पाँच महिलाओं से जानिए उनकी पसंदीदा नारीवादी किताबें

Published by
STP Hindi Editor

किताबें मनुष्य के जीवन का एक बहुत ही महत्वपूण हिस्सा हैं. एक अछि किताब पढ़ना बहुत ज़रूरी है क्योंकि वह हमें बौद्धिक बनाती हैं और हमारी मूर्खता को दूर करती हैं. मुझे याद है जब मैंने स्कूल के समय जेन आयर पढ़ने के लिए उठायी थी. मुझे वह किताब मेरे दोस्त ने मेरे जन्मदिन पर दी थी.

उससे पड़ना आसान था और मैंने उससे एक बार में पड़ के ही सांस ली. उससे एक रोमांस या गोथिक नॉवल की तरह दर्शाया जाता है. परंतु मेरे लिए, वह पहली ऐसी फेमिनिस्ट किताब है जो मैंने पड़ीं थी. किताब की नायिका के दिमाग में शादी का प्रश्न कभी नहीं था. वह एक पुरुषवादी समाज में अपनी छाप छोड़ना चाहती थी. उनके अनुसार सब लोगो को उन्हें एक ऐसे इंसान की तरह देखा जाना चाहिए जिसमें उतनी ही अन्त: मन है जितना किसी अन्य मनुष्य में.

पाँच महिलाओं से जानिए उनकी पसंदीदा नारीवादी किताबें

जेन एयर के कारण मैंने और भी फेमिनिस्ट नोवेल्स पड़ीं जैसे कलर पर्पल, पैलेस ऑफ़ इलुशन्स, थे हैंडमेडस टेल, रूम ऑफ़ वंस ओन और अन्य और नॉवल. परंतु जेन एयर की मेरे दिल में एक विशेष स्थान रहेगी.

मैंने अपने दोस्तों से पूछा की उनकी अभी तक की सबसे अच्छी फेमिनिस्ट नॉवल कोण सी रही है, और उनके यह उत्तर थे-

मेरी सबसे प्रिय किताब है ” ई ऍम मलाला” बी मलाला यौसफ्ज़ाई. इस किताब में एक बहुत ही छोटी आयु की लड़की की कहानी बताई है जिसने दुनिया की लड़कियों की ओर दृष्टि बदलनी चाही. यह एक वास्तविक जीवन की कहानी है. वह हमें समझती है की वह घटना हम में से किसी के साथ भी हो सकती थी. यह इस किताब को और भी सशक्त बनाती है.

ऐलिस वॉकर के द्वारा लिखित कलर पर्पल मेरी फवौरिते बुक है क्योंकि इस नॉवल में नायिका को लिखने की अनुमति दी गयी. यह खुद में एक बहुत ही फेमिनिस्ट बात है. – मोनिका शिवमूर्ति

मेरी पसंदीदा किताब है – पैलेस ऑफ़ इलुशन्स जो चित्र बनर्जी दिवकुरनी ने लिखी है. यह किताब महाभारत की कहानी द्रौपदी की दृष्टि से दिखती है . इससे एक नारी की दृष्टि का भी पता चलता है- शालिनी राजवंशी

मैं कहूँगी की ” नॉट दैट काइंड ऑफ़ गर्ल” मेरी पसंददीता किताब है. इसमें दुनहम ने दर्शाया है की कैसे मनुष्य के अनुभव उसका दुनिया में उसके अस्तित्व के निर्माण में मदद करते हैं. किसी से पाय करना, अकेलापन महसूस करना, पौष्टिक भोजन खाने के बाद भी ओवेरवेइट होना और यह मानना की उनकी कहानी लोगों तक पहुँचने के लायक है. इस नॉवल की कहानी प्रत्येक महिला की जंग को दर्शाती है. हर कोई इससे फेमिनिज्म की सीख ले सकता है- अनीशा

क्या मैं कह सकती हूँ की मेरी पसंददीदा किताब ” ऐनी ऑफ़ थे ग्रीन गेबल्स है” ? यह किताब लूसी माउद मोंट्गोमेरी ने लिखी है. अन्न एक अनाथ है जिससे एक परिवार ने अडॉप्ट किया है. मुझे यह इसलिए पसंद है क्योंकि इसमें वह हमेशा अपने विचारों पर विश्वास करती थी और उनके लिए लड़ भी सकती थी. उसकी भूमिका ने मुझपर एक गहरा प्रभाव छोड़ा है– अनुप्रिया चटर्जी

मेरी पसंददीदा किताब “पैलेस ऑफ़ इलुशन्स”. इस किताब में महाभारत द्रौपदी की दृष्टि से लिखी गयी है. यह किताब द्रौपदी की भूमिका को ज्यादा महत्व देती है. महाभारत की अभी तक की व्याख्या एक पुरुषवादी आवाज़ में हुई है पर इस किताब के द्वारा हम द्रौपदी के बारें में काफी कुछ पड़ पाएं. – निकिता नारंग.

” अमेरिकानाह”, जो चिमानन्द मगोज़ी ने लिखी है, यह एक महँ फेमिनिस्ट किताब है”. यह एक महिला की यात्रा के बारें में है जो अमेरिका में अपनी पढ़ाई पूरी करने के लिए घर छोड़ देती है. जिस तरह से वह एक नयी जगह पर अपना अस्तित्व और पहचान बनाती है, यह मुझे बहुत पसंद आया. – बुशरा जन्नत

 

Recent Posts

श्रद्धा कपूर के बारे में 10 बातें

1. श्रद्धा कपूर एक भारतीय एक्ट्रेस और सिंगर हैं। वह सबसे लोकप्रिय और भारत में…

1 hour ago

सुष्मिता सेन कैसे करती हैं आज भी हर महिला को इंस्पायर? जानिए ये 12 कारण

साल 1994 में सुष्मिता सेन ने भारत के लिए पहला "मिस यूनिवर्स" खिताब जीता था।…

1 hour ago

केरल रेप पीड़िता ने दोषी से शादी की अनुमति के लिए SC का रुख किया

केरल की एक बलात्कार पीड़िता ने शनिवार को सुप्रीम कोर्ट का रुख कर पूर्व कैथोलिक…

4 hours ago

टोक्यो ओलंपिक : पीवी सिंधु सेमीफाइनल में ताई जू से हारी, अब ब्रॉन्ज़ मैडल पाने की करेगी कोशिश

ओलंपिक में भारत के लिए एक दुखद खबर है। भारतीय शटलर पीवी सिंधु ताई त्ज़ु-यिंग…

4 hours ago

वर्क और लाइफ बैलेंस कैसे करें? जाने रुटीन होना क्यों होता है जरुरी?

वर्क और लाइफ बैलेंस - बहुत बार ऐसा होता है जब हम अपने काम में…

4 hours ago

योग क्यों होता है जरुरी? जानिए अनुलोम विलोम करने के 5 चमत्कारी फायदे

अनुलोम विलोम करने से अगर आपके फेफड़ों में किसी तरह की कोई विषैली गैस होती…

5 hours ago

This website uses cookies.