरों का शिकार सरकार के ध्यान में आया, और उन्होंने कुट्टीम्मा को शिकार करने से मना करने का निर्णय लिया। उस समय, उनके पास 17 एकड़ जमीन थी। तत्कालीन सरकार ने 1993 में उनकी जमीन पर कब्जा कर लिया और उसे मुआवजा देने का वादा किया।

2005 में, उन्होंने केरल हाई कोर्ट का दरवाजा खटखटाया, जिसमें कहा गया था कि उन्हें कोई मुआवजा नहीं दिया गया था। बाद में 2006 में, अदालत ने उन्हें ब्याज सहित 45 लाख रुपये का भुगतान करने का आदेश दिया। खबरों के मुताबिक, उन्हें केवल 29 लाख रुपये मिले। 2013 में, उन्होंने फिर से अदालत का रुख किया, और उन्हें पूरी राशि मिली।

इसके बाद, कुटियाम्मा कोट्टिराप्पल्ली, कोट्टायम में अनक्कालु में चले गए। वह पिछले कुछ वर्षों से याददाश्त भूलने जैसी बीमारी से पीड़ित थी। उनके परिवार में बेटे वीटी थॉमस और बहू शर्लिन जोसेफ हैं।

Recent Posts

रानी रामपाल: कार्ट पुलर की बेटी ने भारत को ओलंपिक में एक ऐतिहासिक जीत दिलाई

भारतीय महिला हॉकी टीम ने सोमवार (2 अगस्त) को तीन बार की चैंपियन ऑस्ट्रेलिया को…

8 hours ago

टोक्यो ओलंपिक: गुरजीत कौर कौन हैं ? यहां जानिए भारतीय महिला हॉकी टीम की इस पावर प्लेयर के बारे में

मैच के दूसरे क्वार्टर में गुरजीत कौर के एक गोल ने भारतीय महिला हॉकी टीम…

8 hours ago

मंदिरा बेदी ने कहा जब बेटी तारा हसने को बोले तो मना कैसे कर सकती हूँ?

मंदिरा ने वर्क आउट के बाद शॉर्ट्स और टॉप में फोटो शेयर की जिस में…

8 hours ago

क्रिस्टीना तिमानोव्सकाया कौन हैं? क्यों हैं यह न्यूज़ में?

एथलीट ने वीडियो बनाया और इसे सोशल मीडिया पर साझा करते हुए कहा कि उस…

9 hours ago

लखनऊ कैब ड्राइवर मारपीट वीडियो : DCW प्रमुख स्वाति मालीवाल ने UP पुलिस से जांच की मांग की

लखनऊ कैब ड्राइवर मारपीट वीडियो मामले में दिल्ली महिला आयोग (DCW) की प्रमुख स्वाति मालीवाल…

10 hours ago

स्टडी में सामने आया कोरोना पेशेंट के आंसू से भी हो सकता है कोरोना

कोरोना की दूसरी लहर फिल्हाल थमी ही है और तीसरी लहर के आने को लेकर…

10 hours ago

This website uses cookies.