भागलपुर : जिस कोर्ट में पिता थे चपरासी, उसी कोर्ट में बेटी बनी जज

Published by
STP Hindi Editor

भागलपुर की इस लड़की की कहानी आपको यह विश्वास दिलाती है कि परिश्रम करने से सब कुछ हासिल हो सकता है. जुली ने हाली में न्यायिक सेवा परीक्षा दी और उसमें वो सफल हो गयी हैं. अब वह उसी अदालत में जज बन गयी हैं जहाँ उनके पिता जगदीश शाह ने लम्बे समय तक चपरासी की नौकरी कर चुके हैं.

साल 2013 में उनके पिता उस सिविल कोर्ट से रिटायर हो चुके थे. जुली ने अपने भविष्य को उज्जवल बनाने के साथ साथ अपने पिता के सपने को भी साकार किया. जुली को परिणाम के विषय में बुधवार को ही पता चला.

पढ़िए : मिलिए आंड्ररा तंशिरीन से – हॉकी विलेज की संस्थापक

परन्तु दुःख की बात यह है कि जुली अपने पिता के साथ यह खबर बाँट भी नहीं सकती. ऐसा इसलिए है क्यूंकि जुली के पिता जगदीश साह जवाहरलाल नेहरू भागलपुर मेडिकल कालेज अस्पताल के आईसीयू में भर्ती है. डॉक्टरों ने घरवालों को उनसे बात करने से मना कर रखा है क्योंकि उन्हें आराम की जरूरत है. गुरुवार को उनकी हालत ज्यादा बिगड़ने के कारण, डॉक्टरों के मुताबिक आज शाम तक उन्हें दूसरे शहर रेफर किया जाएगा.

जुली ने बताया कि गवर्नमेंट हाईस्कूल से 2004 में मैट्रिक इम्तहान पास करने के बाद शहर के ही झुनझुनवाला कालेज से उन्होंने आईकॉम की पढ़ाई की. उसके बाद टीएनबी ला कालेज से कानून की पढ़ाई कर 2011 में डिग्री हासिल की.

पढ़िए : जानिए बीना राव हजारों बच्चों की जिंदगी कैसे बदल रहे हैं

जुली की पढ़ाई के दौरान ही 2009 में शादी हो गई थी. उनके पति दिल्ली में एक निजी फर्म में नौकरी करते हैं. मगर पढ़ाई की लगन की वजह से जुली ने इसी साल मार्च में हुई न्यायिक सेवा परीक्षा दी और उन्हें कामयाबी हासिल हुई.

परन्तु जुली इस बात से हताश हैं कि वह अभी तक यह खुशखबरी अपने पिता को अब तक नहीं सुना पाई हैं.

जुली जैसी लड़कियां इस बात का उदाहरण हैं कि मेहनत और लगन का परिणाम हमेशा मीठा ही होता है. हम ऐसी लड़कियों और उनके सफलता प्राप्त करने के प्रयासों की सराहना करते हैं.

पढ़िए : जानिए किस प्रकार अपने भोजन के जूनून को इंदरप्रीत नागपाल ने अपने अचार के व्यवसाय में बदला

Recent Posts

Karwa Chauth 2021: करवा चौथ की सरगी और पूजा की थाली तैयार करने का सही तरीका

करवा चौथ का त्यौहार इस साल 24 अक्टूबर को देशभर में रखा जाएगा। इस त्यौहार…

2 hours ago

Afternoon Nap? दोपहर में सोने के फायदे और नुकसान

 मानव शरीर के लिए जितना जरूरी पौष्टिक आहार होता है उतनी ही जरूरी 8-9 घंटे…

2 hours ago

How to Manage Periods On Wedding Day: कैसे हैंडल करें पीरियड्स को शादी के दिन?

पीरियड्स कभी भी बता कर नहीं आते इसलिए कुछ लड़कियों की शादी और पीरियड्स की…

2 hours ago

Benefits Of Sitafal: किन बीमारियों के लिए सीताफल एक औषधि की तरह काम करता है?

सीताफल को कस्टर्ड एप्पल और शरीफा भी कहते हैं। सीताफल में उच्च मात्रा में न्यूट्रिएंट्स…

2 hours ago

This website uses cookies.