तिब्बत के आध्यात्मिक गुरु दलाई लामा ने महिलाओं पर दिए अपने बयान पर माफ़ी माँगी है । गुरूवार को धर्मशाला में एक पत्रकार को एक इंटरव्यू देते हुए उन्होंने कहा था की अगर कोई महिला दलाई लामा बनाना चाहती है तो उसे आकर्षक होना चाहिए । अब उनके निजी कार्यालय से माफ़ी मांगते हुए यह बयान सामने आया है की वह मज़ाक कर रहे थे । उन्होंने इसलिए माफ़ी माँगी है क्योंकि उनके इस बयान से लोगो की भावनाओं को ठेस पहुंची है ।

image

उन्होंने माफ़ी मांगते हुए कहा की मैंने जो कहना चाहता लोग वो समझ नहीं पाए और मेरी बात का अलग मतलब निकाला गया ।

कुछ बातो को किसी और तरीके से कहा जाता है और उनका मतलब अलग होता हैं। मजाकिया बात जब किसी एक भाषा से दूसरी भाषा में कही जाती है तो वो अपना हास्य खो देती है। दलाई लामा को इस बात से बेहद दुःख हुआ है। दलाई लामा ने पूरे जीवन में महिलाओं को वस्तु मानने वाले विचारों का विरोध किया है और महिला-पुरुष समानता का समर्थन किया है। दलाई लामा महिलाओं की तहे दिल से इज़्ज़त करते है ।

पिछले गुरुवार को एक पत्रकार ने दलाई लामा से पूछा की क्या उनकी उत्तराधिकारी एक महिला हो सकती है तो उन्होंने कहा था की उसे इसके लिए आकर्षक होना चाहिए जिससे लोग बहुत दुखी हुए और लोगो ने इसका विरोध किया जिसके बाद दलाई लामा ने लोगो से माफ़ी मांगते हुए यह कहा की वह मज़ाक कर रहे थे ।

एक इंटरव्यू के दौरान उनसे एक पत्रकार ने उनसे पूछा गया था कि क्या उनका उत्तराधिकारी एक महिला हो सकती है? तो इस पर उन्होंने हंसते हुए कहा था कि उसे आकर्षक होना चाहिए। दलाई लामा कार्यालय के मुताबिक, इसी इंटरव्यू में वहाँ आये शरणार्थियों के बारे में भी कही बातो को ठीक से लोगो के सामने नहीं लाया गया । दलाई लामा जो कहना चाहते थे वह ठीक से नहीं समझा गया है ।

Email us at connect@shethepeople.tv