भारतीय शिक्षा प्रणाली को सुधारने के लिए रोशनी मुखर्जी का प्रयास

Published by
STP Hindi Editor

क्या आपका बेटा अपने गणित के सवालों से परेशान है? क्या भौतिकी के नियम उसे उलझा देते हैं? रोशनी मुखर्जी, बेंगलुरू की एक शिक्षक ने गणित, रसायन विज्ञान, भौतिकी और जीवविज्ञान की अवधारणाओं को समझने में छात्रों की सहायता करने के लिए एक वेबसाइट – एग्जामफियर.कॉम – को लॉन्च करके इस समस्या का समाधान निकाला है।

“मैं आईटी उद्योग में क्वालिटी एनालिस्ट के रूप में काम करती थी, जब मेरी रुचि शिक्षा क्षेत्र की ओर बढ़ गई,” वह कहती हैं ये बताते हुए कि उनको ये विचार कैसे आया।

“मैं शिक्षण के प्रति काफी उत्साहित थी और शिक्षण विधियों में सुधार के एक विशाल दायरे को समझ सकती थी । छोटे गांवों और कस्बों में अच्छे अध्यापकों और अच्छे स्कूलों की कमी ने मुझे ऑनलाइन वीडियो बनाने के लिए प्रेरित किया, जिससे मुझे जनता तक पहुंचने में मदद मिली।”

पढ़िए: गौरी पराशर जोशी: आईएएस अधिकारी जिन्होंने हिंसा से पंचकूला को बचाया

“एग्जामफियर फिलहाल कक्षा VI-XII के छात्रों के लिए वीडियो पर केंद्रित है। उसमें 5200 से अधिक वीडियो, 7,000 प्रश्न उत्तर सहित और 2,000 से अधिक परीक्षण श्रृंखलाएं मौजूद हैं ” रोशनी कहतीं हैं, जिन्होंने 2011 में वेबसाइट शुरू की थी।

कठिनाइयों के विषय में बात करते हुए

लेकिन यहां तक पहुंचना खुद में ही एक संघर्ष था “अपनी आकर्षक नौकरी छोड़ना एक कठिन निर्णय था। मुझे पता था कि मेरी वित्तीय स्वतंत्रता खत्म हो जाएगी, लेकिन शिक्षा व्यवस्था को सुधारने की मेरी इच्छाशक्ति और मेरे आत्मबल ने मुझे आगे बढ़ते रहने की प्रेरणा दी। लोग मेरा मज़ाक बना रहे थे क्योंकि उन्हें ऐसा लग रहा था कि मैं अपनी ऊर्जा और समय को बहुत ही नीरस कार्य में निवेश कर रही हूँ। परन्तु उनमें से कोई भी मुझे विचलित नहीं कर सका। और आज मैं गर्व से कह सकती हूँ कि मेरी लगभग 10 लोगों की एक टीम है जो मेरी सोच में उतना ही विश्वास रखती है जितना की मैं खुद। विभिन्न टीम के सदस्य वेबसाइट के विभिन्न मॉड्यूल पर काम करते हैं। कुछ वीडियो शूटिंग और संपादन में भी शामिल हैं। ”

पढ़िए : मिलिए आंड्ररा तंशिरीन से – हॉकी विलेज की संस्थापक

उनके पहले कुछ वीडियो ने जनता से बहुत समर्थन और प्रशंसा प्राप्त की। वह याद करती हैं,

“कुछ ही वीडियो अपलोड किए जाने के तुरंत बाद, मेरे चैनल को दुनिया भर के छात्रों, माता-पिता और शिक्षकों से सराहना मिली”

पढ़िए : एक नए अंदाज़ के साथ घर की सजावट करती प्रेरणा दुगर से मिलिए

रोशनी अपने छात्रों की सुविधा के लिए 4-कदम की प्रक्रिया का पालन करती हैं। एक विषय को समझने के लिए वीडियो, प्रश्न पूछने, नोट्स देने और अंत में एक अवधारणा के बारे में छात्र की समझ का मूल्यांकन करने के लिए वीडियो हैं।

उपलब्धियां

रोशनी का यह गुणवत शिक्षा प्रदान करने का प्रयास सरकार द्वारा अनदेखा नहीं रहा है। वह महिला और बाल विकास मंत्रालय द्वारा दिए गए 100 महिला अचीवर्स अवॉर्ड की प्राप्तकर्ता हैं। मार्च 2016 में उन्हें टेडएक्स स्पीकर के रूप में भी आमंत्रित किया गया था।

रोशनी बहुत व्यावहारिक वीडियो बनाने की योजना रखती हैं जो छात्रों को विज्ञान के प्रयोगों के एक्सपेरिमेंट्स करने के लिए मार्गदर्शन करेंगी। वह बच्चों के कैरियर को आकार देने के लिए परामर्श वीडियो भी शामिल करेंगी। एक ऐसे देश में जहां लड़कियों को शिक्षित होने से हतोत्साहित किया जाता है, एक शिक्षित महिला क्या हासिल कर सकती है, रोशनी उसका एक उपयुक्त उदाहरण हैं।

पढ़िए : “इनोवेशन एन्त्रेप्रेंयूर्शिप का दिल है” – सुरभि देवरा

Recent Posts

जिया खान के निधन के 8 साल बाद सीबीआई कोर्ट करेगी पेंडिंग केस की सुनवाई

बॉलीवुड लेट अभिनेता जिया खान के मामले में सीबीआई कोर्ट 8 साल के बाद पेंडिंग…

12 mins ago

दृष्टि धामी के डिजिटल डेब्यू शो द एम्पायर से उनका फर्स्ट लुक हुआ आउट

नेशनल अवॉर्ड-विनिंग डायरेक्टर निखिल आडवाणी द्वारा बनाई गई, हिस्टोरिकल सीरीज ओटीटी पर रिलीज होगी। यह…

1 hour ago

5 बातें जो काश मेरी माँ ने मुझसे कही होती !

बाते जो मेरी माँ ने मुझसे कही होती : माँ -बेटी का रिश्ता, दुनिया के…

2 hours ago

पूजा हेगड़े ने किया करीना को सपोर्ट सीता के रोल के लिए, कहा करीना लायक हैं

पूजा हेगड़े ने कहा कि करीना ने वही माँगा है जो वो डिज़र्व करती हैं।…

2 hours ago

मंदिरा बेदी ने राज कौशल के लिए पूजा की फोटोज़ बच्चों के साथ शेयर की

राज कौशल को गए एक महीना हो गया है। आज मंदिरा अपने घर पर एक…

3 hours ago

CBSE Class 12 Result: लड़कियों ने इस साल भी 0.54 प्रतिशत के अंतर से लड़कों को पीछे छोड़ा

बोर्ड के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, "लड़कियों ने लड़कों से 0.54 प्रतिशत बेहतर प्रदर्शन…

3 hours ago

This website uses cookies.